81 साल का बूढ़ा या 32 साल का नौजवान, देख कर हवाई अड्डा भी रह गया हैरान!

आईजीआई एयरपोर्ट की सिक्युरिटी में लगी सीआईएसएफ ने एक 32 साल के युवक को गिरफ्तार किया है. ये गिरफ्तारी बेहद चौंकाऊ इसलिए है क्योंकि ये युवक 81 साल के बुजुर्ग के गेटअप में था

0
477
Courtesy-Tweeter

80 के दशक में दूरदर्शन पर एक टीवी विज्ञापन  खासा चर्चित था. वो तकरीबन सबको याद हो चुका था. उस विज्ञापन के बोल थे- ‘साठ साल के बूढ़े या साठ साल के जवान? अब 81 साल के एक बूढ़े को गिरफ्तार कर पूछा गया कि 81 साल का बूढ़ा या 32 साल का जवान?

दरअसल, ये अजीबोगरीब वाकया देश की राजधानी दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे(आईजीआई) पर घटित हुआ. आईजीआई एयरपोर्ट की सिक्युरिटी में लगी सीआईएसएफ ने एक 32 साल के युवक को गिरफ्तार किया है. ये गिरफ्तारी बेहद चौंकाऊ इसलिए है क्योंकि ये युवक 81 साल के बुजुर्ग के गेटअप में था और दिल्ली से बस उड़न छू होने वाला था. लेकिन ऐन मौके पर लोगों को गच्चा देने वाला ये युवक सीआईएसएफ के हत्थे चढ़ गया. पूछताछ में हैरान करने वाली बातें सामने आई हैं. दरअसल ये युवक एक 81 साल के बुजुर्ग के पासपोर्ट पर अमेरिका जाने की फिराक़ में था.

युवक ने न सिर्फ बुजुर्ग के गेटअप का बारीकी से इस्तेमाल किया बल्कि अपने किरदार में जान डालने के लिए व्हील चेयर का इस्तेमाल भी किया. युवक ने 81 साल के बुजुर्ग जैसा हुलिया हूबहू बनाया. अपने बाल और दाढ़ी के सफेद कर डाला.). इतना ही नहीं उसने बुजुर्गों की तरह ही कपड़े और चश्मा भी लगा लिया.

कैसे खुला ‘राज़ उसके करम का’?

रविवार रात करीब 8 बजे आईजीआई एयरपोर्ट के टर्मनल -3 पर भेस बदलकर पहुंचा. एयरपोर्ट की अथारिटी को गच्चा देने के लिए युवक व्हील चेयर से पहुंचा. ये युवक न्यूयार्क की फ्लाइट पकड़ना चाहता था. रात 10 बजकर 45 मिनट वाली फ्लाइट पकड़ने के लिए जब सुरक्षाकर्मी ने उसे मेटल डिटेक्टर गेट से होकर गुजरने को कहा तो उसने उम्र का हवाला दिया. लेकिन बदले हुए हूलिया के बावजूद बोलने के अंदाज़ में वो लड़खड़ाहट नहीं आई और न ही चेहरे की त्वचा में झुर्रियां दिखाई दीं. असली उम्र पासपोर्ट की उम्र के आड़े आ ही गई.

जब उसका पासपोर्ट चेक किया गया जो सही पाया गया लेकिन चेहरे की त्वचा, आवाज़ और बोलने के अंदाज़ ने सारी कलई खोल दी. बस इसी अजीबोगरीब बात ने युवक का भांडफोड़ दिया. सारी चालाकी धरी की धरी रह गई.

पासपोर्ट में थी नकली पहचान

युवक का असली नाम जयेश पटेल है जो कि अहमदाबाद निवासी है. जयेश की असली उम्र 32 साल है. लेकिन वो जिस 81 साल के बुजुर्ग के पासपोर्ट पर अमेरिका जाने की जुगत में था वो नाम अमरीक सिंह का था जिनका जन्मदिन 1 फरवरी 1938 को आता है. जयेश ने दलाल से वीज़ा लगा पासपोर्ट खरीद कर न्यूयार्क पहुंचने की तैयारी की थी .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here