टीम कोहली ने दर्ज की कंगारुओं पर विराट विजय

भारत की शुरुआत सशक्त है और मैच भारत के अधिकार में है..कंगारुओं के लिये साढ़े तीन सौ रनों का पीछा आसान नहीं होगा

0
671
BENQ

कायदे से आज शुरू हुआ है इंडिया का वर्ल्ड कप सफर.

पिछ्ला याने कि भारत का पहला मैच एक दो बार पराजित हो चुकी दक्षिण अफ्रीका से था, जो भारत का मुकाबला करने में नाकाम रही. पर आज का मुकाबला विश्वकप के पिछले विजेताओं से है. और वैसे भी कंगारू श्रेष्ठ क्रिकेट के लिए जाने जाते हैं.

जब धवन चल निकलते हैं तो फिर चल निकलते हैं, उनकी राह में फिर कुछ नहीं आता. एक अच्छी चीज़ हुई इंडियन पारी की शुरुआत में कि कोई विकेट जल्दी नहीं गया. अक्सर देखा जाता है कि जब शिखर अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो वो मैच भारत जीतता ही है. आठ ओवर्स के बाद 35 बिना विकेट खोये अच्छी शुरुआत थी. रोहित के दस रन २३ गेंदों पर और शिखर के 24 रन 25 गेंदों पर.

फिलहाल स्कोर है दस ओवर्स में भारत के ४१ रन बिना किसी नुकसान के जो कि 12 ओवर्स में बढ़ कर 55 रनों पर पहुंच गया है.

आज के मैच में टीवी पर मैच देख रहे दर्शकों के लिए एक खूबसूरत तोहफा भी पेश किया गया..उनके लिए कमेंटरी कर रहे थे क्रिकेट के दो महान खिलाड़ी – सुनील मनोहर गावस्कर और सचिन रमेश तेंदुलकर. उनको साथ देखना और सुनना अपने आप में एक सुन्दर अनुभव है.

क्रिकेट लीजेन्ड सचिन तेन्दुलकर के अनुसार इस विश्व कप की चार संभावित विजेता टीमें इंडिया, इंग्लैण्ड, ऑस्ट्रेलिया और वेस्ट इंडीज़ हैं.

अब 14 ओवर्स में भारत है 69 रन बिना किसी नुकसान के. शिखर हैं 36 रनों पर जबकि रोहित हैं 30 रनों पर.

पंद्रह ओवर्स में टीम इंडिया है 75 रनों पर बिनका कोई विकेट खोये. इसके बाद सोलह ओवर्स में छह रन और जुड़े जिसमे शिखा का पहली गेंद पर विकेट कीपर के पीछे उछाल दिया गया चौका भी शामिल है. अब स्कोर सोलह ओवर्स के बाद है 81 रन और विकेट शून्य भारतीय टीम का.

रोहित शर्मा ने खोला अपना बल्ला और पहली शार्ट गेंद पर ही छक्का जड़ दिया. शिखर अर्धशतक के करीब 46 रन बना कर. रोहित अड़तीस रनों पर.

रोहित शर्मा ने खोला अपना बल्ला और अठारहवें ओवर की पहली शार्ट गेंद पर ही छक्का जड़ दिया. बॉलर स्टोइनिस हैरान रह गए. शिखर अर्धशतक के करीब 46 रन बना कर. रोहित अड़तीस रनों पर. पिछले मैच में अविजित 122 रन बनाने वाले रोहित आज भी आपने फॉर्म को बरकार रखते हुए आगे बढ़ा रहे हैं टीम इण्डिया का स्कोर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ. सत्रह ओवर्स के बाद भारत का स्कोर है नब्बे रन बिना विकेट खोये.

शिखर ने ५३ गेंदों पर अपना अट्ठाइसवां अर्धशतक पूरा किया स्टोइनिस के इस ओवर में. भारत है 18 ओवर्स के बाद 96 रनों पर.

रोहित भी हैं अपने अर्धशतक के करीब. कंगारुओं के लिए ये अच्छी खबर नहीं है. जब भारत के दोनों विश्वस्तरीय ओपनर्स इतनी सधी हुई शुरुआत दे रहे हों तो मैच ऑस्ट्रेलिया के लिए आसान तो बिलकुल नहीं होगा. सौ रन पूरे भारत के 19 ओवर्स के बाद. रोहित हैं 44 रनोंं पर और शिखर 53 रनों पर.

लग तो ये रहा है कि अच्छी बल्लेबाजी का मुकाबला चल रहा है रोहित और शिखर के बीच. धवन ने स्टायनिस की दूसरी गेंद पर चौका घुमाया. भारत 105 रनों पर. अगली बाल का भी शिखर ने यही हश्र किया. बाल बालर के बगल से होकर सीमारेखा के पार. 20 ओवर्स में भारत के रन 111 बिना कोई विकेट खोये.

फिर मारा रोहित ने भी ओवर की पहली गेंद पर चौका. स्टार्क स्टार्टल्ड हो कर देखते रह गये. विराट कोहली ड्रेसिंग रूम से देख रहे हैं ये मैच और विश्वास से भरे नज़र आ रहे हैं. रोहित शर्मा का भी अर्धशतक पूरा. आज बिलकुल सही वक्त पर शिखर धवन अपने फार्म में वापस आ गये हैं. दबाव में हैं कंगारू. बिना विकेट खोये भारत है 21 ओवर्स के बाद 121 रनों पर. रोहित हैं 55 रनों पर औऱ दूसरे छोर पर शिखर हैं 63 रनों पर.

चल रहा है स्पिनर बॉय जेम्पा का ओवर. भारत के प्रारम्भिक बल्लेबाज़ शिखर और रोहित ऐसा खेल रहे हैं जैसे कि पूरे पचास ओवर खेलने के मूड से मैदान में आये हों. 22 ओवर्स के पश्चात 127 रनों पर भारत बिना किसी क्षति के.

कूल्टर नाइल को भेजा गया है. फिन्च अपने स्तर पर तो पूरी समझदारी से गेन्दबाज़ी में परिवर्तन कर रहे हैं किन्तु सफलता कोसों दूर है उनसे. लेकिन अचानक वो हो गया जिसकी बिलकुल भी आशंका नहीं थी. रोहित कैच आउट हुए जैम्पा की गेन्द पर. भारत 127 रनों पर प्रथम क्षति के साथ.

भारत एक औऱ बार लहरायेंगे तिरंगा एक और बार के अंदाज से ही आगे बढ़ रहा है. सवा सौ रनों पर जब पहला विकेट गिरता है तो विरोधियों को समझ में आ जाता है कि पाला किनसे पड़ा है. शिखर का साथ देने आये हैं एक विकेट गिरने के बाद दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज विराट कोहली.

एडम जेैम्पा फिर आये हैं नया ओवर ले कर. पहली ही गेंद पर भरपूर शॉट मारा शिखर ने. पर चौका रोक लिया गया लॉन्ग ऑन पर. अब भारत को फिर एक बड़ी साझेदारी की आवश्यकता है ताकि कंगारू फिर मैच में वापसी न कर सकें.

जेैम्पा की गेंद पर कोहली को स्लिप पर कैच कराने की योजना है फिंच की. पर कोहली ने समझदारी से एक रन लिया. 24 ओवर्स के बाद 132 रन भारत के एक विकट पर. पांच रन आये जेम्पा के इस ओवर से.

सत्तर गेंद खेल कर बहत्तर रनों पर खेल रहे हैं शिखर धवन. कोहली ने बनाये हैं दो रन. कोहली समझदारी का परिचय दे रहे हैं. आराम से गेंद को सम्मान देते हुए एक एक रन ले रहे हैं. भारत 25 ओवर खेल कर 136 रन एक विकेट की क्षति पर.

आधी ईनिंग के बाद भारत डेढ़ सौ रनों के करीब और विकेट गिरा है मात्र एक. शिखर शतक के निकट आ पहुंचे हैं. ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध शतक बनाना बच्चों का खेल नहीं. पर शिखर तो शिखर हैं. उनको दूसरा वीरू कहें तो अनुचित न होगा. इस ओवर में ग्यारह रन बने हैं और भारत का स्कोर है 147 रन एक विकेट पर. 75 गेन्दों पर 82 रन बना चुके हैं शिखर.

कोहली 14 गेंदें खेल कर 5 रनों पर. विराट को धीरज का ध्यान रखना होगा. उनको चौके की तलाश थी और तीसरी गेंद पर मिल गया चौका. गेंद कमिंस की थी. चौके ने कोहली का विश्वास बढ़ाया है. कमिंस का दबाव हटा है. और कोहली सहज नज़र आ रहे हैं. 27 ओवर्स के बाद भारत के 153 रन.

लगता तो नहीं कि ओवल की यह पिच सपाट है. लेकिन यदि ऐसा है तो फिर स्पिनर्स के लिये अवसर बढ़ जाते हैं. दोनो तरह से ही पिच भारत के विजय का समर्थन करती है. 28 ओवर्स के बाद भारत के 157 रन एक विकेट की क्षति पर.9

सेट बल्लबाज शिखर ने चौका मारा और रन हो गये उनके नब्बे जो तिरासी गेन्दों पर. कोहली अठारह गेन्दों पर बारह रन बना कर उनके साथ हैं. एक विकेट की हानि के साथ भारत 29 ओवर्स के बाद 164 रनो पर.

मैक्सवेल आये हैं गेन्द लेकर. शिखर ने तीसरी गेन्द पर ही चौका जड़ कर उदास किया उनको. 96 रन बन चुके हैं शिखर के. कोहली 21 गेन्दों पर 13 रन बना कर खेल रहे हैं. 30 ओवर्स के बाद भारत के 170 रन.

स्टायनिस का ओवर. कोहली ने कवर पर लिये दो रन. आज रंग में नजर नहीं आ रहे कोहली. 20 गेन्दों पर 15 रन बनाये हैं अब तक. तीसरी गेन्द पर फिर दो रन लिये कोहली ने. शिखर बड़े आराम से खेलते नजर आ रहे हैं. स्लिप में धीरे से गेन्द को सरका कर एक रन लिया औऱ पहंचे 97 पर. . 31 ओवर्स के बाद भारत के 178 रन.

55 गेन्दों पर 53 रनों की पार्टनरशिप हो चुकी है धवन और कोहली के बीच. निन्यानबे रनों के शिखर पर पहुंचे हैं धवन. 32 ओवर्स के बाद भारत के 182 रन. शिखर ने बनाया शतक 95 गेंदों पर. एक दिवसीय क्रिकेट में यह है 17वां शतक शिखर का. भारत 1 विकेट खो कर 33 ओवर्स में 190 रन.

कवर के ऊपर से उछाल कर मारा है चौका शिखर ने. शतक के बाद उनसे तेज़ खेलने की उम्मीद थी. वही किया उन्होंने. गेंदबाज़ हैं मैक्सवेल.

विश्वकप की बात करें तो अब तक विश्वकप में सर्वाधिक 6 शतक लगाने का कीर्तिमान है सचिन तेन्दुलकर के नाम. भारत के 201 रन एक विकेट खोकर 34 ओवर्स में.

अगले पंद्रह ओवर्स में भारत को कम से कम सौ रन बनाने होंगे उस स्थिति में तीन सौ पार का स्कोर दबाव में ला देता है किसी भी विपक्षी टीम को, चाहे वो स्वयं ऑस्ट्रेलिया ही क्यों न हो. 206 रन भारत के एक विकेट की क्षति पर.

39 गेंदों पर 33 रन बना कर मैदान में हैं कप्तान कोहली और शतकवीर शिखर ने चौका मार कर टीम का स्कोर पहंचाया है 219 रनों पर. ओवर्स हो चुके हैं साढ़े छत्तीस. धवन खुद पहुंचे हैं 117 रनों पर. एक ऊंचे शॉट पर कैच आउट हुए शिखर. भारत दो विकेट्स पर 220 रन.

हार्दिक पंड्या आये हैं मैदान में. कोहली 3 रन पीछे हैं अपने अर्धशतक से. 230 रनों पर भारत दो विकेट खो कर. ओवर्स हो चुके हैं उन्तालीस. पंड्या ने तीन गेंदों पर बनाये हैं दो रन. हार्दिक अपने रंग में आते नज़र आ रहे हैं. चौका लगा कर छह रन पूरे किये उन्होंने. भारत 40 ओवर्स में दो विकेट खो कर 237 रन

पचासवां एक दिवसीय शतक पूरा किया कप्तान कोहली ने. हार्दिक अपने रंग में आते नज़र आ रहे हैं. चौका लगा कर छह रन पूरे किये उन्होंने. 43 ओवर्स में दो विकेट पर भारत 267 रन. बचे हैं सात ओवर्स.

मैदान मेंं कोहली मौजूद हैं 59 रन बना कर जबकि हार्दिक पंड्या आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए 19 गेन्दों पर हैं 34 रनों पर. अब तक तीन छक्के लगा चुके हैं हार्दिक. अगली गेन्द पर फिर चौका और पहुंचे 38 रनों पर

कमिंस के ओवर को बड़ा ओवर बना दिया हार्दिक ने. चार गेंदों में तेरह रन बन चुके हैं. 38 गेंदें भारत और खेलेगा और ऑस्ट्रेलिया को दबाव में लाने के लिए उसे 330 से अधिक रन बनाने होंगे.

भारत का स्कोर है 282 रन गेंदें बची हैं और कोहली 61 रनो पर तथा हार्दिक खेल रहे हैं 42 रनों पर. आज दर्शकों ने भी कैच छोड़ा जो अभी मारा कोहली ने और पहुंचाया भारत के स्कोर को 290 रनों पर. इसके पहले जैम्पा ने अभी अभी कैच छोड़ा था विराट का. दो विकेट पर भारत ने बना लिया है 293 रन का स्कोर. गेन्दें बची हैं 30.

45 ओवर्स के बाद यहां से दस रन प्रति ओवर बनाने पर 343 रनों का बड़ा स्कोर बन सकता है. विराट 71 रनों पर और हार्दिक42 रनों पर हैं. हार्दिक ने चौके के साथ पूरे किये 46 रन.

दबाव में आ कर कमिंस ने की है वाइड बॉल. भारत के तीन सौ एक रन बन चुके हैं. 26 गेंदें बची हैं. हार्दिक निर्भीक हो कर खेल रहे हैं और कंगारू जान लगा कर उनके चौके रोकने का प्रयास कर रहे हैं. बार-बार क्षेत्ररक्षण बदला जा रहा है. विचार-विमर्श लगातार चल रहा है. इसका फायदा मिला कंगारुओं को कैच आउट कराया हार्दिक को 48 रन बना कर जा रहे हैं हार्दिक और तालियों की गूंज के साथ मैदान में आ रहे हैं महेन्द्र सिंह धोनी. भारत 302 रन 3 विकेट पर.

पहली गेंद पर ही छक्का मार कर टीम का स्कोर पहुँचाया तीन सौ सात पर. चौका लगाया धोनी ने विकेट कीपर के पीछे कट लगा कर. यह सैन्तालिसवां ओवर फेंक रहे हैं स्टार्क. पन्द्रह रन दिये अपने इस ओवर से.

पिछले पांच ओवर्स में लगभग बारह रन प्रति ओवर की दर से रन बनाएं हैं भारत ने. 318 रन हुए हैं 14 गेन्दें बची हैं. धोनी के हैं 9 रन जो 6 गेन्दो पर बनाये हैं उन्होंने. स्टायनिस अच्छी गेन्दबाजी कर रहे हैं इस ओवर में. दबाव में चौथी गेन्द वाइड फेंक बैठे. चौथी गेन्द पर चौक लगाया माही ने. भारत का स्कोर चार विकेट पर 325 रन.

आखिरी 12 गेन्दें बची हैं. 25 रन तो बनने ही चाहिये. साढ़े तीन सौ कंगारुओं को पराजित करने के लिये पर्याप्त से अधिक होगा. स्टार्क का छक्का मार कर स्वागत किया माही ने. कैच पकड़ा दर्शक ने. अगली गेन्द पर फिर जोरदार प्रहार. चौका मिला. 338 रन भारत के. .

अब 6 गेन्दे बची हैं. 20 रन तो मारने होंगे दोनो बड़े बल्लेबाजों को. धोनी कैच आउट हुए स्टायनिस के हाथों. बनाये 27 रन अब शायद आयेंगे केएल राहुल. 5 गेन्दों को उनका मुकाम देने के लिये. राहुल ही आये. पहली ही गेन्द पर जड़ा छक्का. 345 रन भारत के बची हैं तीन गेन्दें. सामने हैं कोहली. लिये दो रन कोहली ने.

82 रन बना कर कैच आउट हुए कप्तान कोहली. 77 गेन्दों पर कप्तानी पारी खेल कर जा रहे हैं पैवेलियन की तरफ. भारत का स्कोर 348 रन पांच विकेट्स पर. केदार जाधव आये हैं चौका जड़ कर भारत का स्कोर पहुंचाया 352/5 रनों पर. पूरी हुई भारतीय पारी, आस्ट्रेलिया को बनाने होंगे 353 रन यदि जीतने का मनोबल अभी भी बचा हो तो.

सम्हल कर खेलने और तीन सौ तिरपन रन बनाने उतरी ऑस्ट्रेलिया. बुमरा और भुवनेश्वर की अच्छी गेंदबाज़ी को सम्हल कर खेलना शुरू किया है. छह वर्ष में बनाये कुल 19 रन. कप्तान पंड्या को लाये गेंदबाज़ी आक्रमण पर.

8 ओवर्स में ऑस्ट्रेलिया ने बनाये हैं बिना कोई विकेट खोये 24 रन मैदान पर समझदारी से खेल रहे हैं वार्नर और कप्तान फिन्च.

पंड्या को लाना लाभदायक सिद्ध न हो सका. वे महंगे साबित हुए और काफी रन पड़वा दिए उन्होंने. जवाब में कुलदीप यादव की आवश्यकता अनुभव हुई और उनको भी बुलाया गया गेंद लेकर. दसवें ओवर में की गेंदबाज़ी में कुलदीप ने सिर्फ चार रन दिए.

चल रहा है बारहवां ओवर. हार्दिक को फिर स्मरण किया कप्तान ने. हार्दिक समझदार गेन्दबाज हैं. इस ओवर में सटीक गेन्दबाजी की उन्होने. 12ओवर्स के बाद कंगारू हैं 53 रनों पर बिना किसी क्षति के.

कुलदीप वापस मंगाए गए हैं गेंदबाज़ी आक्रमण पर. फिन्चा घातक बल्लेबाज हैं. रंग में आगये तो किसी भी स्कोर का पीछा कर सकते हैं. लम्बे लम्बे शाट्स मारना जानते हैं. इसलिये उनको नियंत्रण में रखना या पैवेलियन भेजना दोनो ही चुनौतियांं हैं फिलहाल भारतीय गेन्दबाजों के समक्ष.

अचानक मैच में एक मोड़ आया और फिंच रन आउट हो गए. दूसरा रन था ही नहीं लेकिन फिर भी बड़े लक्ष्य का पीछा करना मानसिक दबाव पैदा करता है. वही हुआ और फिंच चल पड़े पैवेलियन. गेंदबाज़ थे हार्दिक और रन आउट भी उन्होंने ही किया. यद्यपि इस प्रयास में उनकी ऊँगली चोटिल भी हुई. पर एक बड़े ओपनर को आउट करने की प्रसन्नता में ये पीड़ा कहीं दब गई. 62 रनों पर कंगारू एक विकेट खो कर. हां यहां प्रशंसा उस सटीक थ्रो की भी करनी होगी जो जाधव ने की और उसे पकड़ कर रनर एन्ड पर फिन्च को आउट किया हार्दिक ने.

बड़ी बात यहां ये हुई है कि बड़े लक्ष्य का पीछा करने में समर्थ एक बड़े बल्लेबाज को भारतीय दल ने पहुंचाया है उनके मुकाम पर अर्थात पैवेलियन में. पन्द्रह ओवर्स के बाद आस्ट्रेलिया 72 रनों पर एक विकेट खो कर. इस समय भारत ने अस्सी रन बनाये थे बिना कोई विकेट खोये.

स्टीव स्मिथ आये हैं मैदान में. हार्दिक ने समझदारी के साथ मिश्रण करते हुए गेंदबाज़ी की इस सोलहवें ओवर में. सिर्फ दो रन दिए और दो बार बीट किया बल्लेबाज़ को. सोलह ओवर्स के बाद 75 रनों पर हैं कंगारू खोया है एक विकेट.

ड्रिंक्स के बाद आक्रमण पर आये हैं कुलदीप. पीछे से धोनी के दिशानिर्देश शुरू हो गए हैं जिनका सदा ही गेंदबाज़ों को लाभ मिलता है. गेंदबाज़ के साथ बात करते हुए लेंथ और रफ्तार तथा दिशा के बारे में उसको परामर्श देते रहते हैं. धोनी की मदद से कुलदीप की गेंदबाज़ी अधिक घातक हो जाती है.

17 ओवर्स के बाद 79 रनों पर ऑस्ट्रेलिया एक विकेट खो कर. कुलदीप ने दिये अपने ओवर में मात्र 4 रन.अब आक्रमण पर उनको बुलाया गया है जिनसे विकेट की दरकार है कप्तान को. आये हैं चहल. आठ रन दिए चल ने. अठारह ओवर्स में बने हैं ऑस्ट्रेलिया के 87 रन.

पांचवा ओवर करने आये हैं कुलदीप. अपने पिछले मैच में ऑस्ट्रेलिया ने वेस्ट इंडीज़ को पराजित किया था जिसमें स्टीव स्मिथ ने अहम् 73 रनों का योगदान दिया था. एक साल के निषेध के बाद ऑस्ट्रेलियन टीम में वापसी करने वाले डेविड वार्नर अच्छे फॉर्म में हैं, जो किसी भी विरोधी टीम के लिए चिंता का कारण होता है.

मैदान के ऊपर काले बादलों का मंडराना भी थोड़ा चिंताजनक है. चहल भी आये हैं खतरा ले कर मंडराते हुए ऑस्ट्रेलियन बल्लेबाज़ों के ऊपर. चल रहा है बीसवां ओवर. पांच रन दिए चहल ने अपने ओवर में. 20 ओवर्स के बाद कंगारुओं के हुए 99 रन.

कप्तान ने फिर बुलाया अपने ट्रम्प कार्ड बुमरा को. इक्कीसवाँ ओवर ले कर आये हैं बुमरा. बहुत उम्मीद है सभी को उनसे. वार्नर भी एक रन दूर हैं अपने अर्धशतक से. उनकी टीम ने पूरे कर लिए सौ रन. स्कोर है 104 रन एक विकेट पर.

अब सबसे अधिक आवश्यकता है वार्नर को आउट करने की. ऐसा करके मैच को अपने पक्ष में सील कर सकती है टीम इण्डिया. स्मिथ 14 गेंदों पर 14 रन बना कर साथ निभा रहे हैं वार्नर का. अभी ख्वाजा और स्टोइनिस जैसे बल्लेबाज़ भी बचे हैं जो बड़े स्कोर बनाने में समर्थ हैं.

बुलाया केदार जाधव को. पर उन्होंने स्टीव स्मिथ को खिजाने के अतिरिक्त 12 भी दिए अपने ओवर से. हार्दिक पंड्या को बुलाया गया है. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर है 124 एक विकेट खो कर. ओवर हुए हैं 23 . 46 रनों की साझेदारी हो गई है स्मिथ और वार्नर के बीच.

और अचानक आया वह मोड़ जिसकी प्रतीक्षा इंडियन खेमे को थी. टीम इण्डिया के आम आदमी ने ले लिया टीम आस्ट्रेलिया के ख़ास आदमी का. चहल ने आउट किया वार्नर को. एक सौ पैंतीस रनों पर दो विकेट हो चुके हैं ऑस्ट्रेलिया के. ओवर पूरे हुए हैं 25. बहुत बड़ा विकेट है ये. मेरे विचार से इस मुकाम पर ऑस्ट्रेलिया ने विकेट नहीं मैच खो दिया है.

एक छोर पर हैं स्टीव स्मिथ दुसरे छोर पर वार्नर के स्थान पर आये हैं प्रतिभाशाली बल्लेबाज़ उस्मान ख्वाजा. गेंदबाज़ी पर हैं हार्दिक पंड्या. ओवर है ये छब्बिसवाँ. उस्मान सम्हल कर खले रहे हैं.

भारतीय क्षेत्ररक्षण की प्रशंसा करनी होगी. वे जानते हैं कि वे ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध खेल रहे हैं.

और संक्षेप में यह बताते हुए प्रसन्नता हो रही है कि पूरी कंगारू टीम 316 रनों पर आउट हो गई. कंगारुओं के प्रारंभिक बल्लेबाजों वार्नर औऱ स्मिथ ने अच्छी शुरुआत की पर वे उसे विजय में परिवर्तित करने में असफल रहे. मध्यक्रम ने अच्छा पराक्रम दिखाया विशेषकर कैरी ने 55 नाबाद रन बनाये फिर भी विजय उनसे 36 रन दूर रही.

भारतीय गेन्दबाजों ने अपना सौ प्रतिशत दिया. बुमरा और भुवनेश्वर दोनो ने 3-3 विकेट लिये जबकि चहल ने दो विकेट झटके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here