शायर का बेटा शूटर: Munawwar Rana के घर पुलिस की जाँच!

0
98
इतिहास ग़वाह है कि पुश्तैनी जमीन-जायदाद को लेकर  मशहूर परिवारों के सदस्यों में मन-मुटाव और टकराव  होते ही आये हैं| ये कोई नयी बात नही| ऐसा ही कुछ हुआ मशहूर शायर मुनव्वर राना के लखनऊ हुसैनगंज लालकुआँ स्थित घर पर| उनके पुत्र तबरेज़ को यूपी पुलिस गिरफ्तार करने के लिये पहुँची| लखनऊ और रायबरेली पुलिस F1 टॉवर ढींगरा अपार्टमेंट में उनके घर पर क़रीबन रात दो बजे पहुँची|
यूँ अचानक देर रात पुलिस को देखकर मुनव्वर राना और परिवार सकते में आ गया| पुलिस ने घर का हर एक कोना छान मारा परन्तु तबरेज़ नही मिला| सुत्रों के अनुसार उनके परिजनों ने बताया कि तबरेज़ की गिरफ्तारी के लिये आये पुलिसकर्मियों ने घर पर अच्छा-खासा बवाल मचाया और सभी सदस्यों के मोबाईल फोन ज़ब्त कर लिये तथा घर की महिलाओं से पूरी सख्ती से पूछताछ की |
28 जून को तबरेज़ ने खुद पर हुए जानलेवा हमले की रिपोर्ट थाने में दर्ज करवाई थी| उनका दावा है कि रायबरेली के त्रिपुला चौराहे के पेट्रोल पंप के पास से वे अपनी कार से गुज़र रहे थे| तभी दो बाइक सवार युवकों ने उन पर हमला बोल दिया। उन्होंने तबरेज की कार पर अंधाधुंध फायरिंग की।
तबरेज का कहना है कि उनके पास उनकी अपनी लाइसेंसी गन थी| लेकिन सब कुछ इतना अचानक हुआ कि जब तक उन्होंने अपने बचाव में गन निकाली तब तक हमलावर भाग खड़े हुए। तबरेज़ ने सदर कोतवाली में रिपोर्ट लिखवाई थी| फिलहाल पुलिस ने CCTV फुटेज की जाँच की है और ये बताया जा रहा है कि ये एक फर्जी हमला भी हो सकता है।
पुलिस ने तबरेज़ के याचिका दायर करने के उपरान्त उसकी गिरफ्तारी का एक्शन लिया और लखनऊ सहित उनके रायबरेली स्थित घर में भी छापामारी की| कहने का तात्पर्य ये है कि तबरेज़ के द्वारा फेंका गया पासा उस पर ही उल्टा पड़ गया| क्यूँकि कहा जा रहा है कि तबरेज़ ने संपत्ति के लालच में खुद पर झूठा जानलेवा हमला करवाया ,जिसमें उसने अपने ही चाचा और भाईयों को फंसाने का षड़यंत्र रचा|
मशहूर शायर मुनव्वर राणा और उनकी बेटी ने पुलिस के व्यवहार पर नाराज़गी जताई है|उन्होंने कहा कि पुलिस गुंडागर्दी और अभद्रता पर उतर आई| एक जारी विडियो में ये भी कहा कि एक दिन बिकरू कांड की तरह उनकी लाशें भी जंगल में मिलेंगी|
ज्ञातव्य है कि तबरेज़ पर 28 जून को हुए फर्ज़ी (पुलिस के अनुसार) हमले के बाद गुरूवार को आधी रात 2 बजे यूपी पुलिस तबरेज़ को उसके निवास-स्थल पर गिरफ्तार करने पहुँची तो मुनव्वर राना ने वॉरन्ट दिखाने की मांग की जिस पर पुलिस ने कोई प्रतिक्रिया नही दी और अपना काम जारी रखा। सबके मोबाईल फोन ज़ब्त करके मीडिया और वकील को भी आने से रोक दिया| हालात को मद्देनजर रख कर मुनव्वर राना बेटे पर कम पुलिस पर ज्यादा खफा नजर आ रहे हैं.
शायर साहब ने ये भी कहा है कि यदि उन्हें कुछ हुआ तो इसके लिये पुलिस ही जिम्मेवार होगी|बहरहाल तफ्तीश जारी है| दूध का दूध और पानी का पानी होने के पूरे आसार हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here