आपकी बड़ी समस्या का रामबाण इलाज – एक बार आजमा के देखिये!!

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
आप ईश्वर के प्रति आस्थावान हों या न हों, इससे ईश्वर को कोई फर्क नहीं पड़ता. फर्क आपको पड़ता है. और ये फर्क इस तरह पड़ता है कि आप परमपिता के प्रति आस्था रख कर प्राप्त होने वाले कुछ अहम वरदानों से वंचित रह जाते हैं. ये वरदान आपको अपने जीवन में कई बार मिलते हैं जो आपकी आस्था से जन्मते हैं किन्तु आपका ध्यान शायद ही जाता हो इस तरफ.

राम नाम में छुपा है ये अद्भुत इलाज

आपकी बड़ी समस्या का रामबाण इलाज छुपा है राम नाम में. आप चाहें तो इस राम नाम के अद्भुत प्रयोग को आजमा सकते हैं और चाहें तो अभी ही नकार भी सकते हैं. किन्तु यदि राम नाम की नाव पर बैठें तो आपकी समस्या ही क्या – आप तो अपने जीवन की नैया भी पार लगा सकते हैं.

राम नाम की लूट है

बचपन से हम सभी सुनते आये हैं कि राम नाम की लूट है लूट सके तो लूट..अंतकाल पछतायेगा जब प्राण जाएंगे छूट. इस बात को हमने जैसे आसानी से सुनते हैं, उतनी ही आसानी से हम इसे भूल भी जाते हैं. लेकिन आज हम आपको बताएँगे कि ये मुफ्त में बंट रही वो खैरात है जो आपक ज़िंदगी भी बदल सकती है. नहीं मानते तो आजमा के देखिये.

करना क्या है?

करना ज्यादा कुछ भी नहीं है. कोई भी एक तारीख तय कर लीजिये. उस तारीख से अगले माह की उसी तारीख तक आपको चलाना है ये प्रयोग. करना बस इतना है कि दिन भर जब भी आपको समय मिले आप राम नाम स्मरण की रेल चलाते रहें मन में. अर्थात दिन भर मन ही मन आप लगातार राम राम बोलते रहें.

ये भी ध्यान रखें

यदि समय मिल जाए और याद आजाये तो एक बार दिन में अवश्य अपनी समस्या को ध्यान में रख कर आपको ईश्वर से प्रार्थना करनी है कि आपको इसका इलाज उपलब्ध करा दें और आपको इस परेशानी से छुटकारा दिला दें. देख लीजिये वो अवश्य सुनेंगे आपकी प्रार्थना क्योंकि आप दिन भर तो उनका नाम ले कर उनको याद करते रहते हैं. कैसे नहीं सुनेंगे वो आपकी प्रार्थना?

समस्या कोई भी हो आपकी

समस्या आपकी कोई भी हो सकती है- रोजी रोटी, नौकरी धंधा, जमीन जायदाद, कोर्ट कचहरी, शादी ब्याह, संतान, पैसा, आदि-आदि. हर समस्या का समाधान राम जी के पास है. कहा जाता है राम जी किसी का ऋण अपने ऊपर नहीं रखते. आपने जो नाम स्मरण महीने भर किया है उसे प्राप्त करके वो आपका काज नहीं करेंगे -ऐसा तो हो नहीं सकता. आप भाग्यशाली हैं जो ये लेख पढ़ रहे हैं -कदाचित इसी लेख के माध्यम से आपका बेड़ापार होना लिखा हो. प्रेम से बोलिये -जय श्री राम !!

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति