(Janmashtami 2019)जन्माष्टमी 2019 : आला रे आला….गोविंदा आला…..श्रीकृष्ण की पूजा का शुभ मुहुर्त और प्रसन्न करने का उपाय

(Janmashtami 2019) जन्माष्टमी की पूजा के लिए शुभ मुहुर्त (Muhurt) का खास ख्याल रखें और भगवान कृष्ण को प्रसन्न करने के लिए इन प्रसादों का भोग लगा सकते हैं.

0
411
Courtesy- Amazon
Courtesy- Amazon

श्रीकृष्ण के जन्मदिन इस बार 23 अगस्त और 24 अगस्त को मनाया जाएगा. कान्हा के जन्मदिन को इस बार अष्टमी तिथि और रोहिणी नक्षत्र से युक्त अत्यंत पुण्यकारक जयंती योग में मनाया जा रहा है. वैष्णव संप्रदाय के लोग कृष्णाष्टमी 24 अगस्त दिन शनिवार को उदया तिथि अष्टमी एवं रोहिणी नक्षत्र से युक्त सर्वार्थ अमृत सिद्धियोग में पर्व मनाएंगे.

कृष्णाष्टमी पूजा का शुभ मुहुर्त

कृष्ण जन्माष्टमी पर भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न करने के लिए भक्त पूजा के मुहुर्त, मंत्र और प्रसाद का विशेष ध्यान रखें.कृष्णाष्टमी की पूजा के लिए अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12:04 बजे से 12 :55 बजे तक रहेगा. जबकि जन्माष्टमी निशिथ पूजा का समय  मध्य रात्रि 12:09 बजे से शुरू हो कर 12: 47 बजे तक रहेगा.

भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न करने के लिए लगाएं विशेष भोग

कान्हा को माखन, पंजीरी, लड्डू, इमरती, मोहन भोग, सोहन हलवा, पंचामृत और दही-दूध से बनी चीज़ें बेहद पसंद हैं. ये प्रसाद घर में भी बना सकते हैं या फिर बाज़ार से खरीदा जा सकता है.

पूजा में प्रसाद के लिए सफेद मिठाई, साबुदाने या चावल की खीर बनाकर भोग लगाएं.

खीर में चीनी की जगह मिश्री डालें और तुलसी के पत्ते भी डालें.

भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न करने का महामंत्र

अविस्मृतिः कृष्णपदारविन्दयोः

क्षिणोत्यभद्रणि शमं तनोति च।

सत्वस्य शुद्धिं परमात्मभक्तिं

ज्ञानं च विज्ञानविरागयुक्तम्‌॥

श्रीकृष्ण के चरण कमलों का स्मरण सदा बना रहे तो उसी से पापों का नाश, कल्याण की प्राप्ति, अन्तः करण की शुद्धि, परमात्मा की भक्ति और वैराग्ययुक्त ज्ञान-विज्ञान की प्राप्ति आप ही हो जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here