PM Modi in West Bengal: ममता के गढ़ में गरजे मोदी, 10 साल में बंगाल को मिली सिर्फ निर्ममता, जानें भाषण की 10 बड़ी बातें

0
304
Courtesy- ANI

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज पश्चिम बंगाल दौरे पर हैं. इस दौरान हल्दिया में जनसभा को संबोधित करने के दौरान पीएम मोदी ने राज्य की ममता सरकार पर जमकर हमले किए. पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल की जनता ममता की आस में जी रही थी लेकिन 10 साल में सिर्फ निर्ममता ही मिली. राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर ज़ोरदार हमला करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ममता दीदी ने परिवर्तन का वादा नहीं निभाया और राज्य में विकास नहीं हुआ.

 पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें :

1-मां, माटी मानुष की बात करने वालों में आज भारत माता के लिए आवाज बुलंद करने का साहस नहीं है. साहस इसलिए नहीं है क्योंकि, इतने सालों में इन लोगों ने राजनीति का अपराधिकरण किया है. करप्शन को संस्थागत रूप दिया है और प्रशासन और पुलिस का राजनीतिकरण किया है.

2-बंगाल में आप दीदी से अपने अधिकार की बात पूछ देंगे तो वो नाराज हो जाती हैं. यहां तक कि भारत माता की जय के नारे लगा दो, तो भी वो नाराज हो जाती हैं. लेकिन देश के खिलाफ बोलने वाले कितना भी जहर उगल दें, दीदी को गुस्सा नहीं आता.

3-बंगाल फुटबाल से प्यार करने वाला राज्य है. फुटबाल की भाषा में कहना चाहता हूं, TMC ने एक बाद एक कई फाउल कर लिए हैं. Misgovernance का फाउल. विरोधियों पर हमले और हिंसा का फाउल. बंगाल के लोगों का पैसा लूटने का फाउल. आस्था पर हो रहे हमलों का फाउल.

4-7वां वेतन आयोग भी देश के कितने ही राज्यों में लागू हो चुका है, लेकिन पश्चिम बंगाल में ये अभी तक लागू नहीं हो पाया है.

5-किसानों के पास सीधे पैसे जाएं, इससे यहां की सरकार को कितनी दिक्कत है, ये सिर्फ एक आंकड़े से समझ आता है. बंगाल के लाखों किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ मिल सकता है. अब जब पश्चिम बंगाल के किसानों ने ममता दीदी को सबक सिखाने का मन बना लिया है, तो सिर्फ कहने के लिए कुछ दिन पहले राज्य सरकार ने बेमन से इस योजना से जुड़ने की सहमति दे दी है.

6- मैं बंगाल के किसानों को वादा करता हूं कि देश के और किसानों को जो लाभ मिला है और आपको जिस लाभ से वंचित रखा गया है, वो पुराने पैसे भी भारत सरकार बंगाल के किसानों को देगी.

7- राज्य सरकार द्वारा खड़ी की गई तमाम अड़चनों के बावजूद, केंद्र सरकार बंगाल के लोगों के विकास के लिए पूरा प्रयास कर रही है. हाईवे, फ्लाइओवर, रेल नेटवर्क, एयरपोर्ट, पोर्ट, जलमार्ग, इंटरनेट की सुविधा हो, इन सभी पर केंद्र सरकार एक बड़ी राशि खर्च कर रही है.

8- पश्चिम बंगाल का विकास तेज गति से करने के लिए यहां भी डबल इंजन की सरकार आवश्यक है. करप्शन और टोलाबाज़ी तब हटेगी, जब यहां ‘आसोल पोरिबोर्तोन’ आएगा, जब यहां भाजपा की सरकार बनेगी.

9- ये पॉरिबॉर्तन क्या होता है, ये पड़ोस में त्रिपुरा में हम अनुभव कर रहे हैं. वहां भी पश्चिम बंगाल की ही तरह सालों तक लेफ्ट के शासन ने बर्बादी फैलाई. त्रिपुरा के लोगों ने लेफ्ट को हटाकर भाजपा पर भरोसा किया.

10- ये वो सरकार है जो आपदा में भी भ्रष्टाचार के अवसर खोज लेती है. इससे बड़ा अपराध और क्या हो सकता है? इतना बड़ा चक्रवात आया, इतना कुछ तबाह हो गया. लोगों की मदद के लिए केंद्र सरकार ने जो पैसे भेजे उसका इन लोगों ने क्या किया, ये पश्चिम बंगाल के लोग भली-भांति जानते हैं. अनेकों ऐसे हैं जिन्हें देश के लोगों ने दशकों तक सेवा का मौका दिया, वो भी या तो चुप हैं या इन षड्यंत्रों का समर्थन कर रहे हैं. लेकिन इस षड्यंत्रकारियों से मैं कहना चाहता हूं कि देश इन षडयंत्रों का पूरी ताकत से जवाब देगा. लेकिन क्या आपने भारत के खिलाफ इस षड्यंत्रों और साजिशों पर दीदी के मुंह से एक भी वाक्य सुना है क्या? लेकिन बंगाल तृणमूल से ये पूछना चाहता है- जिन पुलिस वालों ने नंदीग्राम में गोलियां चलाई थीं, जिन्होंने गरीबों का खून बहाया, आप उन्हीं को पार्टी में क्यों शामिल कर रहे हैं? बंगाल पूछना चाहता है- क्या बंगाल का गरीब क्या केवल वोट लेने के लिए ही है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here