महंगी नहीं है Corona Vaccine, प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये में और सरकारी अस्पताल में मुफ्त लगेगा टीका

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
कोरोना वैक्सीन के विरोधियों ने इसके विरोध के लिए एक कारण ये भी पेश किया था कि भारत की कोरोना वैक्सीन ही भारत के लोगों के लिए सस्ती नहीं है. मोदी सरकार ने इस झूठ को बेनकाब करते हुए वैक्सीन आम लोगों के लिए मुफ्त कर दी है और शेष लोगों के लिए इसके दाम बहुत कम कर दिए हैं. अब हर कोई खरीद सकेगा वैक्सीन और हर कोई लगवा सकेगा टीका.

मुफ्त में बचेगी महंगी जान

भारत की वैक्सीन आप ये नहीं कह सकते कि काम में दम और दाम में कम, क्योंकि आपको अब कहना होगा काम में कमाल और दाम में धमाल. जिस वैक्सीन को दुनिया भर के देश बड़ी कीमतों में खरीद रहे हैं, उसे मोदी सरकार ने भारत के आम लोगों के लिए मुफ्त कर दिया है. इतना ही नहीं जो लोग सक्षम है और वैक्सीन की कीमत दे सकते हैं उन्हें लगभग न के बराबर चुकानी होगी इस वैक्सीन की कीमत.

सबकी पहुँच के भीतर है देशी वैक्सीन

देश की वैक्सीन अब देश में सबकी पहुँच के भीतर आ गई है. आपको वैक्सीन की एक डोज़ लेने के लिए कॉस्ट-ब्रेकअप 150 रुपये देने होंगे और चूंकि इसमें सेवा शुल्क के रूप में 100 रुपये और जुड़ जाएंगे – इसलिए कुल कीमत इसकी होगी ढाई सौ रुपये. ढाई सौ रूपये में आप बचा सकते हैं अपनी ढाई करोड़ की जान.

निजी अस्पतालों में होगी उपलब्ध

कोरोना वैक्सीन निजी अस्पतालों में उपलब्ध होगी. सरकार ने वैक्सीन की एक डोज़ का मूल्य 250 रुपये निर्धारित किया है. ये कीमत निजी अस्पतालों में 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों तथा गंभीर बीमारियों से पीड़ित 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए उपलब्ध की जाएगी.

मार्च में शुरू होगा टीकाकरण

अब दो दिन बाद आपका साल भर का इंतज़ार खत्म होने वाला है. शनिवार शाम प्राप्त हुई इस जानकारी अनुसार, टीकाकरण एक मार्च से शुरू हो जाएगा. यद्यपि कहा ये भी जा रहा है कि इस संबंध में आधिकारिक घोषणा होने पर मूल्य में परिवर्तन भी संभव है.

फ्री मिलेगा टीका सरकारी अस्पतालों में

सबसे बड़ा फैसला है ये मोदी सरकार का. इसके अनुसार देश का आम नागरिक सरकारी अस्पतालों में इस स्वास्थ्य सुविधा का लाभ उठा सकेगा. सरकार ने निर्णय लिया है कि लोगों को सरकारी अस्पतालों में टीका निःशुल्क लगाया जाएगा. सरकारी अस्पताल ही निजी अस्पतालों को ये वैक्सीन उपलब्ध कराएंगे.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति