Mumbai में क्या फिर लगेगा Lockdown?

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
चीन का कोरोना वायरस अपने काम पर लगा हुआ है. और महाराष्ट्र में तो उसका कुछ अधिक ही ज़ोर दिखाई दे रहा है. आने वाले दिन फिर से मुंबई के लोगों के लिए भारी पड़ सकते हैं क्योंकि देश की ये आर्थिक राजधानी फिर से कोरोना की गिरफ्त में आ सकती है और लॉकडाउन की बंधक बन सकती है. इस बात का संकेत भी दे दिया है मुंबई की मेयर ने.

9 दिनों में बढ़ी है कोरोना की रफ्तार

पिछले 9 दिन मुंबई के लोगों के लिए आने वाले दिनों में बहुत अहम सिद्ध हो सकते हैं. पिछले नौ दिनों में मुंबई में 70 फीसदी बढ़ी है कोरोना की रफ्तार जो करा सकती है मुंबई को फिर से लॉकडाउन में गिरफ्तार. ये बात निरी कल्पना या अनुमान नहीं है बल्कि इस बात का तो मुंबई के मेयर ने भी संकेत दिया है और बता दिया है कि हो सकता है लग जाए मुंबई में फिर से लॉकडाउन.

लोकल बनी वेहिकल कोरोना की

महाराष्ट्र में फरवरी माह से लोकल अर्थात Mumbai local का संचालन प्रारम्भ हो गया है. जिस बात का डर था वही हुआ. यात्रियों के पास-पास खड़े होने से कोरोना को आगे बढ़ने का मौका मिला और कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ने लगे हैं. आंकड़े बताते हैं कि लोकल चलने के बाद से महाराष्ट्र में एकदा पुनः कोरोना के मामलों (Maharashtra Covid cases) में वृद्धि होने लग गई है. लोगों को मास्क पहनना ज़रूरी नहीं लग रहा है जो वायरस के लिए राह आसान कर रहा है.

सरकार हुई चिंतित

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देख कर प्रदेश की सरकार के साथ साथ देश की सरकार की चिंता भी बढ़ी है. मुंबई से आने-जाने वाले लोग दूसरे राज्यों में भी कोरोना संक्रमण फैला सकते हैं जहां कोरोना के मामले कम होते जा रहे हैं. इस बात का संकेत महाराष्ट्र सरकार की मुंबई प्रतिनिधि की बात से सामने आया है. मुंबई की मेयर ने आने वाली चिंतनीय स्थिति को लेकर एक बयान दिया है.

ये कहा मुंबई की मेयर ने

मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा है कि महाराष्ट्र की ट्रेनों और लोकल में लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं और इस कारण एक-दूसरे में तेजी से ट्रांसफर हो रहा है कोरोना का वायरस. मेयर ने कहा है कि हो सकता है आने वाले दिनों में मुंबई में लॉकडाउन लगना पड़े. उन्होंने लेकिन इसके साथ ये भी कहा कि मुंबई में लॉकडाउन लगना न लगना लोगों के हाथ में हैं. लोगों ने मास्क लगाया तो हो सकता है ऐसी स्थिति न आये.

3 हजार से 4 हजार मामले आ रहे हैं प्रतिदिन

42 दिनों बाद महाराष्ट्र में एक बार फिर हालात बदल रहे हैं. अब फिर से कोरोना संक्रमण भड़कने (Corona Outbreak) की आशंका बढ़ गई है क्योंकि कोरोना के मामलों ने भी रफ्तार पकड़ी है. राज्य में बढ़ रही ये रफ्तार डरावनी दिखाई दे रही है और वजह साफ है, एक बार फिर से प्रतिदिन कोरोना के 3 से 4 हजार मामले सामने आने लगे हैं. स्थिति मुंबई में बदतर होती दिखाई देने लगी है जिससे अधिकारियों और सरकार की चिंता भी बढ़ने लगी है.