Afghanistan: बढ़ा तनाव Pakistan के साथ, Afghan Ambassador की बेटी को भी उठा लिया

ये तो होना ही था, तालिबान को पैदा करके अफगानिस्तान का जीना मुहाल करने वाले पाकिस्तान से अफगानिस्तान की दोस्ती अब सीधी दुश्मनी में बदलने वाली है..

0
278
पाकिस्तान अपनी नीच हरकतों पर उतारू हो गया है लेकिन इस बार उसका निशाना भारत नहीं बल्कि अपना दूसरा दक्ष्णि एशियाई पड़ोसी अफगानिस्तान है. अफगानिस्तान पर दबाव बनाने की कोशिश में पाकिस्तान में अफगान राजदूत की बेटी को अगवा कर लिया गया है और अब उसको किया जा रहा है टॉर्चर. दोनों देशों के संबंधों को कहाँ ले जाने वाली है ये स्थिति?

पाकिस्तान जा सकता है हर हद तक

एक तरफ जहां अमेरिकी फौजें अफगानिस्तान छोड़ कर जा रही हैं, ये देश दो शक्तियों के बीच फंस गया लगता है. कमजोर अफगानिस्तान पर कब्जा जमाने के लिए जहां आतंकी शक्ति तालिबान तैयारी कर रहा है वहीं पाकिस्तान भी अफगानिस्तान को अपने शिकंजे में लेने की साजिशें बढ़ा रहा है. तालिबान के माध्यम से देश की सत्ता हासिल करने के लिए पाकिस्तान हर हद तक जाने को तैयार है. और इसका मुजाहिरा मिला है इस घटना में जिसके अंतर्गत पाकिस्तान नें अफगानिस्तान के राजदूत की बेटी को

अस्पताल में भर्ती है बेटी

अफगानिस्तान के पाकिस्तान में राजदूत नजीबुल्लाह अलीखील की बेटी को अगवा करके उसे टॉर्चर दिया गया जो कि अफगान सरकार पर दबाव बनाने के लिए पाक की घिनौती करतूत माना जा रहा है. राजदूत की बेटी को पाकिस्तान के इस्लमाबाद शहर से अगवा किया गया था. टॉर्चर के बाद जब उसे छोड़ा गया तो उसकी हालत काफी बुरी थी जिसके कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

दोनों देशों के बीच बढ़ा तनाव

अमेरिकी सेना की रवानगी के साथ अब अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है. अफगानिस्तान ने पाकिस्तान पर अपने देश में अस्थिरता और हिंसा फैलाने का आरोप लगाया है. और वैसे भी ये सर्वविदित है कि पाकिस्तान के द्वारा बनाई गई आतंकी फ़ौज जिसका नाम तालिबान है – अफगानिस्तान का राज हड़पने के लिए लार टपका रही है. अब पाकिस्तान में अफगान राजदूत नजीबुल्लाह अलीखील की बेटी को इस्लामाबाद से अपहृत कर के यंत्रणा दिए जाने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव और अधिक देखा जा रहा है.

विदेश मंत्रालय ने की जांच की मांग

अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय ने रविवार को बयान जारी करके इस नापाकिस्तानी हरकत की निंदा की. मंत्रालय ने पाकिस्तान सरकार से अपने राजनयिकों और उनके परिजनों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की भी मांग की है. मंत्रालय ने कहा, ‘अफगानिस्तान पाकिस्तान में हुए इस क्रूर अपराध की निंदा करता है और पाकिस्तानी में तैनात सभी अफगानी राजनयिकों, कर्मचारियों और उनके परिवार के लोगों की अंतरराष्ट्र्रीय कानूनों के अंतर्गत सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग करता है.’ मंत्रालय ने ये भी कहा कि ‘हम पाकिस्तान सरकार से जांच के बाद इस कृत्य में शामिल लोगों को सजा देने की मांग भी करते हैं’.

 

वैदिक-विचार: Afghanistan की समस्या पर अमेरिका, भारत और पाकिस्तान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here