रानी बोलीं – कांग्रेस ने अब तक नहीं सुनी अब क्या सुनेगी!

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

राजस्थान में चुनावी हाल भाजपा के लिए बहुत आशाजनक समाचार नहीं दे पा रहे हैं. रानी को प्रजा की प्रसन्नता का अनुमान नहीं हो पा रहा है. इस स्थिति ने पार्टी को प्रदेश में आशंकित कर रखा है. विपक्ष यहां शक्तिशाली नहीं है पर अपना पहलवान यदि कमज़ोर हो जाये तो दंगल क्या करेगा!

राजस्थान की रानी को अब मजबूरन अपनी बात छोड़ कर परायों की बात तोड़ने का विकल्प बेहतर लग रहा है. वसुंधरा राजे कांग्रेस पर हल्ला बोल रही हैं. जब पिछले सत्तर सालों में कांग्रेस ने जनता की नहीं सुनी तो अब क्या सुन लेगी? बात तो सही कह रही हैं पर यही बात उन पर भी लागू हो रही है.

राजस्थान की मुख्यमंत्री पाली जिले के रणकपुर में दूसरे दिन रायशुमारी कार्यक्रम में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहीं थीं. वहां उन्होंने अपने भाषण में आगे कहा- ये तो पक्की बात है कि कांग्रेस को जनता मौका नहीं देगी.

वसुंधरा राजे के प्रथम वाक्य में जहां उनकी असुरक्षा का भाव दीखता है वहीं दूसरे वाक्य में उन्होंने अपने आत्मविश्वास को कायम करने की कोशिश की है. पर वे ये नहीं जानती शायद कि एक बार जनता नाराज़ हो जाती है तो राजा महराजा भी सड़क पर आजाते हैं. विशेषकर प्रजातंत्र में तो राजशाही लोकशाही की दम पर ही अस्तित्वमान रह सकती है.

भाजपा के रायशुमारी कार्यक्रम के अंतर्गत जालौर, सिरोही, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, जोधपुर, जैसलमेर एवं बाड़मेर जिले के 35 विधानसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं से राय शुमारी की गई. इस दौरान भाषण देते हुए वसुंधरा ने लोगों को आश्वस्त किया कि भाजपा शक्ल, जात और अपनी पंसद के आधार पर नहीं, बल्कि टिकट उसे देगी जिसे जनता और कार्यकर्ता चाहेंगे. जिसकी जनता में छवि अच्छी होगी और जो जीतेगा.

रानी बोलीं कि कांग्रेस के नेता भामाशाह योजना को बंद कराना चाहते थे पर अब उनके सुर बदल गए हैं वे अब कहते हैं भाजपा सरकार की सभी अच्छी योजनाओं को लागू रखेंगे. इसका अर्थ तो यही है कि हमारी योजनाएं अच्छी हैं और हमारा काम अच्छा है. जब सब अच्छा है तो फिर जनता कांग्रेस को वोट देने की भूल क्यों करेगी?

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के पिछली सरकारों और उसके मंत्रियों के जनता के लिए कभी कुछ नहीं करना चाहा. जब उनकी सरकार ने 50 सालों तक जनता की नहीं सुनी अब इसकी क्या गारंटी है कि वह जनता की सुनेगी.

पाली जिले के रणकपुर में दूसरे दिन रायशुमारी कार्यक्रम में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए वसुंधरा राजे ने कहा कि कांग्रेस ने 50 साल का शासन बातें करके ही निकाल दिया. अब जनता समझ चुकी है, उसे बातें नहीं, काम चाहिए.

वसुंधरा का कहना था कि केवल भाजपा सरकार ही है जो लोगों की सुनवाई कर उनका दुख-दर्द हरती है. प्रदेशवासियों और कार्यकर्ताओं के पास जाकर उनकी राय से बजट बनाती है और उनकी मांग के आधार पर ही विकास के काम करवाती है. इतना ही नहीं चुनाव के टिकट भी जनता से राय लेकर ही देती है. लेकिन कांग्रेस तो सिर्फ बातें और झूठे वादे करने में स्मार्ट है, काम करने में नहीं.

(पारिजात त्रिपाठी)

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति