काश, तुम पहले मिल जाते !

''तुम अपने इस सवाल का जवाब भी जानती हो, अनु... हम दूर हैं तो क्या हुआ.. दूर हो कर तो भी साथ-साथ ही तो हैं हम..हाँ, लेकिन...''

0
211
अरूंधती ने गैराज़ से कार निकाली. सुबह-सुबह उसका यूँ निकलना मुझे कुछ अटपटा-सा लग रहा था.
लगता है रात भर सोई नही.
मैं भी कहाँ सो पाया था….
प्रेम का मरहम लगाने के स्थान पर उल्टे उसे दुनियादारी का पाठ पढ़ा आया था.
कल रात की सारी घटना ज़ेहन में घूम गई
वो लगातार कहे जा रही थी.आँसू भी लगातार साथ दे रहे थे उसका.
“पीयूष ! तुमने ही कहा था ना प्रेम करो , प्रेम में जीवन है.”
“मैंने किया प्रेम तुमसे…….”
“फिर तुमने कहा तुम मेरे साथ रहो…अनु, मुझे तुम्हारी ज़रूरत है.”
” तुम्हारा साथ ही सब कुछ है मेरे लिये…..मेरी प्यारी अनु !”
मैं रही हूँ पीयूष….”हूँ साथ तुम्हारे अब भी”
अब कह रहे हो “पत्थर बन जाओ…..भीष्म पितामह की तरह.”
“बन गई पीयूष…..हो गई मैं पाषाण आज से…अभी से
न कोई उम्मीद,न कोई अपेक्षा
तो तकलीफ भी नही होगी….है ना !
.जो कहा तुमने सब मान लिया.
पता है दिक्कत क्या है …?
तुम्हारे दिल का रास्ता दिमाग से होकर गुज़रता है.
और मेरा दिल…..वो बस महसूस करता है सोचता नही.
ये दोष जन्मजात है मुझमें….
काश ! तुम दिल से सोच पाते….खैर……
बस एक ही प्रश्न है मेरा तुमसे…”पाषाण तो पहले ही था जीवन मेरा… क्या प्रेम भी पत्थर बना देता है ?
बोलो….चुप क्यूँ हो !”
मैं मौन रहा…कुछ कह न पाया.
वो सही थी अपनी जगह..पर उससे ऐसा कोई वादा नही करना चाहता था जो निभा न पाऊँ मैं.
वो रोती रही…मैं चाहकर भी उसे सांत्वना के दो शब्द कह न पाया. शायद इसी बात की वजह से वो मुझसे दूर जा रही थी. मैं किस मुँह से कहता उससे – रूक जाओ अनु !
वर्तमान में लौटा तो देखा कि अनु से कार स्टार्ट नही हो पा रही.काफी प्रयास के बाद भी नही.
मुझसे रहा न गया…..मैंने जाकर चेक किया और कुछ पल में कार स्टार्ट हो गई.
“कार्बोरेटर में कचरा फंस गया था,अब सब ठीक है अनु.”
अनु ने मेरी तरफ सवाल भरी निगाहों से देखा और कहा…”काश! कुछ वर्ष पूर्व आ जाते मेरे जीवन में तुम, पीयूष” और उसकी आँखें भर आई.
“तब न सही, अब सही अनु, हम साथ तो चल सकते हैं..साथ न रह सके कोई बात नहीं !
अगले जीवन में मेरी एन्ट्री बिल्कुल सही टाईम पर होगी अनु…रूक जाओ प्लीज़…”
“ओ पीयूष….” कह कर अनु गले लग गई.

 

तुम्हारी जीवन-संगिनी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here