Breaking News: राहुल गांधी ने की शादी की घोषणा, राखी सावंत बनेंगी गांधी परिवार की नई बहू

पत्रकारों के पूछने पर राहुल ने बताया कि - ये मैं हूँ, ये मेरी वाइफ है और हमारी पार्टी हो रही है..

0
134
ये साल की सबसे बंपर न्यूज़ बताई जा रही है. कुछ लोग तो इसे शताब्दी की सबसे बड़ी खबर बता रहे हैं. बात भी कुछ ऐसी ही है देश के सबसे नामदार कुंवारों की लिस्ट में नंबर वन पर हैं राहुल गाँधी और अब वे अपने इस पद से भी त्यागपत्र देना चाहते हैं अर्थात अब वे राजनीतिक दुनिया से स्वतंत्र हो कर पारिवारिक दुनिया में प्रवेश करना चाहते हैं. और कमाल की बात ये है कि उन्होंने सारी दुनिया की नजरें बचा कर अपनी दुल्हनिया भी ढूंढ निकाली है.

जब देखी वरुण की ‘दुल्हनिया’

पूछने पर पहले तो राहुल गांधी कुछ नहीं बोले किन्तु जोर देने पर उन्होंने शर्माते हुए बताया कि बचपन से ही उनके फेवरिट हीरो वरुण धवन रहे हैं और वे उनकी फिल्मों से बहुत कुछ सीखते हैं. जब से उन्होंने वरुण की दो फ़िल्में – ‘बद्री की दुल्हनिया’ और ‘हम्प्टी की दुल्हनिया’ देखी थी, दिन रात उसी के बारे में सोच रहे थे यानी अपनी दुल्हनिया के बारे में. लेकिन अपनी मम्मी से बेहद डरने वाले राहुल ने चुपके चुपके चोरी चोरी इस काम को अंजाम दे डाला और किसी पत्रकार को कानों कान खबर भी न हो पाई. इस तरह राहुल को राखी मिल गई और अब दोनो ने कभी जुदा न होने की कसमें भी खा ली हैं. कमाल की बात ये है कि राहुल बाबा ने शादी का जो काम पहली बार करने जा रहे हैं, उनकी होने वाली पत्नी रखी सावंत उसे तीसरी बार करने जा रही हैं.

ऐसे मिले दोनों बेकरार दिल

इस प्रश्न पर शर्माते हुए राखी ने बताया कि उन्हें बचपन में ही राहुल गाँधी से प्यार हो गया था किन्तु लोक लाज के कारण वे अपने दिल की बात किसी को कह नहीं पाई. किन्तु जब उनको पहला विवाह हुआ अर्थात टीवी पर जब उन्होंने स्वयंवर किया तो उन्हें समझ में आया कि अच्छा हुआ, उन्होंने जल्दबाज़ी नहीं की. किन्तु कनाडा के दूल्हे के साथ अधिक दिनों तक न रह सकीं राखी और फिर उन्होंने कर लिया दूसरा विवाह. इस बार भी राखी खुश हुईं कि अच्छा हुआ उन्होंने गलती नहीं दुहराई. किन्तु ये शादी भी काम नहीं आई तब ऐसी स्थिति में एक दिन बैठ कर कभी खुशी कभी गम के गाने सुन रहीं थीं कि अचानक आ गया राहुल का कॉल.

इसके आगे राहुल ने बताया

दुनिया से छुपी हुई देश की इस लव स्टोरी नंबर वन का अगला हिस्सा राहुल गाँधी की जुबानी सुनिए. उन्होंने बताया कि एक्चुअली गलती से उनका रांग नंबर राखी को मिल गया और उनको उनको उनसे पहली नज़र में प्यार हो गया. जब रिपोर्टरों ने राहुल से पूछा कि आप तो फ़ोन पर थे फिर आपकी राखी से नज़रें कैसे मिल गईं तब संकोच से पीड़ित राहुल ने बताया कि दरअसल उनको राखी की आवाज़ बहुत अच्छीf लगी तो उन्होंने उनको दिल की आँखों से देखा तो राखी उनको वास्तव में अच्छी लगीं और उन्होंने उस दिन मन ही मन कसम खाई कि यदि विवाह करेंगे तो राखी से वरना आजन्म कुवांरे रहेंगे.

फिर आगे हुआ ये

ये पूछने पर दोनों ने बता दिया कि उसके बाद हम अक्सर फ़ोन पर बात करने लगे और फिर हम डेट भी करने लगे. डेट करने वाले स्थान को लेकर उन्होंने बताया कि शुरुआत में दिल्ली से बाहर नाला सुपारा और डोम्बीवली जैसे क्षेत्रों में डेट करना सुरक्षित था. परंतु जब एक बार किसी को शक हो गया कि इन दोनों को कहीं देखा है तब उसके बाद से देश के बाहर डेटिंग शुरू करनी पड़ी. राहुल और राखी अपनी अपनी माताओं को बिना बताये देश के बाहर डेटिंग के लिए जाने लगे और आखिर एक दिन राखी ने राहुल से कह ही दी वो बात जिसकी राहुल को सपने में भी उम्मीद नहीं थी. राखी ने राहुल से कह दिया – ‘मुझे घर कब ले जाओगे?’.लेकिन ये बात सुन कर राहुल ने किसी तरह अपनी हौसले बुलन्द किये और चूँकि राहुल के दिल में कोई मेल नहीं था इसलिए उन्होंने उसी दिन राखी को जुबान दे दी कि कल पहला काम मैं यही करूंगा. अपनी जुबान के पक्के राहुल अगले ही दिन राखी को लेकर सोनिया गांधी के घर गए और राखी से कहा – अपनी मम्मी के पैर छुओ!

दिग्गी राजा ने की मदद

लेकिन कहानी में ट्विस्ट आ गया. राहुल की जिद और संस्कारी बहू देख कर सोनिया ने भी न नहीं कह पाईं और चट मंगनी पट ब्याह की तारीख भी तय हो गई थी. किन्तु दूसरी तरफ पेंच फंस गया. राखी की मां अड़ गई और उन्होंने कहा कि जब तक लड़का बेरोजगार है, वे अपनी बेटी उसे नहीं देंगी. उनका कहना था कि राहुल न पीएम बन पाया न ही अब कांग्रेस का अध्यक्ष है. वो अगर कहीं का सीएम भी होता तो वे एक बार सोच सकती थीं. सास की इस जिद से परेशान हो कर राहुल ने राखी के समक्ष घर से भागने का प्रस्ताव रखा. राखी इस प्रस्ताव पर विचार कर ही रही थी कि तभी अचानक एक दिन दिग्गी राजा उनको मिल गये. राजनीति से बाहर होने के बाद आजकल वे ज्योतिष सीख रहे हैं और उसी में अपना करियर बनाना चाहते हैं. दिग्गी ने उनकी कुंडली देख कर बताया कि आप दोनो का तो गन्धर्व विवाह का योग है.

होगी कोर्ट मैरिज

दिग्गी महाराज की बात दोनो को समझ आ गई कि अब उनकी कोर्ट मैरिज ही हो सकती है. फिर क्या था तुरंत दिग्गी को घर बुला कर कोर्ट मैरिज की डेट भी तय कर ली गई है. एक अप्रेल के दिन दोपहर में बारह बज कर बारह मिनट पर दोनों एक दूसरे के हो जाएंगे. दोनो एकदूजे को अंग्रेजी के R अल्फाबेट का लॉकेट पहनाने के बाद कोर्ट से मैरिज सर्टीफिकेट लेंगे और उसके बाद ही इस विवाह से पर्दा उठाया जायेगा. हालांकि इस विवाह को गोपनीय रखने की सारी तैयारियाँ कर ली गई हैं किन्तु न्यूज़ इन्डिया ग्लोबल के रिपोर्टर चप्पे -चप्पे पर तैनात हैं. इसलिये कोई कुछ भी कर ले, हमें शादी की लाइव जानकारी अपने पाठकों के सामने पेश करने से कोई नहीं रोक सकता.

 

======================================================

                                  वैधानिक चेतावनी

ये समाचार पूरी तरह से मनगढ़ंत है और यह होली के अवसर पर हमारे संवाददाता ने भांग खाकर लिखा है. ये समाचार पिछली रात उनको आये एक स्वप्न पर आधारित है. इसका किसी से भी कोई लेना देना नहीं है. यदि इस समाचार से किसी की धार्मिक, राजनीतिक, सामाजिक या आर्थिक भावनाओं को आघात पहुँचता है तो यह महज एक संयोग होगा और इसका जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ होली का त्यौहार होगा. बुरा न मानो होली है..

========================================================

बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है  

========================================================

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here