Tokyo Olympics 2020: मिलने वाले हैं दो और मेडल भारत को – Sindhu और Lovlina पहुंची सेमीफाइनल में

0
74

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने पहले ही दिन रजत पदक जीत कर धमाका कर दिया था. देश के सवा सौ खिलाड़ियों का सबसे बड़ा जत्था विश्व के दिग्गज खिलाड़ियों से भिड़ने जब वहां पहुंचा था तो भारतीय दर्शक उम्मीद के पुल बनाये जा रहे थे. और फिर भारतीय उम्मीदों को ख़ुशी का स्वाद चखाया मीराबाई चानू ने और उसके बाद खामोशी सी छा गई क्योंकि कई खेलों में भारत ने पराजय का मुँह देखा तो कुछ खेलों में शुरुआती औपचारिक दौर चल रहे थे जिनमे जीतने के बाद भी भारत के लिए आगे कुछ नहीं कहा जा सकता था. लेकिन अब दो खिलाड़ियों ने फिर आज भारत के दर्शकों को मुस्कुराने का कारण दिया है.

सातवें दिन आये दो शुभ समाचार

लगातार छह दिनों तक के सन्नाटे के बाद अचानक भारत ने टोक्यो के ओलंपिक स्टेडियम में उम्मीद की दो रोशनियां जगमाती देखीं. इन दोनों भारतीय आशाओं के नाम हैं – पीवी सिंधु और लवलीना बोरगोहेन. दोनों ने ही अपने सामने क्वार्टर फाइनल के सबसे मुश्किल दौर को पार कर लिया है और अपने दिग्गज प्रतिस्पर्धियों को पराजित कर घर भेज दिया है.

लवलीना ने किया विस्मित

महिला मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन से उम्मीद थी कि वे अपनी कोशिश पूरी करेंगी किन्तु वे सेमीफाइनल तक का सफर पूरा कर लेंगी – इस कारनामे ने देश को ख़ुशी से चौंका दिया. 69 किलो वर्ग के क्वार्टरफाइनल मुकाबले में लवलीना ने चार बार जीती हुई चीनी ताइपे की की मुक्केबाज प्रतिस्पर्धी निएन चिन चेन की खासी पिटाई की और जोरदार तरीके से सेमीफाइनल में अपनी स्थान बना लिया है. इस तरह लवलीना ने बॉक्सिंग में भारत के लिए दूसरा और अपने लिए पहला मेडल पक्का कर दिया है.

फिर सिंधु ने सुनाई खुशखबरी

आला दर्जे की भारती शटलर पीवी सिंधु ने भी अपने स्तर का प्रदर्शन जारी रखा और वर्ल्ड की नंबर चार जापानी शटलर अकाने यामागुची को दो सीधे सेटों में परास्त करके धमाकेदार ढंग से सेमीफाइनल में प्रवेश किया है. अब सिंधु भी भारत के लिए एक और मेडल जीतने से बस एक कदम की दूरी पर खड़ी हैं.

हॉकी के मैदान से भी शुभ समाचार

और ये अच्छी खबर इस तरह है कि पुरुषों की भारतीय हॉकी टीम ने जापान को 5-3 से हरा दिया है और इस तरह क्वार्टर फाइनल में उन्होंने अपना स्थान पक्का कर लिया है. भारतीय हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक के ग्रुप स्टेज में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है जिसे देख कर लगता है कि उसे सेमीफाइनल में पहुँचने में कोई दिक्क्त नहीं होगी और इस तरह भारत को मिलेगा एक और पदक हॉकी के मैदान से.

हराया  मजबूत जापान को

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने जापान को पटखनी दी है और पूल ए के अपने आखिरी मैच में उसको 5-3 से पराजित कर दिया है. भारत की ये चौथी विजय है. इसके पूर्व भारत ने स्पेन, न्यूजीलैंड और अर्जेंटीना को भी परास्त कर के अपनी बढ़त जारी रखी. जिस इकलौते मैच में भारत को पराजय मिली वो ऑस्टेलिया के विरुद्ध था जिसमे ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 1-7 से करारी शिकस्त दी थी किन्तु अब वो पीड़ा समाप्त हो गई है..

 

भारतीयों, तुम पर गर्व है हमें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here