मर्दों की मंडी-1: Delhi में खरीदती हैं अमीर औरतें मर्दों को

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

नई दिल्ली. दिल्ली से बाहर के लोगों को तो छोड़ दीजिये, दिल्ली में ही सबको नहीं पता कि देश की राजधानी में कुछ इलाके ऐसे हैं जहां से रात 10 बजे के बाद लड़कियों का नहीं बल्कि लड़कों का गुजरना मुश्किल हो जाता है. इन इलाकों में जाने से जवान लड़कों को डर लगता है. वजह साफ़ है और वो ये है कि यहां औरतों की नहीं बल्कि मर्दों की लगती हैं बोलियां.

ये है मर्दों का खुला बाज़ार

राजधानी दिल्ली में ऐसे कई स्थान हैं जहां शाम होते ही सज जाता है जिस्मफरोशी का बाज़ार. लेकिन ये है अलग किस्म का अर्थात यहां औरतें नहीं मर्द बिकते हैं. इन स्थानों को जिगोलो मार्केट के नाम से जाना जाता है. यहां आती हैं अमीर घरों की औरतें जो अपना मनपसंद मर्द यहां से खरीद कर अपने साथ ले जाती हैं.

मर्दखोरी की मुंहमांगी कीमत

दिल्ली के इस ‘जिगोलो मार्केट’ में बिकने वाले मर्द निराश घर नहीं जाते क्यों यहां उनकी मुंहमांगी कीमत उन्हें दी जाती है. रात के 10 बजे का गजर बजते ही यह कारोबार शुरू हो जाता है जो सुबह 4 बजे तक जारी रहता है. यहां कुछ घंटों के लिए बिकने वाले जिगोलो को 1800 से 3000 रुपए तक मिल जाते हैं और जिनको पूरी रात के लिए ‘सेवायें; देनी होती हैं उनकी डील 8000 रुपए तक में हो जाती है.

छुप कर होता है खुला कारोबार

कहने को ये कारोबार छुपकर किया जाता है किन्तु दिल्ली के कई इलाकों इसे खुलेआम होते देखा जा सकता है. उदाहरण के लिए कमलानगर मार्किट, पालिका मार्किट, सरोजनी नगर, लाजपत नगर, आदि कई इलाकों में रात होते ही मर्दों की खरीदफरोख्त शुरू हो जाती है और पैसेवाली औरतें अपनी पसंद के ‘लड़के’ अपने साथ ले जाती हैं.
 

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति