Breaking News: ममता बनर्जी ने मान ली हार, बीजेपी में किया टीएमसी का विलय, मिल कर चलायेंगे प्रदेश की सरकार

भारत में बीजेपी की ये ऐतिहासिक जीत है पहली बार बीजेपी ने बिना चुनाव लड़े ही प्रदेश चुनावों में जीत हासिल कर ली है अब पश्चिम बंगाल में मिल कर शासन चलायेंगे मोदी और ममता..

0
132
आज सुबह कलकत्ता से मिले इस समाचार ने राजनीति की दुनिया में हड़कंप मचा दिया है. पहली बार ऐसा हुआ है जो अब तक दुनिया में कभी नहीं हुआ है. भारतीय जनता पार्टी ने अपनी प्रबल प्रतिद्वंद्वी टीमसी चीफ ममता बनर्जी को झुकाने में कामयाबी पाई है. और तो और ममता ने पराजय स्वीकार करके अपनी पार्टी का भारतीय जनता पार्टी में विलय कर दिया है. और अब ममता और मोदी मिल कर बंगाल का शासन सम्हालेंगे.

दोनों नेताओं की हुई आपात बैठक

वरिष्ठ भाजपा नेता और गृहमंत्री अमित शाह ने कल शाम अचानक ममता को एक आपात मीटिंग के लिए आमंत्रित किया था जिस पर काफी सोच विचार करने के बाद ममता ने हामी भर दी. किन्तु ममता ने शर्त रखी कि मीटिंग तो ज़रूर होगी लेकिन अगर जगह आपकी होगी तो वक्त हमारा होगा. शाह ने ममता की शर्त स्वीकार कर ली और आज सुबह दस बजे का समय मीटिंग का तय किया गया.

दिल्ली में हुई ये अहम मीटिंग

दोनों बड़े नेता आज सुबह दिल्ली में मिले. चूंकि मीटिंग का वक्त ममता ने तय किया था इसलिए मीटिंग का स्थान अमित शाह के हिस्से में आया और उन्होंने इस महत्वपूर्ण बैठक के लिए जो स्थान निर्धारित किया वो था दिल्ली का रामलीला मैदान. चूंकि दोनों नेता होली की ड्रेस पहने हुए थे इसलिए स्थानीय लोगों को पता नहीं चल पाया कि मंच पर अमित शाह और ममता बनर्जी बैठे हुए हैं. कैमरों और पत्रकारों के बिना हुई इस सादी मीटिंग के दौरान लकड़ी के एक मचाननूमा मंच पर दोनों नेताओं ने बैठक की और उसके बाद जो हुआ वो इतिहास बन गया है.

ममता ने कहा – जय श्री राम !

अमित शाह की बातों से ममता बनर्जी इतनी प्रभावित हुई कि उन्होंने तुरंत बड़ा फैसला ले लिया जो देश की राजनीति में एक ऐतिहासिक फैसले के तौर पर जाना जाएगा. इस खुशखबरी को सुनाते हुए दीदी अपनी चोट भी भूल गई. ममता ने न केवल खड़े हो कर जय श्री राम का नारा लगाया बल्कि उन्होने तुरंत कलकत्ता फ़ोन करके अपने निजी सचिव को आवश्यक निर्देश भी दे दिए. उसके बाद उन्होंने अपनी पार्टी टीएमसी का भाजपा में विलय करने की बाकायदा घोषणा कर दी.

मांगी माफी मोदी से

ममता बनर्जी की शर्त मानने से पहले अमित शाह ने पीएम मोदी से फोन पर बात की और मोदी की अनुमति प्राप्त करके उन्होंने ममता को हामी भर दी जिसके बाद अब बीजेपी और टीएमसी मिल कर चलाएंगे बंगाल की सरकार और प्रदेश को देंगे एक स्वच्छ विकासवादी सरकार ! ममता ने शाह से बीजेपी और मोदी को बुरा भला बोलने के लिये माफी भी मांगी और इस दौरान दीदी भावुक हो गईं और उनकी आँखों से अश्रुधारा बहने लगी. ये देख कर शाह ने अपना व्यक्तिगत रुमाल निकाल कर दीदी को ऑफर किया और फिर दीदी ने अपने आंसू पोंछे.

 

======================================================

                                  वैधानिक चेतावनी

ये समाचार पूरी तरह से मनगढ़ंत है और यह होली के अवसर पर हमारे संवाददाता ने भांग खाकर लिखा है. ये समाचार पिछली रात उनको आये एक स्वप्न पर आधारित है. इसका किसी से भी कोई लेना देना नहीं है. यदि इस समाचार से किसी की धार्मिक, राजनीतिक, सामाजिक या आर्थिक भावनाओं को आघात पहुँचता है तो यह महज एक संयोग होगा और इसका जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ होली का त्यौहार होगा. बुरा न मानो होली है..

========================================================

बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है बुरा न मानो होली है  

========================================================