Modi मध्यप्रदेश में 16 से

0
794

आज है 11 नवंबर 2018.

मध्यप्रदेश चुनाव अब राष्ट्रीय चुनाव जैसा नज़र आने वालाा है क्योंकि आने वाले दिनों में प्रधानमन्त्री जी की बड़ी-बड़ी रैलियां होने वाली हैं. इसमें कोई संदेह शिवराज सिंह चौहान की नैया अगर कहीं डगमगाएगी तो पीएम मोदी की प्रचारात्मक उपस्थिति उनके बहुत काम आएगी.

छत्तीसगढ़ में तो प्रधानमंत्री एक दिन के लिए रुके लेकिन मध्यप्रदेश को उन्होंने गंभीरता से लिया है और यहां वे अपनी सम्पूर्ण शक्ति लगाएंगे. छत्तीसगढ़ तो एक तरह से भाजपा के ही हाथ में है, मध्यप्रदेश में हालात बहुत अच्छे नहीं थे जो अब प्रधानमंत्री की वजह से कुछ सम्हल जाएंगे.

मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री पांच दिन प्रचार करेंगे. जानकारी के अनुसार इन पांच दिनों में उनकी दस रैलियाँ हो सकती हैं. और यही दस रैलियां कम से कम सौ से अधिक विधान सभाओं पर अपना प्रभाव छोड़ेंगी और प्रदेश के वोटरों को भाजपा के पक्ष में वोट करने की प्रेरणा देने का प्रयास उनका रहेगा.

16 नवंबर से प्रधानमंत्री अटल जी के नगर ग्वालियर से अपने प्रचार अभियान की प्रारम्भि करेंगे. वहां से शहडोल हो कर कमलनाथ की नगरी छिंदवाड़ा होते हुए ताई के इंदौर और रीवा, मंदसौर तथा जबलपुर सहित प्रदेश के दस बड़े नगरों में अपनी वाक-चातुर्य का जादू दिखाएँगे.

प्रधानमन्त्री से पूर्व ही पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी प्रचार के लिए मध्यप्रदेश पहुँच जाएंगे. प्रदेश में उनका प्रचार अभियान एक सप्ताह चलेगा और 14 नवम्बर से 21 नवंबर तक वे यहां विधानसभा चुनावों के लिए जनता के हृदय में भाजपा का कमल खिलाएंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मध्यप्रदेश में प्रचार अभियान का कार्यक्रम इस तरह निर्धारित किया गया है:

16 नवंबर – ग्वालियर और शहडोल में रैली

18 नवंबर – छिंदवाड़ा और इंदौर

20 नवंबर – झाबुआ और रीवा में सभा

23 नवंबर – मंदसौर और छतरपुर में रैली

25 नवंबर – विदिशा और जबलपुर में सभा

(पारिजात त्रिपाठी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here