माँ पर एक शेर ऐसा भी

इसे पढ़ने से पहले एक सोच लीजियेगा .. अगर आपके दिल को छू ले तो फिर मत कहियेगा !!..

0
194

एक माँ

उबालती रही पत्थर

तमाम रात..

और बच्चे

फरेब खा के

चटाई पे सो गये !!

(अज्ञात) 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here