Courtesy-twitter
Courtesy-twitter

विवादित बयानों की वजह से सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह अपने नए बयान की वजह से फंस गए हैं. गिरिराज सिंह को चुनाव आयोग ने नोटिस भेजा है. चुनाव आयोग ने गिरिराज सिंह को ‘वंदे मातरम’ वाले बयान के लिए नोटिस भेजा है.

दरअसल, गिरिराज सिंह बेगूसराय से चुनाव लड़ रहे हैं. उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में मुस्लिम समुदाय के लोगों को चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर कब्र के लिए तीन हाथ जगह चाहिए तो इस देश में वंदेमातरम गाना होगा और भारत माता की जय कहना होगा. गिरिराज सिंह के इसी बयान की वजह से बवाल हो गया. चुनाव आयोग ने गिरिराज सिंह को 24 घंटों में जवाब देने को कहा है.

बेगूसराय में 29 अप्रैल के दिन वोटिंग हुई. वोटिंग का प्रतिशत शाम 4 बजे तक सबसे ज्यादा 50 फीसदी रहा. लेकिन इस निर्णायक दिन से पहले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के तेवरों में वहीं तल्खी और बयानों में वहीं सांप्रदायिकता नजर आने लगी. उन्होंने मुस्लिम समुदाय को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कब्र के लिए तीन हाथ जगह चाहिए तो इस देश में वंदेमातरम गाना होगा और भारत माता की जय कहना होगा. साथ ही ये भी कहा कि ऐसा न करने पर देश तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा.

गिरिराज इतना ही नहीं रुके. वो विवादित बयानों का पुराना फॉर्म हासिल कर चुके थे. उन्होंने कहा कि कुछ लोग बिहार की धरती को रक्तरंजित करना चाहते हैं लेकिन BJP के होते हुए ऐसा न तो बिहार और न बेगूसराय की धरती पर ऐसा होने देंगे.

गिरिराज सिंह कई दफे अपने विवादित और सांप्रदायिक बयानों की वजह से सुर्खियों मे आ चुके हैं. कभी वो वंदेमातरम न कहने वालों को पाकिस्तान जाने की बात कहरते हैं तो कभी भारतीय मुसलमानों के पाकिस्तान से कनेक्शन का आरोप लगाते रहे हैं.

इससे पहले गिरिराज सिंह ने हरे रंग के इस्लामिक झंडे पर बैन लगाने की बात की थी. उन्होंने कहा था कि देश में हरे  झंडे समाज में नफरत फैलाते हैं.

बिहार में साल 2019 के लोकसभा चुनाव में 7 चरणों में वोटिंग हो रही है. 29 अप्रैल को चौथे चरण में बिहार की पांच सीटों – बेगूसराय, दरभंगा, उजियारपुर, समस्तीपु और मुंगेर में मतदान खत्म हुआ.चौथे चरण की पोलिंग के साथ ही बिहार की कुल 40 में 19 सीटों पर वोटिंग हो चुकी है.

चुनाव आयोग ने गिरिराज सिंह को 24 घंटों के भीतर कब्र वाले बयान पर जवाब देने को कहा है. अब भले ही चुनाव आयोग गिरिराज सिंह के बयान से संतुष्ट हों या न हों लेकिन बेगूसराय में अपने बयान से गिरिराज सिंह ध्रुवीकरण का काम तो कर ही गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here