दिल्ली में लोकसभा की 7 सीटें हैं. 12 मई को यहां वोटिंग होगी. उससे पहले बीजेको हराने के लिए कांग्रेस और आम आदमी पार्टी आपस में ही उलझी हुई हैं. जहां कांग्रेस के भीतर शीला दीक्षित की तरफ से आप से गठबंधन को लेकर विरोध की तोपें दागी जा रही हैं तो दूसरी तरफ अरविंद केजरीवाल भी कांग्रेस के साथ गठबंधन का खेल तरसा-तरसा कर खेल रहे हैं.

अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करके कहा है कि ‘कांग्रेस दिल्ली दिल्ली में आम आदमी पार्टी (Aam Adami Party) के साथ गठबंधन के लिए तैयार हैं और दिल्ली की 4 सीटें देने को तैयार हैं. लेकिन केजरीवाल ने फिर यू टर्न ले लिया. हमारे दरवाजे अब भी खुले हैं, लेकिन समय बीतता जा रहा है.’

उधर अरविंद केजरीवाल  ने तुरंत ही ट्विटर पर जवाब देकर पूछा कि कौन सा यू टर्न? अभी तो बातचीत चल रही थी. आपका ट्वीट दिखाता है कि गठबंधन आपकी इच्छा नहीं मात्र दिखावा है. मुझे दुःख है आप बयान बाज़ी कर रहे हैं. आज देश को मोदी-शाह के ख़तरे से बचाना अहम है. दुर्भाग्य कि आप UP और अन्य राज्यों में भी मोदी विरोधी वोट बांट कर मोदी जी की मदद कर रहे हैं.’

आप और कांग्रेस के बीच ट्वीटर पर बातचीत जारी है लेकिन सीटों के लेकर आम सहमति का ऐलान नहीं हो सका है. इससे पहले दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने पार्टी आलाकमान को साफ-साफ कहा था कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी से गठबंधन का कांग्रेस को सीधा नुकसान होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here