Courtesy-twitter
Courtesy-twitter

हिममानव के वजूद और मौजूदगी के सवालों पर से भारतीय सेना ने सबसे बड़ा पर्दा हटाया है.

सेना ने पहली दफे हिमालय में येती यानी हिममानव की मौजूदगी का बड़ा दावा किया है. सेना का दावा है कि उसने बर्फ में दबे दुनिया के सबसे बड़े और प्राचीन रहस्य की परत से पर्दा हटा दिया है.

दरअसल, सेना को पहली दफे बर्फ पर पैरों के ऐसे निशान मिले जो कि आम इंसान से 32 गुना बड़े हैं. सेना ने ट्वीट कर ये तस्वीरें जारी की हैं. भारतीय सेना की माउंटेयरिंग एक्सपेडिशन टीम को बर्फ पर बड़े पैरों के निशान नजर आए हैं. सेना के मुताबिक ये निशान येती यानी हिममानव के हो सकते हैं. भारतीय सेना की माउंटेयरिंग एक्सपेडिशन टीम के मुताबकि मकालू बेस कैंप के पास  बर्फ में येती के निशान दिखाई दिए. साथ ही सेना ने ये भी कहा है कि पहले भी मकालू वरुण नेशनल पार्क में हिम मानव के दिखने का आभास हुआ.

ये घटना 9 अप्रैल की है लेकिन सेना ने इसे 20 दिन बाद 29 अप्रैल को ट्विटर पर शेयर किया. हिममानव की तस्वीरें शेयर करते हुए सेना का दावा है कि बर्फ के पहाड़ों पर येती ने एक बार फिर अपनी मौजूदगी की दस्तक दे दी है. इंडियन आर्मी की ट्वीट की गई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वाइरल हो गई हैं. तस्वीरों में पैरों के निशानों का एक लंबा सिलसिला सा चल रहा है. ऐसी तस्वीरें पहले नहीं देखी गई हैं.

Courtesy-twitter

हिममानव को लेकर मशहूर किंवदंतियों में बताया गया है कि बंदरों की शक्ल वाला एक जीव इंसानों की तरह दो पैरों पर चलता है और इसका शरीर बेहद ऊंचा और भारी होता है. ये भी दावा किया जाता है कि इंसानी बस्तियों से खुद को दूर रखने वाला ये जीव सैकड़ों साल से दुनिया में कौतूहल का विषय है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here