पूछता है देश: अल्लाह क्यों कहा Sanghavi ने, जीसस क्यों नहीं कहा?

0
112
अपनी कांग्रेस को सम्हाल लो भाई, काहे योग में ॐ और अल्लाह को लाये, जीसस को क्यों भूल गए.
कांग्रेस अपने राज्यों में उबाल को सुलझा नहीं पा रही और आज खलीफा अभिषेक मनु सिंघवी योग पर भड़क उठा.
कांग्रेस मुसलमानों को खुश करने की जुगत में रहती है -जन गण मन नहीं करेंगे, बन्दे मातरम नहीं कहेंगे, भारत माता की जय बोलने का तो सवाल ही नहीं पैदा होता.
मुसलंमानों का गौमांस खाना तो जन्म सिद्ध अधिकार है उसके बिना तो वो हज ही नहीं कर सकते.
मोदी का अंतर्राष्ट्रीय प्रस्ताव जब से UN ने स्वीकार किया और 190 देश जब ये योग दिवस मनाते हैं, तब भी कांग्रेस के दिल में आग लगी रहती है -इससे बड़ा बेहूदापन हो सकता है क्या?
अभिषेक मनु सिंघवी नामक कांग्रेस के इस नेता को सबसे ज्यादा तकलीफ हुई जो कि अपने ट्वीट में कहता है:
 ”ॐ के उच्चारण से ना तो योग ज्यादा शक्तिशाली हो जाएगा और ना अल्लाह कहने से योग की शक्ति कम होगी “
उसको मैंने जवाब दिया था कि जब से यू एन ने मोदी का प्रस्ताव स्वीकार किया, आप कांग्रेस के और विपक्ष के नेताओं को “कब्ज” जरूरत से ज्यादा बढ़ गई – आप मत करो योग, किसने कहा है करने को”
और फिर अभिषेक मनुसिंघवी ने केवल अल्लाह की बात क्यों की, जीसस क्यों नहीं कहा, क्या आज 10 जनपथ में “जीसस” विराजमान नहीं है ?
कांग्रेस तो अपने राज्यों पंजाब और राजस्थान के नेताओं के सामने शीर्षासन करने में लगे हैं –कैप्टेन और सिधु से सोनिया मिल नहीं रही.
बेचारे सचिन पायलट को प्रियंका वाढरा ने मिलने को बुलाया, दिल्ली चक्कर लगा गया पर भाई बहन दोनों नहीं मिले.
सबसे मजे की बात आज नवजोत सिधू ने कही कि वो 17 साल से सांसद और विधायक है, उसका मकसद व्यवस्था बदलना था -बाप रे, ये क्या अब “आप” में घुसेगा.
उधर असम के रूपज्योति कुर्मी ने राहुल को प्रमाण पत्र देकर पार्टी छोड़ दी कि राहुल के रहते पार्टी आगे नहीं बढ़ सकती.
लेकिन राहुल गाँधी के वफादार सलमान खुर्शीद ने G-23 ने नेताओं से कह दिया कि
“केवल सुधार के लिए आवाज़ उठाने से पार्टी में सुधार नहीं होगा, सुधार त्याग करने से आता है, हमें मिल कर चुनौतियों से मिल कर निपटने की जरूरत है”
और कहा –“ये राहुल गाँधी को फैसला करना है, उन्हें अध्यक्ष बनना है या नहीं – वो अध्यक्ष हों या ना हों वह हमारे नेता रहेंगे”
अब जरा ये भी बता दो किस किस से कैसा कैसा त्याग चाहते हो –सिधू और खुर्शीद दोनों ने मुझे ट्विटर पर ब्लॉक किया हुआ है.
मतलब ये खुद बोलेंगे पर दूसरे का विरोध नहीं सुन सकते और कहते हैं मोदी ने बोलने पर रोक लगा रखी है.
(सुभाष चन्द्र)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here