क्या वास्तव में कुमारी शैलजा ने बेचा है साढ़े तीन करोड़ रुपये में टिकट?

0
645

आज है 6 नवम्बर, 2018.

राजस्थान में चुनाव होने वाले हैं 11 दिसंबर को. और अभी तक टिकटों की खरीद फरोख्त जारी है – ऐसा हम नहीं आरोप कह रहे हैं.

कांग्रेस के कार्यकर्ता कह रहे हैं कि हमारे साथ धोखा हो रहा है. टिकट बेचे जा रहे हैं और योग्य उम्मीदवारों का नाम सूचि से गायब है. ऐसा ही कुछ कह रहे हैं कुमारी शैलजा पर आरोप लगाने वाले. आरोप ये है कि उन्होंने 3.5 करोड़ रुपए में विधानसभा चुनाव का टिकट बेचा है. देखते ही देखते आरोप वायरल हो गया और राजस्थान में विरोध के स्वर मुखर हो गए. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर पोस्टर लगा दिए हैं.

कांग्रेस ने राजस्थान विधानसभा चुनाव टिकट बंटवारे में स्क्रीनिंग कमेटी की प्रमुख के तौर पर कुमारी शैलजा को नियुक्त किया है. और उन पर ही पर 3.5 करोड़ रुपए में टिकट बेचने का आरोप चस्पा हो गया है. आरोप लगाने वाले भी बाहरी या विरोधी पक्ष के नहीं हैं, आरोप भी कार्यकर्ताओं के माध्यम से ही सामने आया है.

एक पोस्टर के माध्यम से यह बात सामने आई है.यह पोस्टर कांग्रेस मुख्यालय के टॉयलेट में देखा गया. सोमवार को खुली इस पोस्टर की कहानी में में शैलजा पर फलौदी टिकट को 3.5 करोड़ रुपए में बेचने का आरोप लगाया गया है.इस पोस्टर में सिर्फ कुमारी शैलजा का फोटो नहीं है. इसमें एक दूसरी महिला भी साथ में नज़र आ रही है . जैसा कि पोस्टर में दावा किया गया है -इस सीट पर विजयलक्ष्मी विश्नोई ने 3.5 करोड़ रुपए में कांग्रेस का टिकट खरीदा है.

अब अंदरूनी प्रतिक्रिया सामने नहीं आ सकी है. पता नहीं चला है कि कांग्रेस कुमारी शैलजा को राजस्थान स्क्रीनिंग कमेटी का चेयरपर्सन बनाये रखेगी या दबी जुबान से अब खुली मांग का ख़याल रख कर उन्हें हटाएंगी. कांग्रेस हाईकमान ने जून में ही विभिन्न राज्यों में स्क्रीनिंग कमेटियों का गठन किया था और उस समय शैलजा को राजस्थान का चेयरपर्सन बनाया था. राजस्थान स्क्रीनिंग कमेटी में ललितेश त्रिपाठी और शाकिर सनादि को बतौर सदस्य नियुक्त किया गया है.

(पारिजात त्रिपाठी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here