उत्तराखंड निकाय चुनाव : भाजपा सबसे आगे

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

भाजपा -34, कांग्रेस -26, निर्दलीय -23 और बसपा – 1

उत्तराखंड में जनता ने भारतीय जनता पार्टी पर फिर से विश्वास दिखाया है. इससे स्पष्ट है कि मुख्यमंत्री त्रिवेदी की छवि और भी निखार कर सामने आई है और उनके द्वारा किये जा रहे कार्यों को जनता का समर्थन प्राप्त हुआ है.

हाल ही में उत्तरखंड में शहरी निकाय के चुनाव सम्पन्न हुए हैं जिनमें मतगणना के उपरान्त भाजपा सर्वोच्च स्थान पर रही है. भाजपा ने जहां 34 सीटें जीती हैं वहीं द्वितीय स्थान पर रही कांग्रेस के खाते में 26 सीटें आई हैं जबकि 23 निर्दलीय प्रत्याशियों ने भी विजयश्री का वरण किया है. बहुजन समाज पार्टी ने भी एक सीट जीत कर इस पहाड़ी प्रदेश में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है.

उत्तराखंड में बीते रविवार 18 नवम्बर को को हुए शहरी निकाय चुनाव के परिणाम आ चुके हैं. 84 शहरी निकायों में से 83 के परिणाम अभी तक सामने आये हैं. ये सभी सीटें मेयर या चेयरमैन के पदों की हैं.

अब यदि हम पार्षदों की सीटों की बात करें तो कुल 1064 पार्षदों में से 1022 पर परिणाम सामने आ गए हैं. यहां भी सबसे आगे भाजपा ही रही है जिसने 303 सीटें जीत कर कांग्रेस से लगभग दुगनी सीटों की बढ़त बनाई है. कांग्रेस को 165, बसपा को 4 और आम आदमी पार्टी को 2 सीटों पर विजय प्राप्त हुई है..

कमाल की बात इस बार जो देखने में आई है वह निर्दलीय उम्मीदवारों पर जनता द्वारा जताया गया भरोसा है. निर्दलीय प्रत्याशियों ने कुल 546 सीटों पर विजय प्राप्त की है.

मेयर और चेयरमैन पदों ज़ोर आजमाइश काफी दर्शनीय है. अब तक मिले परिणामों के अनुसार 84 में से 19 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी का अधिकार हो चुका है. कांग्रेस ने काफी अच्छी कोशिश की है और उसे उम्मीद से अधिक 12 सीटें हासिल हुई हैं. निर्दलीय प्रत्याशियों ने कांग्रेस को अच्छी टक्कर दी है और 11 सीटें जीत ली हैं.

(भुवन चंद्र भट्ट)

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति