पूछता है देश : आर्यन खान के बचाव के लिये कैसे खड़ा हो गया बॉलीवुड?

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
शाहरुख़ के बेटे आर्यन खान के लिए तड़पते बॉलीवुड के नौटंकीबाजों को शर्म आनी चाहिए, उसे “बच्चा” कह कर बचाव करते हुए उनकी नौटंकी शर्मनाक है.
सबसे पहले शाहरुख़ के बेटे आर्यन को बच्चा कह कर बचाव किया भांडवुड के सुनील शेट्टी ने -फिर सलमान पहुंच गये शाहरुख के घर आंसू बहाने.
कल ऋतिक रोशन ने “स्टार किड” को शिक्षा दी –‘अजीब सवारी’ है जिंदगी जिसमें अक्सर ऐसे मुश्किल पढ़ाव आते रहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि’गुस्सा, भ्रम और लाचारी’ ऐसी चीजें हैं जो उनके अंदर के ‘हीरो’ को जला सकती हैं लेकिन दया, करुणा औरप्यार जैसी ‘अच्छी चीजें’ उन्हें जिंदा रखेंगी”
उन्होंने आर्यन से कहा कि इन सबसे वो (आर्यन) और बेहतर तरीके से बढ़ेंगे क्यूंकि उन्हें पता चल जायेगा कि क्या रखना है और क्या फेंकना है -ऐसे पल ‘उपहार’ हैं जो उनका ‘कल’ बनाएंगे। उन्होंने कहा कि ‘चमकदार सूरज को देखने के लिए उन्हें अंधेरे से गुजरना होगा’.
क्या बात है, बहुत उत्तम ज्ञान है, वो भी उस “बच्चे” के लिए जो आज उन लोगों के साथ है जिनके बाप उनको बचपन से सिखाते हैं कि – लड़कियों के पीछे भागो, नशा करो और सेक्स करो !
और आज नौटंकी गैंग उसे बच्चा कह कर उसका बचाव करने में लगा है –इन्हे शर्म आनी चाहिए –वो कोई बच्चा नहीं है, वो सबका बाप है.
आर्यन को बचाने वालों की लाइन लगी है, शरद पवार के घरेलू नवाब मलिक समीर वानखेड़े पर फर्जी रेड करने का आरोप लगा रहे हैं –रजा मुराद हमेशा की तरह अपना घिसा पिटा मुस्लिम कार्ड ले कर खड़े हो गये  –रवीना टंडन दौड़ पड़ीं उसकी हिमायत के लिए.
ऐसा लग रहा है जैसे इन बॉलीवुड के सभी महान लोगों की सभी थालियों में छेद हो रहा है जो ये सभी तड़प रहे हैं -इस बार जया बच्चन सामने नहीं आईं तो दूसरे फ़ौजीदार खड़े हो गये हैं — निर्लज्जता छोड़ कर अगर कोई आँखें खोले तो मैं उसके लिये ये संदेश देना चाहता हूं कि 23 साल की उम्र क्या होती है.
 23 साल की उम्र में –
-भगत सिंह देश के लिए फांसी का फंदा चूम गए;
-कपिल देव विश्व कप जीत कर लाये थे;
-सचिन ने 1996 वर्ल्ड कप में सबसे बड़ा स्कोर बनाये थे;
–नीरज चोपड़ा ओलिंपिक में गोल्ड मैडल लाया;
–रवि कुमार दहिया सिल्वर मैडल लाया और;
– लवलीना कांस्य पदक जीती –
–अंशु मलिक (19) ने आज सिल्वर मैडल जीता
और तो और शारीरिक तौर पर विकलांग खिलाडी पैरा ओलिंपिक में मैडल जीत कर लाये –वो हैं –
–निषाद कुमार, 21 वर्ष (सिल्वर);
–अवनि लखेरा, 19 वर्ष (गोल्ड);
–योगेश कथुनिया, 24 वर्ष (सिल्वर);
–सुमित अंतिल, 23 वर्ष (गोल्ड)
–प्रवीण कुमार, 18 वर्ष (सिल्वर);
–मनीष नरवाल, 19 वर्ष (गोल्ड); और
–कृष्णा नागर, 22 वर्ष (गोल्ड)
लेकिन शाहरुख़ खान का होनहार आर्यन खान ही अबोध “बच्चा” है बस उसे माफ़ कर दो. बॉलीवुड के सभी  दलालों का बॉयकॉट हो !

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति