हनुमान जी का चित्र शेयर किया Brazil के राष्‍ट्रपति ने और PM Modi को दिया धन्यवाद

राम जी के भक्त महावीर हनुमान के प्रति सम्मान प्रदर्शित करते हुए उनका चित्र साझा किया है राष्ट्रपति बोल्सोनारो ने

0
607

रियो डि जेनेरियो. भारत ने फिर मैत्री का धर्म निभाया है और अपनी कोरोना वैक्सीन ब्राज़ील पहुंचाई है. इसके बाद चीनी वायरस कोरोना के संक्रमण से बुरी तरह पीड़ित ब्राज़ील की जान में जान आई है और उसे अब इस बीमारी से अपने देश के लोगों की सुरक्षा की उम्मीद ज़िंदा हो गई है. भारत से कोरोना वैक्सीन के ब्राजील रवाना किये जाने के बाद ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो का एक ट्वीट सामने आया है.

पीएम मोदी से कहा -थैंक यू !

ब्राजील भारत का पुराना मित्र है और पीएम मोदी के शासनकाल में ये मित्रता और सशक्त हुई है. कोरोना काल में दुनिया में दूसरा सबसे अधिक पीड़ित देश ब्राजील ही रहा है ऐसे में कोरोना वायरस वैक्सीन की उसे जितनी जरूरत थी उतना ही इन्तजार भी था. जब भारत ने अपनी कोरोना वैक्सीन ब्राजील के लिए रवाना कर दी तो ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो ने एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार प्रकट किया और साथ ही हनुमान जी की तस्‍वीर भी शेयर की.

ये था ब्राजील के राष्ट्रपति का ट्वीट

ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो के ट्वीट में भारत और भारत के प्रधानमंत्री के प्रति कृतज्ञता की झलक थी. उन्होंने अपने ट्वीट में हुए लिखा, ‘नमस्कार, प्राइम मिनिस्टर नरेन्द्र मोदी. कोरोना महामारी के इस दौर में ब्राज़ील आपके जैसा महान मित्र पाकर स्वयं को सम्मानित महसूस कर रहा है. कोरोना वैक्सीन को भारत से ब्राजील पहुंचाने के लिए आपका धन्यवाद.’ इस ट्वीट की खासियत ये भी थी कि राष्ट्रपति बोल्सोनारो ने हिंदी में अलग से धन्यवाद भी लिखा.

भारत की कोरोना वैक्सीन दो देशों में पहुंची

20 जनवरी से ही भारत ने बांग्लादेश, नेपाल, भूटान, मालदीव, सेशेल्स और म्यामांर अपनी वैक्सीन भेजनी शुरू कर दी है. अब 22 जनवरी शुक्रवार की सुबह भारत की वैक्सीन ब्राज़ील और मोरक्को पहुँच गई है. भारतीय विमान मुंबई हवाई अड्डे से कोविशील्ड वैक्सीन की बीस – बीस लाख खुराक लेकर इन दोनों देशों के लिए रवाना हुए थे. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा तैयार कोविशील्ड वैक्सीन की 1.417 करोड़ खुराक विभिन्न अंतरराष्ट्रीय एवं घरेलू स्थानों तक पहुंचाई गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here