जानना जरूरी है: क्या बंद होने जा रहे हैं 2 हज़ार रुपए के नोट?

RBI की सालाना रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले एक साल में 2 हज़ार रुपये का एक भी नोट नहीं छापा गया है.

1
366

नोटबंदी (Demonetizaion) के दौरान शुरू हुए 2 हज़ार के नोटों का सर्कुलेशन कम हो गया. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने अपनी सालाना रिपोर्ट में कहा कि साल 2019-20 में 2000 रुपये के नोट (2000 Rupee Note Printing) की छपाई नहीं की गई है. पिछले कुछ सालों में भी 2000 रुपये के नोट का सर्कुलेशन भी कम हुआ है. आरबीआई ने अपनी सालाना रिपोर्ट में कहा कि मार्च 2020 के अंत तक 2000 रुपये के नोट का सर्कुलेशन घटकर 27,398 लाख पीस पर आ गया है.

2000 रुपये के नोट का सर्कुलेशन (2000 Rupee Note Circulation) मार्च 2018 के अंत में 33,632 लाख पीस था जो मार्च 2019 के अंत तक घटकर 32,910 लाख पीस पर आ गया. हालांकि सरकार ने साफ कर दिया है कि 2 हज़ार के नोट बंद करने की सरकार की कोई योजना नहीं है.

वित्त और कारपोरेट मामलों के राज्य मंत्री (Minister of State for Finance & Corporate Affairs Anurag Thakur) अनुराग सिंह ठाकुर ने सोशल मीडिया पर छाई 2000 रुपये के नोट को बंद करने की खबरों का खंडन करते हुए कहा था कि ‘सरकार की फिलहाल 2,000 रुपये का नोट बंद करने की कोई योजना नहीं है.

आरबीआई ने कोरोना काल के दौरान प्रभावित हो रही अर्थव्यवस्था को लेकर व्यापक सुधारों की जरूरत पर ज़ोर दिया है. आरबीआई ने कहा कि कोविड-19 महामारी के बीच भारत को सतत वृद्धि की राह पर लौटने के लिए गहरे और व्यापक सुधारों की जरूरत है.RBI ने आगाह किया है कि कोरोना महामारी की वजह से देश की संभावित वृद्धि दर की क्षमता नीचे आएगी क्योंकि कोविड-19 महामारी ने वैश्विक अर्थव्यवस्था को बुरी तरह से तोड़ दिया है. भविष्य में वैश्विक अर्थव्यवस्था का आकार इस बात पर निर्भर करेगा कि इस महामारी का फैलाव कैसा रहता है, यह महामारी कब तक रहती है और कब तक इसके इलाज का टीका आता है. केंद्रीय बैंक का ‘आकलन और संभावनाएं 2019-20’ की वार्षिक रिपोर्ट का हिस्सा हैं.

2 हज़ार रुपये के नोट को लेकर लगातार अलग अलग खबरें आ रही थीं. ऐसी आशंकाएं तैर रही थीं कि क्या दो हज़ार रुपए का नोट बंद हो जाएगा. RBI की सालाना रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले एक साल में 2 हज़ार रुपये का एक भी नोट नहीं छापा गया है. ऐसे में 2 हज़ार रुपए के नोट की प्रिंटिंग नहीं होने और सर्कुलेशन कम होने की वजह से आशंकाओं को बल भी मिलता है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here