T20 World Cup 2021: क्या इस साल भारत में होने वाले टी20 विश्व कप में पाकिस्तान की टीम होगी शामिल?

बहुत बड़ा सवाल है ये दुनिया के क्रिकेट-प्रेमियों के लिये कि भारत में इस साल जो टी-20 का विस्व कप होने जा रहा है उसमें पाकिस्तान की टीम शामिल होगी या नहीं..इस सवाल का एक नहीं बल्कि इसके चार जवाब हैं..

0
264

भारत में इस साल होने वाला है फटाफट क्रिकेट का वर्ल्ड कप.. भारत की पिचों पर होने वाला यह वर्ल्ड कप अक्टूबर और नवंबर महीने में होना तय है किन्तु क्रिकेट लवर इंडिया में क्रिकेट का ये विश्व कप धमाकेदार हो भी सकता है और नहीं भी. उसका कारण ये है कि इसमें पाकिस्तान शामिल हो भी सकता है और नहीं भी.

पाकिस्तान के बिना विश्वकप अधूरा

भारत और पाकिस्तान के बिना दुनिया का कोई भी क्रिकेट विश्व कप अधूरा है. और जब ये दोनो देश किसी टूर्नामेंट में एक दुसरे के आमने सामने होते हैं तो क्रिकेट की सनसनी अपने पूरे शबाब पर होती है जो किसी और मैच में देखने को नहीं मिलती. इसलिए दुनिया का हर सच्चा क्रिकेटप्रेमी इस बात के लिए दुआ करेगा कि भारत में 18 अक्टूबर से 15 नवंबर चलने वाला T20 विश्वकप पूरा हो अर्थात इसमें पकिस्तान भी मौजूद हो.

क्या पाकिस्तान होगा इस विश्वकप में?

भारत और पाकिस्तान पड़ोसी देश हैं और दोनों ही क्रिकेट के दीवाने देशों के रूप में जाने जाते हैं और ये दोनों ही टीमें जब भी किसी भी टूर्नामेंट में किसी के भी खिलाफ मैदान में होती हैं तो सामने वाली टीम को जीतने के लिए यदि छोटी का जोर लगाना पड़ जाता है. ऐसे में इन दोनों टीमों की अनुपस्थिति में किसी टूर्नामेंट की कल्पना नहीं की जैसे सकती. ऐसे में सवाल ये पैदा होता है कि भारत में होने वाला विश्वकप क्या पाकिस्तान की टीम के बिना खेला जाएगा? इसके जवाब चार हैं:

जवाब नंबर वन: नहीं

भारत ने पाकिस्तान को कई सालों तक अपना मोस्ट फेवर्ड नेशन बनाये रखा किन्तु पाकिस्तान न केवल भारत के खिलाफ हर अंतर्राष्ट्रीय मंच पर आवाज़ उठाता रहा है बल्कि भारत के खिलाफ वह लगातार ट्रांस बॉर्डर टेररिज्म में भी शामिल रहा है. ऐसे में संभावना यही दिखती है कि भारत पूरी कड़ाई से पाकिस्तान का विरोध करेगा और अपने देश में होने वाले टूनामेंट में उनको आमंत्रित नहीं करेगा. वैसे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष वसीम खान ने आईसीसी से मांग की है कि वे इस टूर्नामेन्ट में पाकिस्तान की टीम का होना सुनिश्चित करें और जनवरी 2021 तक इसका उत्तर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की जानकारी में लायें.

जवाब नंबर 2: हाँ

पाकिस्तान का होना किसी भी टूर्नामेंट को एक बड़ा और कड़ा प्रतिस्पर्धी देता है और इसी बहाने दर्शकों का बड़ा हुजूम मैदानों में मौजूद रहता है. भारत भी जानता है कि पाकिस्तान के साथ होने वाला उसका कोई भी मैच दुनिया के दर्शकों के लिए सबसे बड़ा मैच होता है, ऐसे में पाकिस्तान को बाहर रखना अर्थात मैच का रोमांच भी कम करना और मैदान में दर्शकों की संख्या भी सीमित कर देना है. इन दोनों ही कारणों से सम्भव है कि भारत पाकिस्तान को आमंत्रित करे और पाकिस्तान इस टूर्नामेंट में शामिल हो.

जवाब तीन 3: पाकिस्तान कह सकता है – ना

अगर भारत पाकिस्तान को न बुलाये तो हो सकता है विश्व के दूसरे देशों के क्रिकेट बोर्ड भारत को इस बात के लिए मनाएं कि वह पाकिस्तान को बुलाये. हो सकता है भारत भी व्यावसायिक कारणों से पाकिस्तान की टीम ो बुलाये किन्तु ऐसे में एक आशंका ये भी है कि पाकिस्तान कह दे कि हम नहीं आएंगे. क्योंकि सच तो यही है कि पाकिस्तान को भारत ने हमेशा गले लगाना चाहा है किन्तु पाकिस्तान ने ही हमेशा भारत को धोखा दिया है.

जवाब नंबर 4: बदल सकता है वेन्यू

इस विकल्प के लिए भी बराबर की संभावना बनी हुई है कि हो सकता है भारत में पाकिस्तान के मैच न हों, बल्कि भारत से बाहर कहीं और हों. ऐसे में पाकिस्तान की टीम को भी शिकायत नहीं रहेगी और भारत की टीम भी नहीं रहेगी और एक न्यूट्रल देश में दोनों टीमें इस टूर्नामेंट के अपने मैच खेल सकती हैं. अर्थात भारत और पाकिस्तान का मैच तो भारत से बाहर होगा ही, पाकिस्तान की टीम के भी सभी मैच वहां ही होंगे. इस मैच वेन्यू के तौर पर यूएई ने हाँ कर दी है बस भारत, पाकिस्तान और आईसीसी को अंतिम फैसला अभी लेना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here