दो आँखें बारह हाथ – यूपी में Yogi Adityanath : होगी मुसाफिरों की स्क्रीनिंग साथ के साथ

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
दो आँखें बारह हाथ” –  यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी पर ये कहावत बिल्कुल सटीक बैठती है. वे एक कुशल राजनीतिज्ञ तो हैं ही साथ ही साथ मामलों की तह तक जाकर उनके लिये सही दिशा में कदम उठाना उनकी  दूरदर्शिता को दर्शाता है.

मुसाफिरों के लिये जारी किया आदेश

हाल ही में सीएम योगी जी ने दिल्ली ,महाराष्ट्र व अन्य राज्यों से  यूपी आने वाले लोगों के लिये एक आदेश जारी किया है. सीएम योगी जी ने कहा है कि देश के अन्य राज्यों से आने वाले मुसाफिरों की आवश्यक रूप से स्क्रीनिंग अब अनिवार्य होगी.

कोरोना से बचाव के कदम 

ज्ञातव्य है कि वैश्विक महामारी कोरोना का यूपी में सीएम योगी ने कुशलतापूर्वक प्रबन्धन किया है किन्तु उनका कहना है कि अभी भी इस संक्रमण  की रोकथाम के  सम्बन्ध में ज़रा भी लापरवाही नही बरती जा सकती.  उन्होंने  साफ-साफ ये भी कहा है कि फल मण्डी, सब्जी मण्डी तथा  विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ इकट्ठी न हो इसके लिये ज़िम्मेदारी स्थानीय प्रशासन की होगी.

सीएम योगी लगातार कर रहे हैं बैठकें

मंगलवार को टीम-9 की बैठक में मुख्यमंत्री योगी जी ने ये इंस्ट्रक्शन दिए कि प्रदेश के विभिन्न जिलों में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के सम्बन्ध में जो कि पीपीपी मॉडल पर आधारित होगा इस पर विचार-विमर्श कर नीति  जल्द ही तैयार की जायेगी. सीएम को ये सूचना दी गई कि 12 जुलाई, 2021 से ‘दस्तक अभियान’ की शुरूआत हो गई है और यह अभियान 25 जुलाई, 2021 तक  जारी रहेगा. तत्पश्चात आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाये जाने की विशेष मुहिम चलाई जायेगी.

चल रही है जनसंख्या कानून की तैयारी

सर्वविदित है कि योगी जी ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम और यूपी तथा देश के विकास को ध्यान में रखते हुए जनसंख्या नीति 2020-21 ड्राफ्ट जारी करने की घोषणा कर दी है जो जनता की सामूहिक राय ले कर ही कार्यान्वित की जा रही है. यह भी एक सराहनीय कदम है जो यूपी की योगी सरकार द्वारा उठाया जा रहा है.

वरिष्ठ नागरिकों के हित में योजनायें

इसके अलावा योगी जी प्रतिदिन हेल्प-लाईन के ज़रिये प्रत्येक जिले में सौ  वरिष्ठ लोगों से बातचीत करेगें. इस मामले में वरिष्ठ  नागरिकों को दवा और अन्य मेडिकल सुविधाएँ मुहैया कराने के लिये आशा वर्कर की सहायती ली जा सकती है और विशेष एम्बुलेंस सेवा का प्रबंध भी किये जाने पर विचार हो रहा है.
सीएम योगी जी ने आकाशीय विद्युत (बिजली) से होने वाली दुर्घनाओं पर नियंत्रण रखने के लिये नई तकनीकों और  अलर्ट सिस्टम पर भी बात की.

https://newsindiaglobal.com/news/india/ab-yogiraj-hai-uttar-pradesh-me-gundaraj-nahi/16459/

 

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति