वो जिसने जीवन भर दर्द सहा: परवीन बॉबी

0
483

अभिनेत्री परवीन बाबी जिनका पूरा नाम परवीन वली मोहम्मद अली ख़ान था। 4 अप्रैल 1949 को गुजरात के जूनागढ़ में पैदा हुई परवीन अपने माता-प‌िता की इकलौती संतान थीं। वे अपने माता-प‌िता की शादी के चौदह वर्ष बाद पैदा हुई थीं। दस वर्ष की बाल अवस्था में ही उनके पिता का देहांत हो गया था।

परवीन के अफ़ेयर्स तो कई हुए, लेकिन किसी ने भी उनसे शादी नहीं की, उन्हें रिश्तों में धोखा और छल के अलावा कुछ भी नहीं मिला। महेश ‌भट्ट के अलावा कबीर बेदी और डैनी से भी उनके संबंध रहे, ल‌ेकिन इन रिश्तों में भी उन्हें धोखे के सिवाय कुछ नहीं मिला।

परवीन की लव लाइफ़ के क़‌िस्से उनकी फ़िल्मों की तरह ही काफ़ी मशहूर‌ हुए। उनकी और महेश भट्ट की नज़दीकियों के क़‌िस्से बॉलिवुड में आम हो गए थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, परवीन के अवसाद में जाने के पीछे सबसे बड़ी वजह महेश भट्ट थे। वे उस समय उन्हें छोड़ कर चले गए, जब परवीन को उनकी सबसे ज़्यादा ज़रूरत थी।

टाइम मैगज़ीन के कवर पर आनेवाली पहली भारतीय अभिनेत्री बनीं।

एक सफल अभिनेत्री होने के बावजूद परवीन बाबी को अवसाद ने घेर लिया था। कहा जाता है इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह उनके नाक़ामयाब रिश्ते रहे। लगातार टूटते रिश्ते और भ्रम के जाल में (अं‌तिम दिनों में सिज़ोफ्रेनिया का शिकार हो गई थीं) परवीन बाबी ऐसी घिरीं की ख़ुद को उससे बाहर नहीं निकाल पाईं।

अपने जीवन के अंतिम ‌दिनों में वे काफ़ी निराश रहने लगी थीं। जब तीन दिनों तक परवीन ने अपने घर का दरवाज़ा नहीं खोला तो पुलिस को इस बारे में जानकारी दी गई। 22 जनवरी 2005 को परवीन का शव उनके घर से बरामद किया गया जो बेहद ही ख़राब अवस्था में मिला।

(इन्दिरा राय)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here