Money: दीपावली से पहले नौकरीपेशा लोगों की चाँदी!

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
नौकरी पेशा लोगों के लिये है ये शुभ समाचार. ईपीएफओ को वित्त वर्ष में हुई करोड़ रुपयों की आमदनी के कारण EPFO द्वारा ही एम्पलॉई के अकाउंट में 8.5 % की दर से ब्याज दिये जाने की बात सामने आई है. यह दीपावली के किसी बम्पर आशर से कम नही.

EPFO को है वित्त-मंत्रालय की मंज़ूरी का इंतज़ार

हालांकि EPFO प्रत्येक वर्ष आय के आधार पर कर्मचारियों को उनके Provident Fund की जमा राशि पर ब्याज देता है. अब ईपीएफओ सेंट्रल बोर्ड ने तो ब्याज दर की घोषणा तो कर दी है. बस देखना ये है कि वित्त मंत्रालय क्या निर्णय करता है क्योंकि वित्त मंत्रालय का फैसला एक प्रोटोकॉल के तहत है जिसकी मंज़ूरी के बगैर बात आगे नही बढ़ सकती. वैसे EPFO को पूरा भरोसा है कि उसकी मौजूदा ठोस वित्तीय स्थिति को ध्यान में रखते हुए वित्त मंत्रालय इसे स्वीकारने से मना नही करेगा.

नौकरी पेशा लोगों के लिये है ये बम्पर आफर

नौकरी पेशा लोगों के लिये ये बड़ी खुशख़बरी है. EPFO ने इस वर्ष 8.5 फीसदी की दर से ब्याज देने का निर्णय लिया है. मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार केंद्रीय कर्मचारियों को सरकार द्वारा Dearness Allowance में चैन मिलेगा. वित्त मंत्रालय द्वारा सहमति जारी करना सिर्फ एक शिष्टाचार की प्रक्रिया है ऐसा सरकारी अधिकारियों ने बताया, तो मूल रूप से ये बस प्रोटोकॉल का मामला है जिस पर मुहर लगते ही यह EPFO द्वारा घोषित ब्याज दर को मंजूरी मिल जायेगी.
इसके बिना ब्याज दर को क्रेडिट कर पाना EPFO के अधिकार में नही. EPFO को ये विश्वास है कि बोर्ड उसके निर्णय को उसकी पुख्ता फाईनैन्शियल कन्डिशन पर गौर करते हुए वित्त मंत्रालय अपनी सहमति अवश्य देगा.

वित-वर्ष की मज़बूत स्थिति और आँकड़े

गत वर्ष वित्तीय प्रबंधन को करीब 70,300 करोड़ का लाभ हुआ था यानी EPFO को 70,300 करोड़ रुपये की आमदनी हुई. उसने अपने ही इक्विटी की लगाई पूँजी का एक भाग बेच दिया और जिससे उसे 4000 करोड़ रुपये भी मिले क्योंकि वैश्विक महामारी के दौर में लाखों लोगों ने EPFO से धन निकासी की है.
अब यह उम्मीद जताई जा रही है कि कर्मचारियों को ये ब्याज का लाभ दिपावली के पूर्व मिल सके. ध्यान देने वाली बात यह है कि आंकड़ों के अनुसार फाईनेन्शियल ईयर 2019-20 में 8.50 फीसदी और 2018-19 में 8.65 फीसदी की दर से कर्मचारियों के प्रोविडेंट फंड पर ब्याज दिया गया था.

सोने पर सुहागा

कुल मिलाकर नौकरी पेशा लोगों के लिये दीपावली का बम्पर आफर है. PF पर ब्याज और Dearness Allowance में राहत भी मिलेगी तो उनकी इस वर्ष दिवाली पर चाँदी ही चाँदी है.