Republic Bharat के एंकर विकास शर्मा नहीं रहे !

रिपब्लिक भारत चैनल के नौ बजे के शो की दमदार आवाज़ हमें सुनाई नहीं देगी, विकास शर्मा अब हमारे बीच नहीं रहे..

0
400

कोरोना महामारी ने छीन लिया हमारे एक प्रिय एंकर को जो न्यूज़ चैनल रिपब्लिक भारत की एक शानदार आवाज़ था. विकास शर्मा को अब हम टीवी पर नहीं देख पाएंगे क्योंकि अब उन्होंने हम सभी को अलविदा कह दिया है.

ये भारत की बात है’ – विकास शर्मा का प्रथम परिचय था और उनका दूसरा परिचय भी उनकी आवाज़ की तरह दमदार था – वे एक देशभक्त पत्रकार थे.

रात्रि नौ बजे के देश के नंबर वन न्यूज़ शो ‘ये भारत की बात है’ के एंकर थे विकास शर्मा. कुछ दिन पूर्व वे कोरोना संक्रमण को मात देकर घर वापस आ गये थे लेकिन फिर उसके बाद अचानक ऐसेे बीमार हुए कि तीन दिनों तक अस्पताल में ज़िन्दगी औऱ मौत के बीच झूलते रहे. और उसके बाद उन्होंने आंखें बन्द कर लीं. 

अपनी आवाज़ का जादू बिखेरते हुए रिपब्लिक भारत के नौ बजे के शो को प्रस्तुत करने वाले देश के नंबर वन एंकर थे विकास शर्मा. प्रभावशाली प्रस्तुति के अपने अन्दाज़ से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर देने वाले विकास न केवल एक बहुत अच्छे पत्रकार के रूप में जाने जाते थे, वे असल जिंदगी में भी एक बहुत अच्छे इंसान थे.

रिपब्लिक भारत के पूर्व विकास ‘समाचार प्लस’ चैनल में कार्यरत थे जहां उन्होंने टेलीविज़न पत्रकारिता का एक दीर्घतकालिक अनुभव लिया. 2014 से 2019 तक पांच वर्ष समाचार प्लस को पत्रकारिता की सेवायें देने के बाद डेढ़ वर्ष पूर्व विकास रिपब्लिक भारत से जुड़े थे.

विकास शर्मा ने अपने जीवन के लगभग पंद्रह वर्ष देश की टेलीविज़न पत्रकारिता को दिए. बतौर एंकर/प्रोड्यूसर विकास ने रिपब्लिक भारत में राष्ट्रवादी पत्रकारिता की जिम्मेदारी सम्हाली थी. टीवी पत्रकारिता के अपने पंद्रह वर्षों में विकास ने देश के कई मीडिया संस्थानों में काम किया और अंत में रिपब्लिक भारत के सितारा एंकर बने.

रिपब्लिक भारत के पहले विकास शर्मा ने ‘समाचार प्लस’, ‘इंडिया न्यूज’, ‘जनता टीवी’, ‘साधना न्यूज’ और ‘टोटल टीवी’ में भी एंकर के तौर पर कार्य किया. इसके अतिरिक्त वे ‘टीवी100 उत्तराखंड’ चैनल में रिपोर्टर और एंकर पद पर कार्य कर चुके हैं. उन्होंने ‘एफएम रेनबो’ दिल्ली में भी काम किया और उसके बाद ‘S1’ न्यूज चैनल की शुरुआत के साथ उन्होंने टेलीविज़न पत्रकारिता के करियर का श्रीगणेश किया था और इस दौरान वे न्यूज डेस्क पर काम कर रहे थे.

मूल रूप से कानपुर के रहने विकास शर्मा टेलीविज़न पत्रकारिता के पूर्व अखबारी पत्रकारिता में कार्यरत रहे. उन्होंने ‘हिन्दुस्तान’, ‘नवभारत टाइम्स’ और ‘जनसत्ता’ में फ्रीलांस रिपोर्टर के तौर पर काम किया था. उन्होंने कानपुर विश्वविद्यालय से बीएससी करने के बाद माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय में प्रवेश लिया और संस्थान के नोएडा कैंपस से ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म में एमए की डिग्री अर्जित की थी.

विकास ने अपने शो को नंबर वन बनाने के लिए बहुत कड़ा परिश्रम किया था किन्तु अचानक ही वे अपने सभी प्रशंसकों से बहुत दूर चले गए और अब कभी वापस नहीं आएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here