Dark Web से दुनिया को रहना होगा सावधान !!

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
 आज के युग में इंटरनेट  के बिना किसी भी कार्य  की कल्पना असंभव है. पूरा विश्व इस अनोखे अंतरजाल के बिना अपंग  है.  सामाजिक  वर्ग की बात करें तो विदेशों  में ऐसा कुछ नही होता. वहाँ सब समान स्तर पर होते हैं परन्तु  भारतवर्ष  में ऐसा नही है.  यहाँ समाज को उनकी आमदनी के अनुसार  विभिन्न  वर्गों  में विभाजित किया गया है जो हास्यास्पद है परन्तु यही सत्य है.
लेकिन आजकल इंटरनेट इतना सस्ता हो गया है  कि हर वर्ग  इसे अफोर्ड कर रहा है. एक सब्ज़ी  बेचने वाले से लेकर मिडिल क्लास और बड़े उद्योगपति तक सभी इंटरनेट चलाते हैं और यह समझते हैं कि उन्हें इंटरनेट  की सम्पूर्ण  जानकारी  है परन्तु  वास्तव में ऐसा  नही है.  आपको बता दें कि इंटरनेट का सामान्य  ज्ञान  रखने वाले लोगों को बस 4 प्रतिशत  की जानकारी  है .इसे Surface Web या Clear Web या Clear Net भी कहते है. ये normal internet या world wide web को रिप्रेज़ेन्ट करता है जहाँ पर  आप  Gmail, Facebook, Twitter, online shopping (Amazon,Flip Cart)  कर सकते हैं. बाकी 96 प्रतिशत  से वे अनजान  है और इस अनजान दुनिया  के सत्य को DARK WEB कहते हैं.

अवैध गतिविधियों का केन्द्र है डार्क वेब

Dark Web एक ऐसी वेबसाइट है जो पाताल नगरी की तरह गहरी है  जिसमें पोर्नोग्राफी, हैकिंग, ड्रग्स की खरीद-बिक्री जैसी अपराधिक  गतिविधियाँ online होती हैं धड़ल्ले से. Drugs, Arms And Amunitutions,  stolen money  और subscription credentials, hacked Netflix के खाते ,बिटकॉइन पर्चेज़-सेलिंग और ऐसे software जो किसी के भी  computer system को hack कर सकते हैं. यहाँ  क्रेडिट  कार्ड की भी खरीदी  कर सकते हैं.
दूसरे शब्दों में  एक ऐसी वेबसाइट जहाँ गैरकानूनी धंधे होते हैं .ऐसी illegal websites  को visit करना भी एक तरीके का अपराध है. इसमें  विश्व  के अन्य  देशों के साथ भारत भी शामिल है. यदि इसका सही से प्रयोग  किया  जाए तो यह dark web बहुत उपयोगी साबित होती है. ये आपके ऊपर है की आप इसे कैसे इस्तमाल करते हैं.

इसमें चलती हैं गैरकानूनी गतिविधियाँ

ऐसी वेबसाइट को कैसे Search किया जाए ये भी एक रहस्य है जो मन में कौतूहल  पैदा करता है.
Dark web तक आप सामान्य ब्राऊज़र की मदद से नहीं  पहुँच सकते जैसे Google Chrome, Mozilla FireFox, Safari आदि सर्च  इंजिन इस वेबसाइट तक पहुँचने में मदद नही कर सकती.
Dark Web में घुसने के लिए anonymity tools मदद करते हैं  Tor और  dark Web . साफ शब्दों में यह ब्लैक मॉर्केटिंग और यूज़र प्रोटेक्शन दोनों के लिए  है जो इसके सकारात्मक और नकारात्मक पहलू हैं.
ब्लैक मॉर्केट  में गैरकानूनी डिलींग  होती है जिसमें Child trafficking, pornography से लेकर Government secrets के खुलासे तक किए जाते.इस  सर्विस में बहुत सी असामाजिक गतिविधियाँ होती हैं जो कानून  के खिलाफ  है.
यहाँ आप credit card numbers purchase करके Drugs, weapon और चोरी के पैसों  की कालाबाज़ारी देखेगें. software से दूसरे के computer system को hack करने की उदण्डता भी.

कुछ खास बातें डार्ट नेट की

Dark Web की कुछ खास बातें जो प्रयोग  में लाने से पूर्व आपको जानना आवश्यक  है.
* इस वेबसाइट को visit करने के लिए आपको एक special web browser चाहिए जिसे Tor कहा जाता है. इसी से dark web websites को खोला जा सकता हैं
 * dark websites के extension भिन्न होते हैं. highly encrypted domain name (उच्च स्तरीय कोड कार्य)  इस्तेमाल किया जाता है ऐसी websites पर.
*इसमें प्रवेश पाने के लिये  कुछ खास सावधानियां भी बरतनी होती हैं.
अ) एक secured VPN service की जरुरत होगी  (Nord VPN, Strong VPN, HideMyIP, Cactus VPN, Kepard VPN, HideIPVPN)      जो की आपकी identity safety के लिए क्योंकि यहाँ हैकर्स  ताक लगाए बैठे रहते हैं आपके सिस्टम  को हैक करने के लिए. वीपीएन सर्विस IP Address, ISP तथा Government Agencies की दृष्टि  से दूर करता है. यह Internet usage को भी encrypt करता है.
ब) Tor Web Browser  download करना पड़ेगा जिससे की आप dark web में safe और secure login कर  सकें. इसलिए browser को official websites से download करना सेफ है. duplicate web browsers आपको  भ्रमित  कर सकते हैं.
स) इस वेबसाइट का प्रयोग  करते समय सभी apps और programms को बंद कर देना चाहिए और अपनी प्राइवेट  जानकारियाँ सदैव क्लोज़  रखें.

और क्या सावधानी  बरतें

जब आप व्यक्तिगत Computer से डार्क वेब access करेगें तो कुछ सावधानियाँ बरतनी  आवश्यक है.
 *anonymity और security का ख़ास ध्यान रखा आवश्यक होता है. वो भी तब जब आप Dark Web का इस्तमाल कर रहे हों.
*TOR Browser  का प्रयोग  करने के बावजूद भी आपके Internet Service Providers (ISP) और Law Enforcement आपकी अपराधिक गतिविधियों का पता लगा सकती है. इसलिए  आप आँख मूँद कर नही रह सकते.
*TOR का इस्तमाल करने वाले यूज़र्स को शीघ्र ही Update कर लेना चाहिए क्योंकि vulnerability का होना आम बात है.
*TOR browser bundle को इन्स्टॉल करें PC में.
* Dark Web में Virus मौजूद होते हैं. इसलिए  ऐसी websites से कुछ भी download करना ठीक नहीं.
 Dark Web Browser के लाभ और हानि
Dark Web को browse करना बहुत ही खतरनाक हो सकता है, यदि आपने कुछ चीज़ों को ध्यान न दिया हो. तो चलिए उनके विषय में जानें जिन्हें आप खुद से दूर रखकर इन problems से दूर रह सकते हैं.
* Hackers से दूर रहना चाहिए क्योंकि ये हैकर्स सफलतापूर्वक आपके devices और सिस्टम को hack कर सकते हैं.
*Dark Web website को  (remote administration tool) “RAT” भी कहा जाता है  ये आपके डिवाईस को यह इंस्टॉल करने के लिए उकसाते  आपके webcam को hijack कर आपकी दिनचर्या पर नज़र रख सकते हैं.
* Dark Web में browse करने के समय paper या कपड़े से कैमरे के lens को ढक कर रखें.
*अब प्रश्न ये भी उठता है कि जब Deep web और Dark Web का उपयोग  इतना रिस्की है तो आखिर लोग इसका इस्तेमाल करते ही क्यूँ हैं ? जवाब सीधा-सा है ये दोनों ही privacy तथा anonymity देते हैं.
और आपकी personal information को सुरक्षित  व गोपनीय रखता है.
*यह आपके bank account  access को गोपनीय रखता हैअथार्त यह anonymity के साथ कार्य  करता है आप जो भी काम  करते हैं  किसी को इसकी कानों-कान भनक  तक नही पड़ती जबकि सामान्य  GRAM Engine  पर Standard Internet Provider आपकी व्यक्तिगत जानकारी  आसानी  से प्राप्त कर सकते हैं.
* अपने व्यक्तिगत विचारों  को  बयाँ करने का अच्छा प्लेटफॉर्म है जहाँ स्वतंत्रता  है आपको कुछ भी कहने की मगर ये भी गैरकानूनी ही तो है .
हालांकि इस dark websites के अनगिनत  फायदे हैं परंतु ग़लत गतिविधियों  के लिए  इसका इस्तेमाल  करने वालों के लिए यह बिल्कुल  सर पर नंगी तलवार लटकने जैसा है. कभी भी आपका तमाम  हो सकता है यानी पुलिस की गिरफ्त  मेंं आप आ सकते हैं. इसलिए  इस दुनिया  में प्रवेश करने से पूर्व दो बार अवश्य  सोचें और यदि इसका इस्तेमाल  करें तो अच्छे कार्यों के लिए  करें.