ममता ने कहा था खेला होबे: Bengal में खेला चालू – हुई 9 BJP कार्यकर्ताओं की हत्या

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
हालांकि बंगाल में जो खेला चुनाव के बाद शुरू हुआ है उसकी सारी खबर दिल्ली को है पर दिल्ली की उस पर क्या प्रतिक्रिया है इसकी खबर बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं को नहीं है. और ऐसा भी नहीं है कि दिल्ली को टीएमसी द्वारा चुनाव जीतने के बाद बंगाल बनने वाले इस माहौल का अनुमान नहीं होगा. फिर भी ऐसा हो रहा है -ये देख कर जितना अचम्भा देश भर के राष्ट्रवादियों को हो रहा है उससे अधिक उन असहाय बीजेपी कार्यकर्ताओं को हो रहा है जो अब बंगाल की चूहेदानी में फंस चुके हैं. और ममता का खेला भी शुरू हो चुका है.

राजनीतिक हिंसा का खेला चालू

बंगाल में विधानसभा चुनाव के परिणाम क्या घोषित हुए फिर से राजनीतिक हिंसा का खेला शुरू हो गया है.बर्दवान, भाटपाड़ा, कूचबिहार, हल्दिया और नंदीग्राम में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमलों की जानकारी मिली है. दो मई को ही जिस दिन नतीजे आये उसी दिन कोलकाता में BJP के दफ्तर पर हमला करके उसे आग के हवाले कर दिया गया. अगले दिन ही यानी कल सोमवार तीन मई को भी पार्टी को घेर कर इतना पीटा गया कि उनकी जान चली गई. खबर ये आई है कि चुनाव के बाद हो रही बंगाल की राजनीतिक हिंसा में अब तक बीजेपी के 9 कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है.

गृहमंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

हालांकि बीजेपी कार्यकर्ताओं को निशाना बना कर हो रहे इन हमलों पर गृह मंत्रालय ने बंगाल सरकार से रिपोर्ट तलब की है. लेकिन उस पर कार्यवाही क्या होगी इसका अनुमान किसी को नहीं है. वहीं बीजेपी ने 5 मई से प्रदेश में सत्याग्रह कर के इन हमलों का विरोध करने का फैसला किया है और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी आज मंगलवार को बंगाल पहुँच गए हैं.

दिलीप घोष ने कहा हम आतंकित हैं

बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने आरोप लगाया है कि चुनाव परिणाम आने के साथ शुरू हुई हिंसा में 24 घंटों के भीतर 9 लोगों की जान ले ली गई है. प्रदेश में डर का माहौल कायम है. प्रदेश सरकार चलाने वाली पार्टी आँखें बंद करके बैठी हुई है. पुलिस हाँथ बांधे बैठी है और बीजेपी के कार्यकर्ता भगवान भरोसे हैं. दिलीप घोष कहते हैं कि हमने राज्यपाल से शिकायत की है और सारी स्थिति से उनको अवगत कराया है. राजयपाल जगदीप धनखड़ ने उन्हें कार्रवाई का भरोसा भी दिया है.

आगे पांच साल क्या यही होगा बंगाल में

सवाल बड़ा है जिसका जवाब सबको पता है लेकिन सभी लाजवाब हैं. सवाल ये है कि अब आगे पांच साल तक अर्थात 2026 तक बंगाल में क्या यही होता रहेगा? BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी बंगाल में चुनावोपरांत चालू राजनीतिक हिंसा के समाचारों की तस्दीक की है और ऐसे ही एक हमले का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर साझा किया है. इस वीडियो में जीत का जश्न मना रहे लोगों की भीड़ एक घर में घुसकर तोड़फोड़ करती दिखाई दे रही है.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति