IPL 2019 का 19वाँ दिन : पंजाब के जवाब में मुंबई ने पेश किया जबर्दस्त मुकाबला

गेल का आउट होना आज बिलकुल वैसा ही था जैसे महाभारत में घटोत्कच के धराशायी होने पर कौरव खेमे में ख़ुशी की लहर दौड़ी थी..

0
624

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में ये आज 19 वे दिन का बहुत जबरदस्त मैच था ..जिसकी पहली पारी में गेल नज़र आये अपने पूरे फॉर्म में

टॉस जीत कर मुंबई ने पंजाब को बैटिंग का न्योता दिया. दूसरे पायदान पर किंग्स इलेवन पंजाब के गेल की चल गई रेल. पांचवे पायदान पर खड़ी मुंबई इंडियंस में रोहित शर्मा की अनुपस्थिति के कारण आज पोलार्ड ने कप्तानी की.

हार्दिक के ओवर में दबाव इतना था कि दो छक्कों और दो चौक्कों के बाद उनको दो बार नो बॉल करने को मजबूर किया. फिर आये राहुल चहर जिन्होंने दो बालों पर गेल को बीट किया लेकिन उनकी अंतिम गेंद पर छक्का मार कर उनको उदास कर दिया गेल ने.

दस ओवर्स के बाद 93 रनों पर बिना कोई विकेट खोये पंजाब मजबूती से आगे बढ़ती रही. क्रुणाल पंड्या की दूसरी गेंद पर गेल ने छक्का मार कर इस प्रतियोगिता में अपना दूसरा अर्धशतक पूरा किया. गेल ने 31 गेंदों पर बना लिये थे 55 रन.

103 रन बन चुके थे ग्यारहवें ओवर में. 34 गेंदें खेल कर दूसरे छोर पर के एल राहुल 45 रन जोड़ चुके थे. अगले ओवर में फिर गेल ने पहली गेंद पर ही राहुल चाहर को छक्का मार कर स्कोर बोर्ड पर अपने निजी 61 रन चढ़ा दिये थे. 182 के स्ट्राइक रेट से खेल रहे गेल ने अब तक सात छक्के और तीन चौक्के लगा कर मैदान में मुंबई इंडियंस के फील्डर्स से ज्यादा मेहनत नहीं करवाई. 12 ओवर्स में किंग्स इलेवन पंजाब ने बना लिए थे 113 रन और अब कुल 20 ओवर्स में प्रोजेक्टेड स्कोर 187 हो चुका था. गेल को तेज खेलते देख कर केएल राहुल थोड़ा धीमा खेलने लगे. और अगली सात गेंदों में उन्होंने 9 ही रन बनाये.

अचानक मुंबई को बहुत बड़ी राहत मिली जब 36 गेंदों पर 63 रन बना चुके गेल को बेहरनडार्फ ने कैच आउट करा दिया. ये बिलकुल वैसा ही था जैसे महाभारत में घटोत्कच के धराशायी होने पर कौरव खेमे में ख़ुशी की लहर दौड़ी थी. और इस समय स्कोर था 117 रनों पर एक विकेट. अब तक ओवर्स हुए थे 13.

अब उतरे डेविड मिलर. लेकिन समझदारी से बॉलिंग कर रहे राहुल चहर ने मिलर को खुल कर खेलने नहीं दिया. इस चौदहवें ओवर में दो सिंगल्स और एक दो रनों के साथ आये सिर्फ चार रन. ओवर्स पूरे हुए 14 और रन बने 121. 44 गेन्दें खेल कर राहुल थे अपने निज 55 रनों के स्कोर पर. मिलर ने खेली थीं 5 गेन्दें और बनाये थे सिर्फ 2 रन.

एक चौक्का मार कर कैच आउट हुए डेविड मिलर. मैदान में लगने लगा कि मैच वापस आ गया है इंडियंस की पकड़ में. साढ़े पंद्रह ओवर में दो विकेट हो गए थे और रन थे 134. अब थर्ड डाउन मैदान में आये करुण नायर. लेकिन दोनो ही बल्लेबाजों को खुल कर खेलने से रोक दिया है मुंबई के गेन्दबाजों ने. और फिर करुण नायर भी 5 गेन्दों पर 5 रन बना कर पैवेलियन चल पड़े. 16.5 ओवर्स में 141 रनों पर पंजाब के विकेट गिर चुके थे तीन. करुण को आउट कराने वाली गेन्द थी हार्दिक पंड्या की. हार्दिक ने इस ओवर में दिये थे सिर्फ 5 रन.

बचे हुए 3 ओवर्स के खेल के लिये केएल राहुल का साथ देने उतरे एस. करन जिन्होंने आते ही बुमराह की पहली गेन्द पर चौका जड़ दिया. स्कोर पहुंचा 147 रनों पर 3 विकेट्स. अगली गेन्द पर फिर बुमराह को बाउन्ड्री पर पहुंचाया करन ने. स्कोर अब था 151 रनों पर 3 विकेट्स. ये अठारहवाँ ओवर चल रहा था. एस करन को भी ओवर की तीसरी गेन्द पर बुमराह ने कैच आउट करा दिया विकेट कीपर के हाँथों.

अब मैदान में उतरे मनदीप. वे कुछ ख़ास नहीं कर पाए. लेकिन दूसरे छोर पर केएल राहुल ने बढ़ाई रनों की गति. बुमराह के ओवर में चौका मार कर स्कोर पहुंचाया 159 रनों पर चार विकेट.

उन्नीसवें ओवर में राहुल ने हार्दिक पंड्या के ओवर में तीन छक्के और एक चौक्का लगा कर कुल तेईस रन ले कर धमाका कर दिया. स्कोर हुआ 184 रनों पर चार विकेट्स. अब आया पारी का अंतिम ओवर. 92 रनों पर खेल रहे राहुल ने बुमराह का स्वागत छक्का मार कर किया. 98 रन बना चुके थे राहुल अब और बॉल्स बची थीं 5. बुमराह की अगली गेंद पर कोई रन न बन सका.

तीसरी गेंद थी बाउंसर जिस पर भी कोई रन नहीं बन सका. शतक से दो रन पीछे थे राहुल लेकिन गेंदबाज़ी कर रहे थे बुमराह. चौथी गेंद पर दो रन बना कर मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में पहला शतक लगाया राहुल ने. 63 गेंदों पर बनाये सौ रन. पांचवीं गेंद पर कोई रन नहीं बन सका और आखिरी गेंद पर मन्दीप ने घुमाया बल्ला और लगाया चौक्का.

किंग्स इलेवन पंजाब ने कुल 20 ओवर्स में बनाये 197 रन और विकेट खोये सिर्फ चार. अब जीत के लिए बनाने थे मुंबई को 198 रन.

मुंबई ने बड़ी मजबूती से लक्ष्य का पीछा किया. कायरन पोलार्ड ने कप्तानी पारी खेली. रोहित की अनुपस्थिति में पोलार्ड ने आज कप्तानी की थी और कप्तानी के साथा साथ बल्लेबाजी में भी जम कर जौहर दिखाये.

हालांकि शुरु में लगे कुछ झटकों के बाद मुंबई के लिये जीत हासिल करना आसान नहीं लग रहा था, लेकिन पोलार्ड ने एक छोर अकेले संभालते हुए तेजी से रन बटोरे और अपनी टीम को जीत दिलाई. पोलार्ड की 31 गेंदों पर 10 छक्के और 3 चौकों की मदद से खेली गई 83 रनों की पारी के दम पर मुंबई ने आखिरी गेंद पर 7 विकेट खोकर विजय का लक्ष्य हासिल कर लिया.

अंतिम ओवर में पोलार्ड के आउट होने पर एक समय ऐसा लगने लगा था कि सुपर ओवर खेला जा सकता है. अंतिम गेंद पर जीत के लिये दो रन लेने थे और जोसेफ ने बालर के बगल से बाल को हिट करक तेजी से दौड़ कर दो रन निकाल लिये. इस तरह मुंबई एलेवन प्वांट टेबल में तीसरे पायदान पर आ पहुंची है जबकि पंजाब चौथे नंबर पर फिसल गई है.

(इन्दिरा राय)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here