‘मस्त’ गर्ल का कांग्रेस से इस्तीफा, मुंबई में पार्टी की कलह से नाराज़ हुई

कांग्रेस में शामिल होते समय उर्मिला ने कहा था कि वो ग्लैमर की वजह से नहीं बल्कि विचाराधारा की वजह से कांग्रेस में शामिल हो रही हैं

0
285

छह महीने में ही बॉलीवुड एक्ट्रेस उर्मिला मातोंडकर का कांग्रेस से मोहभंग हो गया. उर्मिला मार्तोंडकर ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया. वो मुंबई में कांग्रेस की गुटबाजी से बेहद खफ़ा हैं. उर्मिला ने कहा कि लोग आपसी लड़ाई के लिए उनका इस्तेमाल कर रहे हैं.

भारी मन से कांग्रेस छोड़ते हुए उर्मिला मातोंडकर ने कहा मेरी राजनीतिक और सामाजिक संवेदनशीलता का एक बड़े लक्ष्य पर काम करने के बजाय मुंबई कांग्रेस में कुछ लोग आपसी लड़ाई के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं.

इसी साल लोकसभा चुनाव से ऐन पहले तत्कालीन मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने उर्मिला को कांग्रेस ज्वाइन कराई थी. उर्मिला को उत्तर मुंबई से कांग्रेस ने टिकट दिया था लेकिन वो बीजेपी उम्मीदवार गोपाल शेट्टी से चुनाव हार गई थीं.

हाल ही में उर्मिला ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने पर भी विवादास्पद बयान दिए थे.

मुंबई में कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले नेताओं में इज़ाफ़ा होता जा रहा है. इससे पहले कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं. ऐसे में ये कयास लगाए जा सकते हैं कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले किसी दूसरी पार्टी से टिकट की उम्मीद में उर्मिला ने ये सियासी दांव खेला है क्योंकि महाराष्ट्र में कांग्रेस की हालत दिन ब दिन खस्ता होती जा रही है.

मजेदार बात ये है कि कांग्रेस में शामिल होते समय उर्मिला ने कहा था कि वो ग्लैमर की वजह से नहीं बल्कि विचाराधारा की वजह से कांग्रेस में शामिल हो रही हैं. ऐसे में सिर्फ छह महीने में कांग्रेस से उनकी विचारधारा अलग होना कई सियासी सवाल खड़े करता है.

मुंबई में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने वालों का ये पुराना इतिहास है जो कि ग्लैमर के चलते राजनीति में एन्ट्री करते हैं और लोकसभा चुनाव में वोटरों को रिझाने का काम करते हैं लेकिन चुनाव हारने या जीतने के बाद पार्टी और वोटरों से दूरी बना लेते हैं. उर्मिला उसी राह चली हैं जिसकी लकीर दूसरे तय कर चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here