Lock-unlock का खेल जारी, आई Corona की तीसरी लहर की बारी

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
देश में कोविड-19 की द्वितीय लहर के हालातों का जायज़ा लेते हुए ये बात सामने आई है कि रफ्तार धीमी हुई है मगर फिर तूफान आने के आसार दिख रहे हैं| धीमी होती कोरोना की दूसरी लहर और उस पर अगस्त तक इसकी तीसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही है जो कि सितंबर माह तक अपने चरम पर होगी| भारतीय स्टेट बैंक द्वारा तैयार की गई एक रिपोर्ट ने ये चिन्ताजनक जानकारी दी है।

दूसरी लहर का तांडव

कोविड-19 की दूसरी लहर के तांडव से देश के कोने-कोने में भय और आतंक पसर गया|संक्रमण और मृत्यु की दर में तेज़ी से इज़ाफा हुआ| देश में दवाईयों,इंजेक्शन, ऑक्सीजन और वेंटीलेटर के अभाव में मौत के आँकड़ों में वृद्धि देखी गई है परन्तु केंद्रीय और राजकीय प्रतिबंधों के कारण शनै:-शनै: दैनिक मामलों में गिरावट आने लगी थी|  दूसरी लहर का प्रभाव पहल की अपेक्षा कम मगर अब भी जारी है|

तीसरी लहर का आना तय है

गौरतलब है कि भारत में कोरोना की दूसरी लहर अप्रैल माह से प्रारम्भ होकर मई के मध्य में अपने चरम पर थी|
ठीक इसी प्रकार विशेषज्ञों द्वारा यह संभावना जताई जा रही है कि देश में कोरोना की तीसरी लहर भी आयेगी और ये अगस्त से शुरू होकर सितंबर तक अपने चरम पर होगी| ये भी अनुमान लगाया जा रहा है कि ये तीसरी लहर दूसरी लहर से 1.7 गुना अधिक हो सकती है| ये सभी कयास कोरोना मामलों के ग्लोबल आँकड़ों के आधार पर लगाये ग़ये हैं|

रिपोर्ट के अनुसार अनुमानित आँकड़े

एसबीआई द्वारा जारी रिपोर्ट (जून माह में प्रकाशित) में ये कहा गया है कि दूसरी लहर की ही तरह तीसरी लहर भी गंभीर हो सकती है परन्तु संक्रमण संख्या कम हो सकती है क्यूँकि दूसरी लहर के मामले अब भी पूर्णत: खत्म नही हुए हैं| जब दूसरी लहर का प्रभाव ज़ोरों पर था तब दैनिक संक्रमण आँकड़े भारत में चार लाख से भी अधिक थे|
एसबीआई की “कोविड -19: रेस टू फिनिशिंग लाइन” रिसर्च रिपोर्ट में पाया गया है कि “मौजूदा आंकड़ों के अनुसार, भारत में जुलाई के दूसरे सप्ताह के आसपास रोजाना लगभग 10,000 कोविड -19 मामले सामने आ सकते हैं। हालांकि ये मामले अगस्त के दूसरे पखवाड़े तक बढ़ सकते हैं।”रिपोर्ट की सत्यता वैश्विक डेटा और उसके अनुमानों पर आधारित है|

सावधानी बरतना आवश्यक

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के सर्वे (MoHFW) के अनुसार, भारत में बीते 24 घंटों में 39,796 नए केस सामने आए हैं जबकि 29,700,430 लोगों ने इस महामारी को हरा कर जीत हासिल की है|
ब़हरहाल, ये भी सत्य है कि कोरोना वायरस के तीसरी लहर की आहट दस्तक देने लगी है ,जिसे हल्के में लेना उचित नही होगा| पिकनिक स्पॉट और होटलों में उमड़ती भीड़ कोरोना की तीसरी लहर को दावत देने का इशारा है| हमें इसकी रोक-थाम के लिये पहले से ही एहतियात बरतने की आवश्यकता है|

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति