क्रैश हुए विमान को उड़ा रहे थे दिल्ली के कैप्टन

0
644

आज इंडोनेशिया का एक यात्री विमान समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. समुद्र में क्रैश हुआ ‘लॉयन एयर’ का यह यात्री विमान एयरपोर्ट से उड़ान भरने के तेरह मिनट के भीतर ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और लगभग १८५ यात्रियों के मारे जाने की खबर आई है.

इस दुर्घटनाग्रस्त विमान को एक भारतीय पायलेट उड़ा रहे थे. इस भारतीय पायलट का नाम भाव्ये सुनेजा है जो कि दिल्ली के रहने वाले थे. इस भारतीय पायलट कैप्टन भाव्ये सुनेजा के साथ सह-पायलट हरविनो थे. इस विमान में चालक दल के छह सदस्य भी थे, जिनमें तीन प्रशिक्षु थे.

कैप्‍टन भाव्ये सुनेजा दिल्ली के मयूर विहार इलाके के रहने वाले हैं और उन्‍हें बेल एयर इंटरनेशनल से 2009 में पायलट का लाइसेंस मिला था. इंडोनेशिया के विमान नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार राजधानी जकार्ता से उड़ान भरने वाले इस Boeing 737 Max + विमान में 189 लोग सवार थे. इस फ्लाइट संख्‍या JT610 का उड़ान भरने के महज 13 मिनट बाद ही ग्राउंड ऑफिशियलस से संपर्क टूट गया था क्योंकि जहाज तब दुर्घटनाग्रस्त हो चुका था.

इंडोनेशिया से जो जानकारी प्राप्त हुई है उसके अनुसार, 31 वर्षीय सुनेजा भाव्ये को 6000 उड़ान घंटों का अनुभव था, वहीं उनके सह-पायलट को 5000 से ज्यादा घंटों की उड़ान का अनुभव था.

दुर्घटना में मारे गए लोगों की गणना के प्रश्न पर इंडोनेशिया के बचाव दल के अधिकारी मुहम्‍मद स्‍याउगी ने कहा कि अभी हमें पता नहीं कि इस हादसे में कोई बचा है या नहीं. उन्‍होंने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त विमान के आपातकालीन ट्रांसमीटर में भी देखने पर वहां किसी समस्या संबंधी संकेत प्राप्त नहीं हुआ था. उन्‍होंने आगे कहा कि हैंडफोन और कई अन्‍य सामान पानी प्लेन के क्रैश होने के आसपास 30 मीटर से 35 मीटर (98 से 115 फीट) की गहराई पर पाए गए.

(अर्चना शैरी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here