PM मोदी की आज की चुनावी रैलियों के भाषण की 10 बड़ी बातें

सौ: ट्विटर
Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

सौजन्य- ट्विटर

पीएम मोदी ने आज गुरूवार को यूपी के मेरठ, उत्तराखंड के रुद्रपुर और जम्मू में चुनावी रैली की. इस दौरान उन्होंने जहां जम्मू-कश्मीर के बिगड़े हालातों के लिए कांग्रेस,पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस को जिम्मेदार ठहराया तो साथ ही आतंकियों और उनका साथ देने वालों को भारत पर हमला न करने की चेतावनी भी दी.

पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बात

1-जम्मू के लोगों को चौकीदार पर विश्वास है, लिखकर रखिए कि महामिलावट की महागिरावट तय है

2-आतंक के सभी साथी एक बात कान खोल कर सुन  लें, भारत के विरुद्ध एक भी कदम बहुत भारी पड़ेगा

3-जम्मू-कश्मीर में आज जो स्थिति है उसके लिए कांग्रेस, पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस जिम्मेदार हैं. ये वो लोग हैं जिन्होंने भारत के सामर्थ्य पर कभी भरोसा नहीं किया. इनके पास बड़े और कड़े फैसले लेने की हिम्मत भी नहीं है. ये मरे-पड़े लोग हैं.

4 -इनको भारत माता की जय कहने में समस्या है लेकिन आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों की जय कहने में उन्हें गर्व हो रहा है.

5-आपका हर वोट विकास के नाम पर पड़ेगा, चौकीदार के विश्वास पर पड़ेगा, आप मान के चलिए कि जब आप कमल का बटन दबाएंगे तो वो वोट सीधा मोदी को मिलने वाला है.

6-आज एक तरफ विकास का ठोस आधार है, दूसरी तरफ न नीति है, न विचार है और न ही नीयत है. एक तरफ फैसले लेने वाली सरकार है, दूसरी तरफ दशकों तक फैसले टालने वाला इतिहास है. एक तरफ नए भारत के संस्कार हैं और दूसरी तरफ वंशवाद और भ्रष्टाचार का विस्तार है.

7-अटल जी की सरकार ने राफेल विमान खरीदने की शुरुआत की थी, लेकिन कांग्रेस 10 सालों तक इसे रोके रही, क्योंकि मलाई नहीं मिल रही थी. हमारी सरकार ने वायुसेना की जरूरत को देखते हुए इस काम को आगे बढ़ाया, अगले कुछ दिनों में राफेल वायुसेना का हिस्सा होगा.

8-आज सेना को देश में ही बनी आधुनिक तोपें मिल रही हैं, आधुनिक हथियार मिल रहे हैं, बुलेट प्रूफ जैकेट मिल  रही हैं. सेना ये सामान कांग्रेस की सरकार से मांग रही थी, उन्होंने कोई चिंता नहीं की, क्योंकि ध्यान सुरक्षा पर नहीं मलाई खाने पर था.

9-कांग्रेस ने पूर्व सैनिकों को वर्षों तक धोखे में रखा. वन रैंक वन पेंशन को लटकाए रखा. इन्होंने वन रैंक वन पेंशन के नाम पर सिर्फ 500 करोड़ का बजट रखा था. हमारी सरकार ने वन रैंक वन पेंशन को मंजूरी दी और 35,000 करोड़ रुपये सैनिकों तक पहुंचा दिए.

10-बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बाद कांग्रेस के नेता ऐसी बात कर रहे हैं, जो भारत के पक्ष में नहीं है. इतना ही नहीं, जम्मू कश्मीर के नेता भी ऐसी बात कर रहे जो गांव में रहने वाले लोगों को मंजूर नहीं है.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति