लद्दाख के ‘लाल’ के क्यों मुरीद हुए मोदी-शाह, ज़रा आप भी सुनें संसद का सबसे ज़बर्दस्त भाषण

लद्दाख की बर्फीली वादियों से एक सपूत ऐसा भी संसद पहुंचा जिसके भाषण ने विपक्ष की बोलती बंद कर दी.

0
1103
Courtesy-Lok sabha TV

कश्मीर के भारत में पूर्ण विलय के साथ ही पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने न सिर्फ ऐतिहासिक गलती में बड़ा सुधार किया बल्कि इस साहसिक फैसले से इतिहास रच दिया. चूंकि संवैधानिक तरीके से और संसदीय नियमों के पालन के साथ आर्टिकल 370 को अलविदा किया गया तो इस पर संसद में बहस भी छिड़ी. लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर चर्चा हुई. इस दौरान कांग्रेस अपने नेता अधीर रंजन चौधरी के बेतुके बयान की वजह से घिर गई तो वहीं लद्दाख की बर्फीली वादियों से एक सपूत ऐसा भी संसद पहुंचा जिसके भाषण ने विपक्ष की बोलती बंद कर दी. इस युवा सांसद के हिंदी में धाराप्रवाह भाषण से संसद में तालियां गूंजती रहीं तो बाद में खुद पीएम मोदी ने ट्वीट कर भाषण का पूरा वीडियो देखने का आग्रह किया.

लद्दाख के इस लाल का नाम है जामयांग शेरिंग जो कि इस बार लद्दाख से बीजेपी के सांसद चुने गए हैं. उन्होंने लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने के लिए पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह का शुक्रिया किया. इस दौरान उन्होंने जम्मू-कश्मीर में धारा 370 का डर दिखा कर राजनीति करने वाले दो परिवारों पर जमकर निशाना साधा तो जम्मू-कश्मीर के खराब हालात के लिए कांग्रेस और पूर्व पीएम पंडित नेहरू की गलतियों को जिम्मेदार ठहराया.

जामायंग शेरिंग ने सबसे पहले उन लोगों पर सवाल उठाए जो कि संसद में करगिल और लद्दाख पर बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस-पीडीपी-नेशनल कॉन्फ्रेंस ने पिछले सात दशकों यानी 70 साल में आजतक लद्दाख को अपनाया नहीं और अब किताबें पढ़कर लद्दाख की बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अतीत में जो गलती तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने की उसका आज सुधार हो रहा है. शेरिंग ने कहा कि अनुच्छेद 370 की वजह से हमारा विकास नहीं हुआ और इसके लिए कांग्रेस पार्टी जिम्मेदार है. उन्होंने ये भी कहा कि वो शुरुआत से ही ये मांग करते आए कि कश्मीर के साथ उन्हें नहीं रखा जाए. उन्होंने कहा कि हम शुरू से ही हिंदुस्तान का अटूट अंग बनना चाहते थे.

जामयांग शेरिंग के भाषण पर संसद में लगातार तालियां बज रही थीं तो जब वो पीडीपी-नेशनल कॉन्फ्रेंस पर निशाना साधते तो सदन में शेम-शेम भी गूंजता. लोगों ने इस युवा तुर्क का हौसला बढ़ाया और सदन में सभी वरिष्ठ सांसद शेरिंग की डेरिंग देखकर हैरान थे.

बीजेपी सांसद जामयांग शेरिंग ने कहा कि नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद कह रहे थे कि आर्टिकल 370 हटने से बहुत कुछ खो देंगे, मैं उनकी बात मानता हूं कि इससे एक चीज जरूर खो देंगे. वो है दो परिवारों की रोजी रोटी, जो अबतक कश्मीर पर राज कर रहे थे. उन्होंने कहा कि वो ही दो परिवार कश्मीर की दिक्कत का हिस्सा हैं जो आज भी नशे में हैं और समझते हैं कि कश्मीर उनके बाप की जागीर है.

उन्होंने पूर्व की यूपीए सरकार पर हमला करते हुए कहा कि आपकी सरकार लद्दाख के नाम पर पैसा ले जाती थी और वो पैसा कश्मीर में उड़ा दिया जाता था. धारा 144 के तहत करगिल बंद के आरोप पर उन्होंने कहा कि आज करगिल बंद नहीं है, ये लोग सिर्फ एक सड़क को करगिल समझते हैं. बीजेपी सांसद जामयांग शेरिंग के भाषण ने आर्टिकल 370 पर विपक्षी आरोपों की धज्जियां उड़ा कर रख दी. अपने अलग ही अंदाज़ में शेरिंग सबका दिल जीतने वाले युवा सांसद बने जिनके भाषण पर खुद गृह मंत्री अमित शाह भी तालियां पीटते रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here