दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक युवक ने थप्पड़ मार दिया. केजरीवाल दिल्ली के मोती नगर में चुनाव प्रचार कर रहे थे. उसी दौरान एक युवक उनकी गाड़ी पर चढ़ गया और थप्पड़ मार दिया. पुलिस ने युवक को हिरासत में ले लिया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक थप्पड़ मारने वाले युवक का नाम सुरेश है जो कि कैलाश पार्क में स्पेयर पार्ट का काम करता है.

इस घटना के बाद आम आदमी पार्टी ने पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधा है.

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीश सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा है कि क्या पीएम मोदी और अमित शाह अरविंद केजरीवाल की अब हत्या कराना चाहते हैं?

वहीं आम आदमी पार्टी ने ट्वीट कर इसे जनादेश पर हमला बताया है.

आप सांसद संजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा, “दिल्ली के मुख्यमंत्री की सुरक्षा मोदी सरकार के अधीन है लेकिन केजरीवाल का जीवन सबसे असुरक्षित है. बार-बार हमला और फिर पुलिस का रोना क्या साज़िश है इसके पीछे? हिम्मत है तो सामने आकर वार करो दूसरों को हथियार बनाकर नहीं”

हाल ही में आप के बागी नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा था कि केजरीवाल के घर में कुछ नाराज आप विधायकों ने उनकी पिटाई की है जिस वजह से वो आप उम्मीदवारों के नामांकन में दिखाई नहीं दिए. इससे पहले दिल्ली सचिवालय में ही केजरीवाल पर एक शख्स ने मिर्च का पावडर फेंका था. वहीं

साल 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी एक रोड शो के वक्त एक ऑटोचालक ने केजरीवाल को थप्पड़ मार दिया था. उससे पहले 2013 में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक व्यक्ति ने उन पर स्याही फेंक दी थी.

दिल्ली में 12 मई को लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग होगी. दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों के लिए प्रचार में उतरे केजरीवाल रोड शो कर रहे थे.

सियासी गलियारों में एक सवाल ये भी गूंज रहा है कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सियासी दुश्मन क्या सिर्फ बीजेपी है?  कांग्रेस के साथ भी तो आप का गठबंधन नहीं हो सका.

बहरहाल, दिल्ली पुलिस ये भी कह रही है कि थप्पड़ मारने वाला शख्स आप समर्थक है और केजरीवाल से नाराज भी था. लेकिन सवाल दिल्ली पुलिस से ये भी है कि दिल्ली की सड़क पर एक दिल्ली के मुख्यमंत्री पर हाथ उठाने, स्याही फेंकने और मिर्च पावडर फेंकने का साहस एक आम आदमी कैसे जुटा पा रहा है? ऐसी वारदात पूर्व के मुख्यमंत्रियों के साथ तो कभी नहीं हुई?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here