बलवंत राय मेहता कांग्रेस के काले पन्नों में दर्ज एक नाम है

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

इतिहास के काले पृष्ठ बहुत सी कड़वी सच्चाइयों को छुपाये हुए हैं अपने भूले हुए अतीत में..मगर हवा चलती है तो पन्ने फड़फड़ाते हैं..


क्या आप सपने में भी सोच सकते है कि केंद्र मे कांग्रेस का शासन हो और गुजरात के कांग्रेसी मुख्य मंत्री के हेलिकाप्टर को 19 सितंबर 1965 में पाकिस्तानी फाइटर प्लेन का पायलट मार गिराए!!
पूरे भारत में किसी राज्य के मुख्यमंत्री को यदि किसी दूसरे देश ने मारा है, तो वह गुजरात के कांग्रेस से ही मुख्यमंत्री स्वर्गीय बलवंत राय मेहता थे!
स्वर्गीय बलवंत राय मेहता अपनी पत्नी के साथ हेलीकॉप्टर पर मीठापुर से कच्छ जा रहे थे!
उसी समय पाकिस्तान का एक फाइटर पायलट भारतीय युद्ध में भारतीय एयर स्पेस में घुस गया‌।
हेलीकॉप्टर के पायलट ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को जब अपने ऊपर मंडराते देखा, तब उसने हेलीकॉप्टर के पंखे को हिला-हिला कर और रेडियो पर मर्सी संदेश भेज भेज कर अपने लिए जीवन दान मांगा!!
दरअसल हेलीकॉप्टर के डेने हिलाने का संकेत होता है कि मुझ पर रहम करो मुझ पर दया करो!!
लेकिन पाकिस्तानी फाइटर पायलट ने गुजरात के मुख्यमंत्री बलवंत राय मेहता के हेलीकॉप्टर को उड़ा दिया!!
इस हमले में मुख्यमंत्री बलवंत राय मेहता उनकी धर्मपत्नी सरोजबेन तथा 12 अन्य लोग भारतीय सीमा में ही मारे गए!
बलवंत राय मेहता कांग्रेस के ही थे। केंद्र में कांग्रेस की ही सरकार थी। इतनी बड़ी घटना पर यदि भारत सरकार चाहती तो पाकिस्तान की ईंट से ईट बजा सकती थी!
लेकिन वो कांग्रेसी दुम हिलाकर और फिर दबाकर बैठ गई!!
और सुनिए!
गुजरात के हाल ही के विधानसभा चुनाव की सरगर्मी बढ़ने से पहले कांग्रेस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक सर्वे किया था ‘नो योर लीगेसी’ के तहत किए गए इस सर्वे में कांग्रेस ने पूछा था कि गुजरात के किस मुख्यमंत्री को पंचायती राज का शिल्पकार माना जाता है?
दिए गए चार विकल्पों में आनंदीबेन पटेल, केशुभाई पटेल, बलवंत राय मेहता और नरेंद्र मोदी का नाम था!
जवाब देने वालों का बहुमत बलवंत राय मेहता के पक्ष में आया!
बलवंत राय मेहता गुजरात के दूसरे मुख्यमंत्री थे, और देश में पंचायती राज संस्थाओं के चैंपियन माने जाते हैं!
46 साल बाद पाकिस्तानी फाइटर एयरक्राफ्ट के पायलट ने मेहता के हेलिकॉप्टर बीचक्राफ्ट के पायलट की बेटी को पत्र लिखकर माफी मांगी!
पायलट की बेटी ने भी पत्र का जवाब दिया और पिता के हत्यारे को माफ कर दिया!
भारतीय हेलिकॉप्टर को गुजरात सरकार के मुख्य पायलट जहांगीर एम. इंजीनियर उड़ा रहे थे। इंजीनियर भारतीय वायुसेना में पायलट और सह पायलट के रूप में अपनी सेवा दे चुके थे!
बलवंत मेहता के हेलिकॉप्टर को पाकिस्तानी फाइटर कैश हुसैन ने इंटरसेप्ट किया।
खबरों के मुताबिक उस समय कैश की उम्र केवल 25 साल की थी।
आज वही कांग्रेसी कहते हैं कि मोदी जी चीन और पाकिस्तान को करारा जवाब नहीं दे रहे!!
जो मोदी अपने एक फाइटर पायलट अभिनंदन के लिए पाकिस्तान की रीढ़ की हड्डियों में कंपन पैदा कर सकता है, वो मोदी उस समय होता तो अपने मुख्य मंत्री के लिए क्या कर डालता!
सैंकड़ों पायलट में से एक अभिनन्दन है और दूसरी ओर राज्य के मुख्यमंत्री, जिनके दल की केंद्र में भी सरकार थी! विचारणीय है…

(विक्रम वर्मा)

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति