ईवीएम पर नहीं है कांग्रेस को यकीन : कर रहे हैं रखवाली रात-दिन

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

डर है कि सेंधमारी हो न जाए कहीं..टेन्ट लगा कर  कांग्रेसी उम्मीदवार स्ट्रांग रूम की निगरानी में लगे हैं..

ये समाचार छत्तीसगढ़ से चल कर आया है. वहां विधानसभा चुनाव के वोट डाले जा चुके हैं. लेकिन यहां दो सीटें ऐसी भी हैं जहां कांग्रेसियों को खुल्लेआम डर है कि ईवीएम में अब भी गड़बड़ी हो सकती है.

ये दो विधानसभा सीटें हैं छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के केशकाल और कोंडागांव की. सर्दी छत्तीसगढ़ की मशहूर है. और सर्दियों ने यहां धावा बोल भी दिया है. किन्तु कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सर्दी से डर नहीं लगता, गड़बड़ी से लगता है. मतलब ये कि उनको आशंका है कि यहां स्ट्रांग रूम में भाजपा सेंध लगा सकती है और वोटों में हेर-फेर कर सकती है. ऐसा न सके इसको सुनिश्चित करने के लिए इन कार्यकर्ताओं ने ईवीएम के बूथों के सामने टेंट लगा कर बाकायदा घर बसा लिया है.

वैसे कोंडागांव जिले के केशकाल और कोंडागांव विधानसभा सीट के चुनावों के बाद EVM मशीन को स्ट्रांग रूम में जमा कराकर सील किया जा चुका है. प्रशासन के द्वारा स्ट्रांगरूम में कोई अनधिकृत हरकत न हो सके इसके लिए भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. फिर भी कांग्रेस के उम्मीदवारों का दिल है कि मानता नहीं. इन्हें अभी भी डर सत्ता रहा है कि कहीं सेंधमारी न हो जाए.

इन दोनों विधानसभा सीटों के उम्मीदवार कड़कती सर्दी में यहां डटे हुए हैं. मोहन मरकाम और सन्त नेताम स्ट्रॉन्ग रूम की रखवाली स्वयं कर रहे हैं. पूछने पर वे बताते हैं कि हमें डर है कि इतनी सुरक्षा के बाद भी ईवीएम के साथ छेड़छाड़ हो सकती है. और इसलिए हम इसकी निगरानी कर रहे हैं.

(पारिजात त्रिपाठी)