भारतीय सेना ने POK में आतंकी कैम्प तबाह किये, कांग्रेस असंतुष्ट

0
353
From left, Indian army Brig. Gen. RS Yadav, the commander of the 94th Armored Brigade, Indian army Maj. Gen. Anil Malik, the commander of the 31st Armored Division, and U.S. Army Col. James Isenhower, the commander of 2nd Squadron, 14th Cavalry Regiment, 2nd Stryker Brigade Combat Team, 25th Infantry Division, watch the flight of an unmanned aerial vehicle on a computer during a demonstration for exercise Yudh Abhyas 2009 in Babina, India, Oct. 16, 2009. Yudh Abhyas is a bilateral exercise hosted by the Indian army and is designed to promote cooperation between the U.S. and Indian militaries through training, cultural exchanges and the building of joint operating skills. (DoD photo by Sgt. 1st Class Rodney Jackson, U.S. Army/Released)

आज कांग्रेसी सेना को शाबाशी दे रहे, मोदी को नहीं, मोदी से तो कल सबूत मांगेंगे – आज वोटिंग के बाद – कल सुबह जब खबर आई कि पाकिस्तान के सीज़फायर तोड़ने पर 2 जवान शहीद हो गए और 3 नागरिक घायल भी हुए, तभी मुझे आभास हुआ था कि अबकी बार सेना बदला लेने में देर नहीं लगाएगी और दोपहर तक खबर मिल गई कि सेना ने POK में पाकिस्तान के आतंकी कैम्पों को तबाह कर 10 से ज्यादा सैनिक और 20 से ज्यादा आतंकी मार दिए –अब सही संख्या क्या रही वो तो बाद में पता चलेगा -जैसे जैसे पाकिस्तान और कांग्रेस को दर्द बढ़ेगा.

कल कांग्रेस के एक नेता अखिलेश सिंह ने तो इस सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठा दिया जो कांग्रेस की अंदरूनी सोच के अनुसार ही उठाया –उन्होंने कहा –

” जब भी बड़े चुनाव करीब आते हैं, तो सर्जिकल स्ट्राइक का पैटर्न शुरू हो जाता है. अब सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर राजनीति की जाएगी.- ये लोगों का ध्यान असल मुद्दों से भटकाना चाहते हैं. सोमवार को महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनाव हैं, इससे पहले ही ये कार्रवाई हुई”.

ये तो कांग्रेस की अंदर की आवाज़ निकली अखिलेश सिंह के मुंह से जबकि दिखावे के लिए अभिषेक मनु सिंघवी, कुमारी शैलजा ने सेना की तारीफ की –सिंघवी ने कहा कि हमें आपकी वीरता और साहस पर गर्व है और शैलजा ने कहा हमारी सेना पूरी तरह सक्षम है और उसने देश को हमेशा सुरक्षित रखा है.

इन कांग्रेसी नेताओं को पता है कि सेना ऐसा अभियान बिना सरकार की इच्छाशक्ति और आदेश के नहीं करती लेकिन ये नेता इस अभियान के लिए मोदी की तारीफ करने की गलती नहीं करते — अभी तक विपक्ष के और नेताओं और लुटियन के दलाल पत्रकारों ने मोदी तो क्या सेना की भी तारीफ नहीं की है.

कांग्रेस और विपक्ष ने बालाकोट में भी एयर स्ट्राइक के लिए एक बार तो एयर फ़ोर्स की तारीफ कर दी थी मगर फिर एक स्वर में अगले ही दिन सबूत मांगने शुरू कर दिए थे नरेंद्र मोदी से – कुछ नेताओं ने तो पुलवामा को मोदी और इमरान खान का फिक्स मैच भी कह दिया था और कांग्रेस के एक भोंपू नेता (जिसकी बोलती आजकल बंद है) ने तो यहां तक कह दिया था कि बालाकोट में तो पेड़ गिरा कर आ गए, कोई मरा ही नहीं .

अब फिर यही होगा, आज चुनाव निकलने के बाद या एक दो दिन बाद अखिलेश सिंह की भाषा बोलते हुए सभी कांग्रेसी अपने अपने बिलों से बाहर निकलेंगे और लीपा घाटी में आतंकी शिविरों को नष्ट करने के सबूत मांगेंगे –कितने मरे उनके भी सबूत मांगेंगे क्यूंकि उन्हें पाकिस्तान से इशारा आएगा –आखिर हैं तो पाकिस्तान की स्लीपर सेल कांग्रेस के नेता क्यूंकि उन्ही के बयान तो पाकिस्तान उपयोग करता है भारत के खिलाफ.

(सुभाष चन्द्र)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here