Solar Eclipse 2020: देश भर में देखा गया सदी का सबसे बड़ा और साल का पहला सूर्य ग्रहण , 25 साल बाद दिखा ‘रिंग आफ फायर’ (Ring of Fire)

राजस्थान, हरियाणा और उत्तराखंड में वलयाकार सूर्यग्रहण दिखाई देगा.

0
260
साल के सबसे बड़े दिन सबसे लंबा सूर्यग्रहण शुरू courtesy - weather.com
  • ओमान में सबसे पहले दिखा 1 मिनट के लिए रिंग ऑफ फायर
  • दोपहर 3 बजकर 4 मिनट पर खत्म होगा सूर्य ग्रहण
  • भारत में तकरीबन 6 घंटे तक रहेगा सूर्य ग्रहण

21 जून को साल का सबसे बड़ा सूर्य ग्रहण शुरू हो चुका है. ये ग्रहण देश के अलग अलग हिस्से में अलग अलग समय पर दिखेगा. सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर शुरू हुआ सूर्यग्रहण दोपहर 3 बजकर 4 मिनट पर खत्म होगा. ऐसे में तमाम लोग सूर्य ग्रहण से जुड़ी सावधानियां को बरतने में कोताही नहीं बरतें क्योंकि इस बार के सूर्य ग्रहण को लेकर ज्योतिष वैज्ञानिकों ने तमाम आशंकाएं जताई हैं. ज्योतिषियों के मुताबिक कोरोना-काल में लगने वाला सूर्य ग्रहण भारत समेत दुनिया में महामारी वाला ग्रहण साबित हो सकता है.

देश की राजधानी दिल्ली में सूर्य ग्रहण सुबह 10 बजकर 15 मिनट पर शुरू होगा जो कि 1 बजकर 44 मिनट पर समाप्त् होगा.

रिंग ऑफ फायर की तरह दिखेगा ग्रहण

25 साल बाद ये मौका आया है जबकि वलयाकार यानी अंगूठी के आकार में सूर्यग्रहण दिखाई देगा. तकरीबन 1 मिनट तक सूर्य ग्रहण रिंग ऑफ फायर की तरह दिखाई देगा. राजस्थान, हरियाणा और उत्तराखंड में वलयाकार सूर्यग्रहण दिखाई देगा. बाकी राज्यों में आंशिक सूर्यग्रहण दिखाई देगा. भारत में करीब 6 घंटे तक सूर्यग्रहण रहेगा.

कहां-कहां दिखेगा सूर्य ग्रहण

भारत के अलावा  पाकिस्तान, चीन, सेंट्रल अफ्रीका के देश, कॉन्गो, इथोपिया, नॉर्थ ऑफ ऑस्ट्रेलिया, हिंद महासागर और यूरोप के अलग-अलग देशों में दिखाई देगा.

कहां-कहां देख सकते हैं सूर्य ग्रहण Live

सूर्य ग्रहण को यूट्यूब चैनल Slooh पर लाइव देख सकते हैं. NASA पर भी सूर्य ग्रहण लाइव देख सकते हैं.

सूर्य ग्रहण पर ये गलती न करें

इस बार सूर्य ग्रहण का नज़ारा बेहद अद्भुत है. अंगूठी के आकार में दिखने वाले ग्रहण को देखने के लिए लापरवाही नहीं बरतना चाहिए. वैज्ञानिकों ने खुली आंखों से सूर्य ग्रहण न देखने के लिए आगाह किया है. सूर्य ग्रहण को नग्न आंखों से देखने से बचना चाहिए. इसे सोलर फिल्टर या टेलीस्कोप से ही देखना चाहिए ताकि आंखों की कॉर्निया और रेटिना नष्ट न हो सके. नग्न आंखों से सूर्य ग्रहण को देखने से आंखों की रोशनी  जा सकती है. इसके अलावा गर्भवती महिलाएं खासतौर पर अपना ध्यान रखें और ग्रहण के दौरान भोजन न करें. वहीं ग्रहण के समय केवल छोटे बच्चे, अतिवृद्ध और रोगी व्यक्ति ही सामान्य रूप से भोजन कर सकते हैं लेकिन उनके खाने में तुलसी की पत्तियां जरूर डाल दें.

सूर्य ग्रहण को लेकर लोगों के कई सवाल हैं. कोरोना – काल में सूर्य ग्रहण को कोरोना के काल की तरह देखा जा रहा था लेकिन ज्योतिषियों ने इसे बेहद खतरनाक बताया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here