14 दिसंबर 2018 : सुबह की 5 सबसे बड़ी खबरें

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

माल्या जी के एक बार कर्ज न चुका पाने पर चोर कहना ठीक नहीं – नितिन गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि एक बार कर्ज नहीं चुका पाने की वजह से उद्योगपति और शराब कारोबारी ‘विजय माल्याजी’ को चोर कहना अनुचित है. गडकरी ने कहा कि विजय माल्या का पिछले चार दशकों से कर्ज चुकाने का रिकॉर्ड अच्छा रहा है. विजय माल्या पर भारतीय बैंकों से 9 हजार करोड़ रुपये का कर्ज न चुकाने और देश छोड़कर भागने का आरोप है. हाल ही में ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने विजय माल्या के भारत प्रत्यर्पण पर मुहर लगाई है. जबकि प्रत्यर्पण से कुछ घंटे ही पहले विजय माल्या ने भारतीय बैंकों से लिए गए कर्ज का मूल चुकाने की बात की थी.

राफेल सौदे की जांच हो या नहीं? सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज

राफेल सौदे की जांच की मांग वाली 4 याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट आज शुक्रवार को फैसला सुनाएगा. सीजेआई रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति केएम जोसेफ की पीठ ने इस मामले में दायर याचिकाओं पर 14 नवंबर को सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रख लिया था. इस सौदे में कथित अनियमितताओं का आरोप लगाते हुये सबसे पहले वकील मनोहर लाल शर्मा ने जनहित याचिका दायर की थी.

मध्यप्रदेश में कमलनाथ होंगे सीएम

गुरुवार देर रात कांग्रेस ने कमलनाथ को मध्यप्रदेश का सीएम घोषित कर दिया. कमलनाथ 17 दिसंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. कमलनाथ को उनके राजनीतिक अनुभव और गांधीपरिवार से तकरीबन पांच दशक पुराने संबंधों की वजह से तरजीह मिली है. राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि सबसे बड़े योद्धा धैर्य और संयम हैं. कमलनाथ का राजनीतिक संयम ही आज उन्हें सत्ता के ताज तक ले कर आया है.

राजस्थान CM पर फैसला आज

राजस्थान में सीएम पद को लेकर गहलोत और पायलट के बीच कांग्रेस अभी तक कोई फैसला नहीं कर सका है. सूत्रों के मुताबिक सचिन पायलट सीएम पद पर अड़े हुए हैं. ये भी कहा जा रहा है कि उन्हें डिप्टी सीएम का पद ऑफर किया गया है लेकिन वो राज़ी नहीं हैं. वहीं अशोक गहलोत ने अपने समर्थकों से संयम बरतने की अपील की है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आवास पर गुरुवार देर रात तक पायलट और गहलोत के साथ बैठक चली लेकिन कोई फैसला नहीं हो सका है.

छत्तीसगढ़ सीएम पर सस्पेंस बाकी

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के नाम पर भी अभी कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया जा सका है. गुरुवार को रायपुर में कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायकों के साथ बैठक के बाद पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे दिल्ली आ चुके हैं. आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री के नाम पर फैसला किया जाएगा. छत्तीसगढ़ में टीएस सिंहदेव और पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल मुख्यमंत्री की रेस में चल रहे हैं.