जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) ने गले लगाया दो निलंबित कांग्रेसियों को

0
908

रायपुर. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) अजीत जोगी की पार्टी है. जोगी पुराने कांग्रेसी रहे हैं. उन्हें कोंग्रेसी तौरतरीके अंदर से बाहर तक सब पता हैं. उन्हें पता है कि आयाराम-गयाराम की क्या वैल्यू है. और इस समय छत्तीसगढ़ में डूबते को तिनके का ही सहारा है.

सामने है रमन सिंह की दिग्गज भाजपा. बगल में है अपनी ही पुरानी कांग्रेस जो अब प्रतिद्वंद्वी की भूमिका में है. ये तो तय है कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस से ज्यादा जोगी का गढ़ है. इसलिए कांग्रेस को जितना दर भाजपा से है, उतना ही दर जोगी और जोगी की पार्टी से भी है.

जोगी जी जानते हैं कि कांग्रेस से निकले गए नेता उनके लिए बहुत काम के साबित हो सकते हैं. एक तो सारी राजदारी उधर की इधर खुल सकती है साथ ही जनता में ये सन्देश भी जा रहा है कि छत्तीसगढ़ में जोगी अगर पुराने नायक हैं तो कांग्रेस नई खलनायक है. और एक तथ्य यह भी उतना ही मजबूत है कि उधर से अपमानित लोग इधर आएंगे तो इधर वफादारी पूरी दिखाएँगे. और विभीषण बन कर जोगी को छत्तीसगढ़ की लंका जिताएंगे.

तो जोगी की इस खिचड़ी में खबर ये है कि एक तरफ तो जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के महासचिव अब्दुल हमीद हयात ने जानकारी दी है कि पार्टी ने अभी तक कुल 48 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा की है. और दूसरी तरफ उनकी पार्टी ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के दो निलंबित विधायकों को टिकट दिया है. पार्टी महासचिव अब्दुल हमीद हयात के मुताबिक़ उनकी पार्टी ने विधायक आरके राय को गुंडरदेही विधानसभा सीट से और विधायक सियाराम कौशिक को बिल्हा सीट से टिकट दी है.

एक ज़मीनी सच्चाई यह भी है कि गौर से देखने पर दीखता है कि जोगी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पर भरी पड़ेंगे. छत्तीसगढ़ में जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी से गठबंधन किया है. इस चुनाव में जनता कांग्रेस 55 सीटों पर, बसपा 33 सीटों पर व भाकपा दो सीटों पर चुनाव लड़ने जा रही है.

(पारिजात त्रिपाठी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here