सब्जी वाले का बेटा बना जज, अब सब बोलेंगे – यस, योर ऑनर!

0
508

उत्तर प्रदेश में जौनपुर के महाराजगंज के सराय दुर्गादास गांव में जश्न का माहौल है. इसकी बड़ी वजह ये है कि गांव के बेटे ने करिश्मा कर दिखाया. दरअसल गांव के अमित मौर्य ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की पीसीएस-जे-2018 परीक्षा में सफलता का परचम फहराया है. अब अमित मौर्य जज बनेंगे.

ये कामयाबी दरअसल उस कठिन मेहनत और संघर्ष की ज़मीन पर किसी फलदार वृक्ष की तरह दिखाई दे रही है जहा कभी अभाव और आर्थिक परेशानियों के चलते पढ़ाई पूरा करना ही नामुमकिन सा दिखाई देता था. बचपन में अमित अपने पिता की ठेले पर सब्जी बेचने में मदद करते थे.

अमित बताते हैं कि घर के आर्थिक हालात बहुत बुरे थे. अमित के पिता रामचंद्र मौर्य सब्‍जी का ठेला लगाते हैं. अमित पिता के साथ सब्‍जी और साइकिल की दुकान संभालते थे. लेकिन इसके बावजूद उन्होंने पढ़ाई नहीं छोड़ी और न ही पिता ने उनकी पढ़ाई पर ब्रेक लगाया. अमित का संघर्ष गांव से निकल कर बनारस तक पहुंचा. अमित ने बीएचयू में दाखिला लिया और अपने सपनों को लक्ष्य बनाकर उसकी प्राप्ति के लिए घोर साधना की. नतीजतन एलएलबी के बाद उन्होंने एलएलएम किया और अब यूपी की पीसीएस-जे परीक्षा में सफल हुए. अमित ने 457 रैंक हासिल की है.

अमित ने जज बनने को ही अपने जीवन का लक्ष्य बनाया था और कड़ी मेहनत के बाद उसे हासिल करने में सफल भी हुए. अब वो’जज’ बनकर समाज की सेवा करना चाहते हैं. वहीं अमित के पिता आज भी सब्जी का ठेला लगाते हैं. बड़े भाई ऑटो गैराज चलाते हैं तो छोटा भाई साइकिल की दुकान संभालता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here