सांस्कृतिक कुंभ – कला उत्सव : दिवस-21 : 7 फरवरी 2019

0
629

प्रयागराज कुम्भ 2019 आज वैश्विक परिदृश्य पर भारत की धार्मिक संस्कृति का शंखनाद है. आस्था और धर्म के केंद्र बिंदु की आदर्श भूमिका में प्रयागराज शहर भारत के गौरव का सिरमौर है और कुम्भ मेले में देश-विदेश से आये आगंतुकों के आतिथ्य के लिये सदा ही सराहनीय रहेगा..

साथ ही उत्तरप्रदेश संस्कृति विभाग ने सांस्कृतिक गतिविधियों को कुंभ परिसर सहित प्रयागराज शहर में जो मंच प्रदान किये हैं, वे इस धार्मिक समागम की सांस्कृतिक सुन्दरता में चार चाँद लगा रहे हैं.  कुम्भ परिसर के अंतर्गत इन पांचों मंचों पर प्रति दिन सांस्कृतिक गतिविधियां अबाधित रूप से चल रही हैं.    

आज सेक्टर 1 स्थित गंगा मंच पर मुंबई के कलाकार समीर अन्जान का एक विशेष कार्यक्रम – ‘कुम्भ का सफरनामा’ की प्रस्तुति हुई जो दर्शकों में काफी चर्चित रही.  

सेक्टर ४ के अक्षयवट मंच पर आज उड़ीसा के दशभुजा गोटिपुआ नृत्यदल के द्वारा गोटिपुआ लोक -नृत्य की प्रस्तुति दी गई.  लखनऊ की सुनीता झींगरन ने उपशास्त्रीय गायन प्रस्तुत किया. फिर इस मंच पर मंचित हुई नेपाल की रामलीला जिसे दर्शकों के लिए कुम्भ के अवसर पर नेपाल से विशेष रूप से लेकर आये हैं जनकपुर धाम रामलीला समिति के कलाकार. 

सेक्टर 6 के भारद्वाज मंच पर आज असम  के उत्पल ज्योति बोरा का बिहू लोक-नृत्य देखा गया. इस लोकनृत्य के उपरान्त लखनऊ के इलियास खां का सुगम संगीत पर आधारित कार्यक्रम देखा गया. उनके बाद उन्नाव के इब्राहिम ताल वाद्य कचहरी की प्रस्तुति दी. ताल वाद्य कचहरी के बाद दिल्ली की नीलाक्षी राय कुम्भ पर आधारित कत्थक बैले प्रस्तुत किया जिसका दर्शकों ने तालियों से स्वागत किया.   

सेक्टर 17 के यमुना मंच पर आज लखनऊ के मुहम्मद रफ़ी का शहनाई वादन हुआ. झारखंड के सृष्टिधर महतो ने छाऊ लोकनृत्य प्रस्तुत किया और उनके उपरान्त सागर के कलाकार दीपेश पांडेय का बधाई नौरता मंचित हुआ.  बधाई नौरता के उपरान्त गोरखपुर की इंदु गुप्ता ने भोजपुरी लोकगायन प्रस्तुत किया . इस लोकगायन के पश्चात कानपुर की मधु अग्रवाल की नौटंकी का मंचन हुआ जिसने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया. 

 सेक्टर 13 के सरस्वती मंच पर दिल्ली के राजेश जैन चेतन के संयोजन में कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ जिसमें दिल्ली के ही राशिक गुप्ता, दिल्ली के बलजीत कौर, दिल्ली के ही अरुण जैमिनी, राजस्थान के बलबीर करुण, हरियाणा के डॉक्टर दिनेश रघुवंशी, लखनऊ के मंजुल मंजर लखनवी, लखनऊ के ही प्रमोद द्विवेदी, उत्तरप्रदेश के सुमनेश सुमन,  उत्तरप्रदेश के ही कारका मिश्रा, नागपुर की दीप्ति कुशवाहा ने कवितायें सुना कर श्रोताओं की जमकर वाहवाही लूटी.

कुम्भ परिसर के मन्चों की भाँति प्रयागराज के सांस्कृतिक मन्चों पर सांस्कृतिक गतिविधियाँ लगातार जारी है.किला चौराहा कला-मंच, अक्षयवट मंच के निकट स्थित कला-मंच और  भारद्वाज मंच के निकट स्थित कला-मंच पर आज उत्तराखंड के कलाकार रोहित यादव ने लोक नृत्य प्रस्तुत किया. इनके बाद उत्तराखंड के ही भाव राग थाल नाट्य अकादमी द्वारा दी गई लोक नृत्य की प्रस्तुति ने दर्शकों का दिल जीत लिया. 

केपी इंटर कॉलेज कला-मंच, लेप्रोसी मिशन चौराहा कला-मंच और हाथी पार्क कला-मंच पर आज मध्यप्रदेश के राम कुमार यादव ने अहिरी लोक नृत्य पेश किया. इनके बाद लखनऊ के सत्यदेव कुशवाहा ने बुंदेली लोकगीतों से दर्शकों की वाहवाही लूटी.  

संस्कृति ग्राम चौराहा कला-मंच, अरैल सेक्टर 19 कला-मंच और वल्लभाचार्य मोड़  कला-मंच पर आज प्रयागराज के राजनारायण पटेल ने निर्गुण भजन प्रस्तुत करके वातावरण को धार्मिक बना दिया. इन भजनों के उपरान्त मध्यप्रदेश के हरिराम विश्वकर्मा ने गेदी लोक नृत्य की प्रस्तुति दे कर दर्शकों की सराहना प्राप्त की.

 बैंक चौराहा कला-मंच, सिविल लाइंस बस स्टॉप कला-मंच और पत्थर वाला चर्च कला-मंच पर आज मध्यप्रदेश के दुर्गेश यदुवंशी ने सेला लोकनृत्य प्रस्तुत किया. इस लोकनृत्य के बाद लखनऊ की शिखा लाल ने अवधी गायन प्रस्तुत करके समा बाँध दिया.   

बालसन चौराहे, इंद्रमूर्ति चौराहे और सुभाष चौराहे के निकट स्थित कला मंचों पर आज  कौशाम्बी के मंतोष कुमार ने नौटंकी का खेल दिखाया. जिनके बाद पिथौरगढ़ के सूरज सिंह ने सुन्दर लोक नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया.    

विश्वविद्यालय तिराहे और राजापुर ट्रैफिक चौराहे के निकट स्थित कला-मंचों पर आज  लखनऊ के जादूगर काशिद अली ने जादू का कार्यक्रम प्रस्तुत किया. जादू के कार्यक्रम के बाद रायबरेली के कलाकार राजकुमार यादव ने आल्हा गायन करके उपस्थित दर्शकों में वीर रस का संचार कर दिया. 

हीरालाल हलवाई कला-मंच, सरस्वती घाट-नैनी ब्रिज कला-मंच और प्रयागराज जंक्शन कला-मंच पर आज मथुरा के ब्रज संस्कृति केंद्र द्वारा नाटक का मंचन किया गया. इस नाटक के बाद बागपत की सोनिया सिंह की जंतर मंतर एन्ड पार्टी ने जादू दिखाकर दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया. प्रयागराज से न्यूज़ इन्डिया ग्लोबल के लिये पारिजात त्रिपाठी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here