‘वाइरस’ ज़िंदा है

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

बगदादी का वारिस ज़िंदा है. बगदादी के नए वारिस का ऐलान हो गया है. आतंक का नया चेहरा आ गया है सामने. आइसिस ने अपने नए खलीफा के नाम का ऐलान कर दिया है.

आईएसआईएस का एक कुख्यात छोटा लीडर अब्दुल्ला कर्दाश बगदादी जैसा क्रूर था. बगदादी ने उसको अपना वारिस घोषित कर दिया था. लेकिन अमरीकी कमांडोज़ ने उसे पहले ही निपटा दिया था. लेकिन इन कमांडोज़ को ये नहीं पता था कि बगदादी ने अपना एक वारिस और भी तैयार किया है.

बगदादी के दुसरे वारिस को कमांडोज़ निपटा नहीं सके और वो अब बगदादी के बाद गैंग का सरदार बन गया है. आते ही जो सबसे पहला काम उसने किया है वो ये कि उसने सीधी धमकी भेज दी है अमेरिका को कि अब इंतकाम लिया जाएगा. इस्‍लामिक स्‍टेट के इस नए बॉस का नाम है अबू इब्राहिम अल हाशिमी अल कुरैशी.

दो बड़े ज़ालिमों को हलाक कर दिया है अमरीका ने. सीरिया में अबू बकर बगदादी और उसके पहले अब्‍दुल्‍ला कर्दाश को हलाल कर दिया गया है. लेकिन जिहाद के नाम पर जरायम करने वाली गैंग ने अपना नया सरदार ढूंढ लिया है जो अपने से पहले वालों से किसी भी हालत में काम दरिंदा नहीं है.

अबू इब्राहिम अल हाशिमी अल कुरैशी के नाम की घोषणा आईएसआईएस के प्रवक्ता अबू हमजा अल कुरैशी ने कर दी है. कम से कम इस घोषणा से ये तो तय हो गया है कि इस बार कुख्यात बगदादी सच में ही जहन्नुम पहुंचा दिया गया है.

आईएसआईएस गैंग अपनेआप को आधुनिक करने और अपडेटेड रखने में किसी तरह पीछे नहीं है. इस तथ्य का अनुमान आप इस बात से ही लगा सकते हैं कि बाकायदा इसके प्रवक्ता भी हैं और इसकी मीडिया शाखा भी है. इस मीडीया शाखा ने ही एक आडियो वक्तव्य जारी करके अपने नये मैनेजमेन्ट की घोषणा को दुनिया तक पहुंचाया है.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति