पूछता है देश: इमरान खान आँखें खोल के कब देखेगा कि मोदी कौन है ?

इमरान खान, भूल जाइए कश्मीर को, सपने में देखो मोदी ने POK छीन लिया -जब तक पाकिस्तान का अंत नहीं होगा, वो चैन से नहीं बैठेगा !
इमरान खान आज का दिन कभी भूल नहीं सकता जैसे हमारे देश के उसके संगी साथी नहीं भूल पाते कि नेहरू की दी हुई 370 मोदी ने ख़तम कर दी – जो महबूबा कहती थी 370 हटाई तो तिरंगा उठाने वाले नहीं मिलेंगे, वो गुलमर्ग में 100 फुट ऊँचा तिरंगा लहराता हुए देखेगी 15 अगस्त को !
 जिस इमरान खान का अपना घर पाकिस्तान की माली हालत ख़राब होने की वजह से किराये पर चढ़ाया जा रहा है, वो कश्मीर के सपने देख रहा है – अरे भाई सपने कश्मीर के मत देखो, सपना देखा करो कि मोदी तुम्हारे हाथ से POK छीन कर ले गया –तुम कुछ नहीं कर सकते केवल आरएसएस और मोदी को गाली दे सकते हो, जो भारत में राहुल गाँधी भी रोज देते हैं !
इमरान खान, तुम्हारा मुल्क केवल आतंकवाद दे सकता, हिन्दुओं का क़त्ल कर सकता है, उन्हें मुसलमान बना सकता है, उनके मंदिर तोड़ कर तहस नहस कर सकता और ये सब करना तो उसकी फितरत है — लेकिन याद रखना — “वक्त ने कभी भी उनको नहीं माफ़ किया, जिन्होंने दुखियों के अश्कों से दिल्लगी की है !”
और इसके लिए अपने मुल्क के पहले के हुक्मरानों को देख लो, क्या हश्र हुआ उनका — मोदी ने आज के दिन 370 हटा कर जम्मू कश्मीर में अमन चैन स्थापित किया है मगर इमरान का पाकिस्तान बस दुनियां में भारत के खिलाफ शोर मचाने के सिवाय कुछ नहीं कर पाता और इस शोर को सुनने वाला कोई नहीं मिलता !
पाकिस्तान जिन्हें अपना समझ कर उनके सामने रोता है, वो भी साथ छोड़ रहे हैं –अमेरिका से हड्डियां मिलनी बंद हो गई – आज फिर इसी उम्मीद में है पाकिस्तान कि तालिबान का साथ देता रहे लेकिन अमेरिका पहले की तरह उसे सांप की तरह दूध पिलाता रहे तालिबान से लड़ने का नाटक करने के लिए -मगर अब ये नहीं होने वाला !
इमरान खान की दूसरी बेगम रेहम खान ने कहा था कि इमरान खान की 5 अवैध औलादें हैं जिनमे कुछ भारत में हैं –ये उसने 2018 में कहा था और बताया था कि सबसे बड़ा बेटा 34 साल का है. ना जाने कब ये भेद भी खुल जाये और इमरान खान कश्मीर के लिए रोता ही रह जाये !
इमरान खान अभी तक अगर नरेंद्र मोदी को समझ नहीं पाया है, तो समझ ले, मोदी कुछ विरोधियों को “कुत्ता” बना कर छोड़ देता –जब तक पाकिस्तान का अंत नहीं होगा, वो चैन से नहीं बैठेगा -POK भारत को देना इमरान खान की किस्मत में है और उसे वापस लेना नरेंद्र मोदी की किस्मत में है!